नई दिल्ली (टेक डेस्क)। गूगल ने अपने ऑपरेटिंग सिस्टम एंड्रॉइड के लेटेस्ट वेरिएंट Android 9.0 Pie को गूगल पिक्सल समेत कई लेटेस्ट स्मार्टफोन्स के लिए रोल आउट कर दिया है। एंड्रॉइड के इस वेरिएंट को किन स्मार्टफोन्स के लिए रोल आउट किया गया है, जानने के लिए इस लिंक पर क्लिक करें। Android 9.0 Pie में कुछ बेहतर फीचर्स दिए गए हैं जो इसके पिछले वर्जन से इसे बेहतर बनाते हैं। आइए, जानते हैं इन 11 मुख्य फीचर्स के बारे में

नया लुक

Android 9.0 Pie ऑपरेटिंग सिस्टम के लुक को गूगल ने बदल दिया है। नए लुक में कोई राउंडेड एज नहीं दिया गया है। इसके अलावा नोटिफिकेशन शेड में भी बदलाव किया गया है। इसके साथ ही क्विक सेटिंग्स और नोटिफिकेशन्स साफ-सुथरा है। इसके अलावा हॉट-की को बदल दिया गया है जिससे आप ब्लूटूथ और वाई-फाई के सेटिंग्स को एक्सपेंड कर सकते हैं।

नोटिफिकेशन्स

एंड्रॉइड के इस नए ऑपरेटिंग सिस्टम में कई आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस फीचर्स जोड़े गए हैं। जिनमें से नोटिफिकेशन्स के लिए स्मार्ट रिप्लाय फीचर भी जोड़ा गया है।

लॉक-डाउन मोड

इस फीचर को ऐप्पल के आइफोन एक्स में देखा गया है। गूगल के लेटेस्ट एंड्रॉइड 9.0 में भी यही फीचर दिया जाएगा। इस मोड के एक्टिवेट हो जाने के बाद आप फोन के फिंगरप्रिंट सेंसर को डिसेबल कर सकते हैं। इस फीचर सेकोई बलपूर्वक आपके फोन को अनलॉक करने के लिए नहीं कह सकता है।

वन-हैंडेड कंट्रोल

गूगल के नए एंड्रॉइड 9.0 में आप अपने स्मार्टफोन को एक हाथ से भी कंट्रोल कर सकते हैं। वॉल्यूम की और पावर बटन की मदद से आप पूरे फोन को कंट्रोल कर पाएंगे।

डार्क मोड

एंड्रॉइड के इस नए ऑपरेटिंग सिस्टम के सेटिंग्स में डार्क मोड दिया गया है। अगर, आपको डार्क वॉलपेपर चाहिए तो, इसे बदलने की बजाय आप डार्क मोड ऑन कर सकते हैं या फिर फोन अपने आप मोड बदल सकेगा।

नॉच फीचर के लिए उपयुक्त

आजकल लॉन्च होने वाले ज्यादातर स्मार्टफोन्स नॉच फीचर्स के साथ आ रहे हैं, ऐसे में गूगल ने इस ऑपरेटिंग सिस्टम को नॉच फीचर के उपयुक्त बनाया है। आप डेवलपर मोड में जाकर नॉच के साइज के हिसाब से डिस्प्ले को सेट कर सकते हैं।

स्क्रीनशॉट टूल

स्क्रीनशॉट लेने के लिए नए टूल्स भी जोड़े गए हैं। जैसे ही आप पावर बटन को प्रेस करते हैं, स्क्रीन के टॉप पर स्क्रीनशॉट लेने का ऑप्शन पॉप-अप दिखाई देता है। इसके साथ ही ऑप स्क्रीनशॉट को एडिट और शेयर भी कर सकेंगे।

डैशबोर्ड मॉनिटर

एंड्रॉइड 9.0 में गूगल के नए वेबलिंग प्रोग्राम के तहत नया डैशबोर्ड फीचर भी मिलेगा। इस फीचर में अगर आप किसी ऐप ज्यादा टाइम स्पेंड करेंगे तो आपको यह वार्न भी करेगा। आपके हर डेस्कटॉप एक्टिविटी को मॉनिटर किया जाएगा।

जेस्चर

इसके जेस्चर की बात करें तो पहली बार एंड्रॉइड के होम बटन को रिप्लेस करके छोटे से हैंडल को लगाया गया है। साथ ही इसका ऐप स्वीचर आइफोन एक्स की तरह ही होरिजोनटली स्क्रॉल होता है। यानी की यह नया फीचर एंड्रॉइड यूजर्स को जरूर आकर्षक लगेगा। गूगल का मुख्य फोकस नए फीचर्स के जरिए यूजर्स के लिए स्मार्टफोन मैनेजमेंट ज्यादा सुविधाजनक बनाने पर है।

कंट्रोल रोटेशन

एंड्रॉइड ओरियो या अन्य ऑपरेटिंग सिस्टम में आप अपने हिसाब से फोन का रोटेशन बदल सकते हैं। लेकिन, एंड्रॉइड के लेटेस्ट ऑपरेटिंग सिस्टम में अगर आप फोन को रोटेट करेंगे तो आपके फोन का स्क्रीन अपने आप बदल जाएगा।

अडेप्टिव बैटरी और अडेप्टिव ब्राइटनेस फीचर

इस नए ऑपरेटिंग सिस्टम में गूगल ने अडेप्टिव बैटरी और अडेप्टिव ब्राइटनेस फीचर्स दिया है। एडेप्टिव बैटरी फीचर्स के जरिए स्मार्टफोन की बैटरी लाइफ बेहतर बनाने पर जोर दिया गया है। नया ऑपरेटिंग सिस्टम स्मार्टफोन के बैटरी लाइफ के साथ सीपीयू परफार्मेंस भी सुधारने का काम करेगा।

 यह भी पढ़ें:

Jio GigaFiber को टक्कर देने के लिए Airtel ने हटाई FUP लिमिट, मिलेगा अनलिमिटेड डाटा

BSNL के इस प्लान में मिलेगा 200GB डाटा, रिलायंस जियो को मिलेगी चुनौती

WhatsApp यूजर अब गूगल ड्राइव में कर सकेंगे फ्री में बैकअप, जानें कैसे करेगा काम

केरल बाढ़ पीड़ितों के लिए टेलिकॉम कंपनियों ने उतारा फ्री प्लान, जानें कैसे करें एक्टिवेट

25,000 रुपये से कम वाले इन स्मार्टफोन्स में कौन है बेहतर, पढ़ें कम्पेरिजन

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस