हल्द्वानी, जेएनएन : कोरोना संक्रमण काल में जानलेवा वायरस से जंग के साथ ही कानून एवं व्यवस्था बनाए रखने वाली पुलिस का मनोबल बनाए रखना व बढ़ाना भी जरूरी है। ऐसे में डीआइजी जगत राम जोशी मातहतों से निष्ठापूर्वक व इमानदारी से काम कराने के लिए दिनरात जुटे हुए हैं।

डीआइजी जगत राम जोशी ने बताया कि कोराेना वायरस का देश में संक्रमण फैलते ही पुलिस अलर्ट हो गयी थी। सरकार व मुख्यालय से मिलने वाले आदशों का अफसरों से लेकर जवान तक पालन करवाने के लिए योजनाएं बनायी गयी। लॉक डाउन जारी होने के दिन ही सभी कप्तानों के साथ बैठक कर जवानों व आम लोगों को होन वाली दिक्कतों की संभावनाओं व उनको दूर करने के लिए निर्देशित किया गया। सभी जिलों के कप्तानाें से थानों में रास्तों में फंसे, गरीब व अन्य जरूरतमंदों के खाने की व्यवस्थाएं करा दी गयी। फोर्स का मनोबल रखने के साथ उनसे पूरी कर्तव्यनिष्ठा व इमानदारी से काम कराने के प्रयास लगातार जारी हैं। अफसर से लेकर जवानों का इस विषम समय में मिल रहा सहयोग भी सराहनीय है। हर कोई अपनी समस्याओं को नजरअंदाज कर बखूबी डयूटी का निर्वहन कर रहा है। इसके साथ ही जनहित के भी पुलिस के प्रयास लगातार बढ़ते जा रहे हैं।

जरूरतमंदों को राशन या दवाई पहुंचानी हो या अन्य कोई समस्या, इसके लिए सभी निष्ठापूर्वक जुटे हैं। दिनरात डयूटी कर रहे जवानों को मुख्यालय स्तर से राहत देने के निर्देश मिले हैं। सभी कप्तानों के साथ मिलकर जवानों से निर्धारित डयूटी के साथ ही छुट्टियां देने पर मंथन कर लिया गया है। जल्द ही जवानों को सहूलियत देने वाली व्यवस्थाएं लागू कर दी जाएंगी। डीआइजी ने कहा कि कोरोना के साथ चल रही इस जंग को निर्णायक अंजाम देने तक अफसर से लेकर जवान तक पूर्ण मनाेयोग से जुटे रहेंगे।

यह भी पढ़ें

नेपाली नागरिकों के लिए आगे आए सतपाल महाराज, केन्द्रीय मंत्र से भिजवाने की गुहार

कोरोना संक्रमितों के इलाज के लिए उत्तराखंड हाईकोर्ट ने प्रदेश सरकार के प्रयासों को सराहा

उत्तराखंड में अब तीन जिले रेड जोन, शुरू होने वाले 70 उद्यमों पर लगा ग्रहण

 

Edited By: Skand Shukla