वाराणसी शहर रेटिंग

3.3/5
☆☆☆☆☆★★★★★
वाराणसी

बनारस शहर धर्म की नहीं बल्कि आध्यात्मिक नगरी है। यहां मृत्यु का शोक नहीं, जीवन की खुशी नहीं, बल्कि बसती है तो इन दोनों के बीच होने वाला आनंद। यह ढेरो रहस्यों को अपने अंदर समेटे हुए है, यह दिल में तो आता है पर समझ में नहीं आता। यहां पर ज्ञान की गंगा बहती रहती है। चाय चल रही है और पान की गिलौरियां धड़ाधड़ मुंह में गायब हो रही हैं। कहा भी जाता है, ‘बनारस में सब गुरु, केहू नाहीं चेला।’ इसलिए बनारस को कृपया उसकी टूटी सड़कों और गंदी गलियों से न देखें। हल्की फुल्की बातों में भी बनारस जीवन का मर्म बता देता है।

  • जनसंख्या3,676,841
  • क्षेत्रफल1535 वर्ग किलोमीटर
  • पुलिस स्टेशन25
  • साक्षरता75.60%

शहर में बदलाव के महानायक बनिए, यहां सुझाव दीजिए और शहर को जागरूक बनाइए

वीडियो

  • स्वच्छता खातिर लोगों में जागरूकता जरूरी, नियमों का करना होगा पालन

  • पूरे देश में हो एक समान सिलेबस, जमीन से जुड़ी हो शिक्षा व्यवस्था

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK