हल्द्वानी, जेएनएन : कोविड-19 के मरीजों की बढ़ती संख्या को देखते हुए राज्य सरकार की चिंता बढ़ गई है। ऐसे में अस्थायी अस्पतालों को बनाने की प्रक्रिया भी शुरू हो गई है। राजकीय मेडिकल कॉलेज के अधीन स्टेट कैंसर इंस्टीट्यूट वाली जगह पर 500 बेड का प्री फैब्रिकेटेड अस्पताल बनाया जाएगा। शासन स्तर पर हल्द्वानी में 500 बेड का प्री फैब्रिकेटेड अस्पताल बनाए जाने के निर्देश थे। इसके बाद डीएम सविन बंसल ने मेडिकल कॉलेज से संपर्क किया। कॉलेज प्रशासन ने जिला प्रशासन की टीम को स्टेट कैंसर इंस्टीट्यूट के आठ एकड़ जमीन का मुआयना कराया। डीएम ने बताया कि चार एकड़ की जमीन को चिन्हित कर लिया गया है। इसका प्रस्ताव बनाकर शासन को भी भेज दिया गया है। यह भूमि वन विभाग की है, लेकिन आपदा के समय वन मंत्रालय से अनुमति लेने की जरूरत नहीं है। अगर मरीज बढ़ते हैं तो इस अस्पताल से काफी राहत मिल जाएगी।

देहरादून और हल्‍द्वानी में बनना है अस्पताल 

उत्तराखंड सरकार ने कोरोना के खिलाफ लड़ाई में गढ़वाल और कुमाऊं मंडल में 500 बेड के प्री फैब्रीकेटेड अस्पताल बनाने की बात कही थी । मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत ने देहरादून और नैनीताल जिले के जिला अधिकारियों से वार्ता कर उन्हें अस्पताल के लिए जमीन तलाशने के निर्देश दिए थे। गढ़वाल और कुमाऊं मंडल में 500 बेड के प्री फैब्रीकेटेड अस्पताल के लिए पांच एकड़ जमीन देहारादून और हल्द्वानी में तलाशने के लिए कहा गया था। उनहोंने कहा था कि जरूरत पड़ने पर यह अस्पताल कोरोना के मरीजों के लिए रिजर्व होंगे। इसी क्रम में राजकीय मेडिकल कॉलेज के अधीन स्टेट कैंसर इंस्टीट्यूट वाली जगह पर 500 बेड का प्री फैब्रिकेटेड अस्पताल बनाए जाने का निर्णय लिया गया है। 

क्या कहा डीएम और प्राचार्य ने 

डीएम सविन बंसल ने बताया कि कोविड-19 बीमारी को लेकर अनिश्चित है। शासन के निर्देश पर प्री फैब्रिकेटेड अस्पताल बनाए जाने को लेकर जगह चिन्हित कर ली गई है। प्रो. सीपी भैंसोड़ा, प्राचार्य, राजकीय मेडिकल कॉलेज का कहना है कि डीएम के निर्देश पर स्टेट कैंसर इंस्टीट्यूट के चार एकड़ भूमि में 500 बेड का प्री फैब्रिकेटेड अस्पताल बनाया जाना है। हालांकि मेडिकल कॉलेज ने भी टीबी अस्पताल के बगल में 75 बेड का प्री फैब्रिकेटेड अस्पताल बनाने के लिए पहले से ही प्रस्ताव भेजा है।

यह भी पढ़ें

पंतनगर में क्वारंटाइन क‍िया गया अमेठी का युवक हुआ फरार

डीआइजी जगत राम जोशी ने कोरोना से जंग के साथ जवानों का बढ़ाया मनोबल

कर्फ्यू जोन बनभूलपुरा में सड़क किनारे खड़ी कार अचानक धू-धू कर जल उठी

नेता प्रतिपक्ष ने दूसरे राज्यों में फंसे लोगों को प्रदेश सरकार से लाने की मांग की

चावल, आटे के कट्टे पर नहीं दर्ज था एमआरपी, टैग, सात दुकानदारों को नोटिस

Edited By: Skand Shukla