Move to Jagran APP

MP: प्रिंसिपल के कमरे से मिलीं शराब की बोतलें-कई आपत्तिजनक सामान, मिशनरीज स्कूल सील; दांव पर बच्चों का भविष्य

मध्य प्रदेश के मुरैना जिले के एक मिशनरी स्कूल से बेहद हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है। यहां औचक निरीक्षण (surprise inspection) के दौरान प्रिंसिपल के कमरे में शराब और कंडोम मिला। फिलहाल स्कूल को सील कर दिया गया है।

By AgencyEdited By: Nidhi AvinashPublished: Sun, 26 Mar 2023 03:27 PM (IST)Updated: Sun, 26 Mar 2023 03:41 PM (IST)
MP: प्रिंसिपल के कमरे से मिलीं शराब की बोतलें-कई आपत्तिजनक सामान, मिशनरीज स्कूल सील

भोपाल, एजेंसी। मध्य प्रदेश के मुरैना जिले के एक मिशनरी स्कूल से बेहद हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है। यहां, औचक निरीक्षण (surprise inspection) के दौरान प्रिंसिपल के कमरे में शराब और कंडोम मिला। फिलहाल स्कूल को सील कर दिया गया है।

loksabha election banner

कमरे से मिला आपत्तिजनक सामान

25 मार्च को राज्य बाल अधिकार संरक्षण आयोग ने स्कूल का निरीक्षण किया, जहां एससीपीसीआर की टीम को बेड, शराब, कंडोम, अंडे की ट्रे और गैस सिलेंडर मिले। एससीपीसीआर निरीक्षण दल की सदस्य निवेदिता शर्मा ने कहा, 'मैंने देखा कि वहां एक गैस सिलेंडर और शराब की बोतलें सहित अन्य आपत्तिजनक सामान पड़े हुए थे। पुलिस पूरे मामले की जांच कर रही है। अब इस मामले को जिला कलेक्टर ने संज्ञान में लिया है।

प्रिंसिपल के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज

बता दें कि स्कूल के प्रिंसिपल के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई है और पुलिस से विस्तृत जांच की मांग की गई है। रूटीन इंस्पेक्शन पर स्कूल पहुंची निवेदिता शर्मा ने समाचार एजेंसी आईएएनएस को बताया कि जब हम स्कूल पहुंचे तो वहां का नजारा देखकर हैरान हो गए। स्कूल के दोनों कोने अंदर से जुड़े हुए थे। वहां एक कमरा था और शराब की बोतलें और कंडोम पड़े हुए थे। यह एक पूर्ण आवासीय सेटअप की तरह था। ये सिर्फ एक शख्स का नहीं है बल्कि और भी लोग बिल्डिंग में आना-जाना करते थे। यह एक आवास के रूप में इस्तेमाल किया जा रहा था।'

कमरे में थे 15 बेड

निवेदिता ने आगे कहा कि उस कमरे में कम से कम 15 बेड पड़े थे और सीसीटीवी कैमरा नहीं था। अब सवाल उठ रहा है कि जब बिल्डिंग की दूसरी जगहों पर सीसीटीवी कैमरे लगे हैं तो उस खास सेक्शन को क्यों छोड़ दिया गया? बता दें कि प्रिंसिपल वहां नहीं रहता था, तो सवाल है कि आखिर वहां कौन रह रहा है और वहां 15 बेड क्यों मौजूद हैं? इससे भी बड़ा सवाल ये कि छात्राओं की कक्षाओं का प्रवेश सीधा क्यों नहीं है? उन्होंने कहा कि स्कूल परिसर में शराब की अनुमति बिल्कुल नहीं है। यह कानून का उल्लंघन है। इस मामले में आबकारी विभाग भी कार्रवाई कर रहा है।


Jagran.com अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरेंWhatsApp चैनल से जुड़ें
This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.