मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

भुवनेश्वर, जेएनएन। ओडिशा में लोकसभा चुनाव 2019 व विधानसभा चुनाव 2019 के प्रथम चरण के लिए कड़ी सुरक्षा के बीच मतदान जारी है। चार लोकसभा कालाहांडी, कोरापुट, बरहमपुर एवं नवरंगपुर एवं इसके अंतर्गत आने वाली 28 विधानसभा सीट के लिए बनाए गए 7233 बूथों पर सुबह सात बजे से मतदान प्रक्रिया शुरू हुई।

ओडिशा में लोकसभा की आठ एवं विधानसभा की 28 सीटों पर गुरुवार को पहले चरण का मतदान कड़ी सुरक्षा के बीच संपन्न हो गया। इसी के साथ लोकसभा के 26 और विधान सभा के 191 उम्मीदवारों के भाग्य फैसला इवीएम मशीन में बंद हो गया। पहले चरण मे 66 फीसद मतदान दर्ज किया गया। इस दौरान कुछ जगहों पर इवीएम में गड़बड़ी के चलते मतदान की प्रक्रिया शुरू होने में देरी हुई। लेकिन मतदान को लेकर लोगों में गजब का उत्साह देखा गया। कुछ जगहों अलग अलग कारणों से लोगों ने मतदान में हिस्सा नहीं लिया। प्रदेश के अधिकांश मतदान केंद्रों सुबह सात बजे से ही मतदाताओं की लंबी कतार देखी गई। जिन जगहों पर इवीएम की गड़बड़ी पाई गई वहां लोगों ने धैर्य के साथ मतदान की प्रक्रिया आरंभ होने का इंतजार किया।

लोकसभा की जिन चार सीटों पर मतदान संपन्न हुआ उनमें कालाहांडी, कोरापुट, बरहमपुर एवं नवरंगपुर नक्सल प्रभावित क्षेत्र माना जाता है। जबकि इन लोकसभा क्षेत्रों के अंतर्गत आने वाली 28 विधानसभाओं में 22 नक्सल प्रभावित सीट हैं। जहां शाम चार बजे मतदान संपन्न हो गया। वहीं छह सीटों पर शाम छह बजे मतदान संपन्न हुआ। प्रथम चरण के मतदान के लिए कुल 7233 बूथ बनाए गए थे। जहां केंद्रीय बलों के अलावा प्रदेश पुलिस के जवान सुरक्षा में तैनात किए गए थे। सुबह मतदान शुरू होते ही कोरापुट जिला के जयपुर विधानसभा सीट अंतर्गत पाराबेड़ा हाईस्कूल में बनाए गए 162 नंबर बूथ पर इवीएम में गड़बड़ी से मतदान देर से शुरू हुआ है। इसी जिले के लमतापुट ब्लाक अंतर्गत तीन बूथों पर भी मतदान प्रक्रिया देर से शुरू हुई। हालांकि इन सभी बूथों पर सुबह के समय लंबी कतार देखी गई। सभी दलों के लोकसभा व विधानसभा उम्मीदवारों ने अपने अपने निर्वाचन क्षेत्रों में जाकर मतदान किया।

मालकानगिरी में दस बूथों पर ईवीएम खराब होने से मतदान देरी से शुरू हुआ। ओडिशा में चार लोकसभा सीटों पर चार बजे तक 57 फीसद मतदान हुआ। एक बजे तक 41 फीसद मतदान हुआ।

11 बजे तक 22 फीसद मतदान हुआ है। बरहमपुर लोकसभा सीट में 25, नवरंगपुर में 2, कालाहांडी में 23 व कोरापुट में 23 फीसद मतदान हुआ है। सुबह नौ बजे तक ओडिशा में सात फीसद मतदान हुआ है।

भवानीपटना में अपने परिवार के साथ कांग्रेस के लोकसभा उम्मीदवार तथा पूर्व केंद्र मंत्री भक्त चरण दास ने मतदान किया। भवानीपटना में गांव में रास्ता नहीं होने से लोगों ने मतदान का बहिष्कार किया। 

भाजपा अध्यक्ष बसंत पंडा, कांग्रेस सांसद उम्मीदवार रमेश माझी सहित प्रमुख उम्मीदवारों ने किया मतदान
कांग्रेस से कालाहाण्डी लोकसभा उम्मीदवार भक्त चरण दास ने अपने परिवार के साथ भवानीपाटना में मतदान किया। भक्त चरण दास कालाहांडी लोकसभा से चुनाव लड़ रहे हैं तो उनके बेटे सागर दास भवानीपाटना विधानसभा सीट से चुनाव लड़ रहे हैं। ऐसे में उनके साथ सागर ने भी मतदान किया। उसी तरह से कोरापुट से कांग्रेस सांसद सप्तगिरी उलाका ने मतदान किया है। भारतीय जनता पार्टी के राज्य अध्यक्ष तथा कालाहाण्डी से भाजपा सांसद उम्मीदवार बसंत पंडा ने भी मतदान किया है।

बीजद से नवरंगपुर से सांसद उम्मीदवार रमेश माझी ने उमरकोट में मतदान किया। जयपुर से कांग्रेस विधायक उम्मीदवार तारा प्रसाद वाहिनीपति ने मतदान किया। कुछ बूथों पर ईवीएम में तकनीकी गड़बड़ी के चलते मतदान में देरी हुआ है। 

पहले चरण में कई गांवों के मतदाताओं ने किया मतदान का बहिष्कार
ओडिशा के कई स्थानों पर विभिन्न कारणों से आज चुनाव के पहले चरण में बड़ी संख्या में मतदाताओं ने वोट डालने का बहिष्कार किया। कई जगहों पर ईवीएम मशीनों में खराबी के कारण मतदाता अपने मतदान अधिकार का प्रयोग किए बिना अपने घरों को लौट गए। प्रशासन की उदासीनता से परेशान होकर, कुछ स्थानों पर नागरिकों ने अपनी मांगों को पूरा नहीं करने पर चुनावी प्रक्रिया में भाग नहीं लिया।

जानकारी के मुताबिक कालाहांडी जिले के करलामुंडा ब्लॉक अंतर्गत सुपील, कुसुम्बर और धर्मनगढ़ ब्लॉक के सुराली, जूनागढ़ क्षेत्र के भीजीपदर गांव के ग्रामीणों ने मतदान का बहिष्कार किया है। आदिवासी जिले नबरंगपुर के कई गांवों से ऐसी ही खबर सामने आई है, जहां मतदाताओं ने विभिन्न मांगों के लिए वोट नहीं डाला।

पापड़ंहंडी ब्लॉक के अंतर्गत कांटगांव गांव में 1238 मतदाताओं ने नवगठित ग्राम पंचायत के लिए एक कार्यालय के निर्माण की मांग करते हुए मतदान का बहिष्कार किया है। इसी तरह, कोरापुट जिले में नबरंगपुर जिले के नंदांडी ब्लॉक अंतर्गत पोकरणगुडा, कोरापुट जिले के नारायणपट्टनम के साथ तालारंगपानी, उपरारंगपानी और कुटुडी गांव के ग्रामीणों ने अपनी मांग पूरी न होने के कारण मतदान से वंचित कर दिया।

    मलकानगिरी जिले में मैथिली ब्लॉक के तहत मतदाताओं ने चुनावों को छोड़ दिया क्योंकि मतदान केंद्र उनके गांवों से दूर स्थित हैं।

तकनीकी गड़बड़ी के चलते विभिन्न केंद्रों में मतदान प्रक्रिया देरी के साथ शुरू हुई। कोरापुट जिला के जयपुर विधानसभा सीटों के अंतर्गत पाराबेड़ा हाईस्कूल में बनाए गए 162 नंबर बूथ पर तकनीकी गड़बड़ी के चलते मतदान देरी से शुरू हुआ। कोरापुट जिला के ही लमतापुट ब्लाक अंतर्गत तीन बूथों पर मतदान प्रक्रिया देरी से शुरू हुई। लमतापुट हाईस्कूल में बनाए गए 27 नंबर बूथ, एमई स्कूल के 68 नंबर बूथ, अनकाणेली यूपी स्कूल के 69 नंबर बूथ पर मतदान देरी से शुरू हुआ, जिससे इन बूथों पर सुबह के समय लंबी कतारें देखी गई। उसी तरह से चित्रकोण्डा यूपी स्कूल के 211 नंबर बूथ पर मतदान देरी से शुरू हुआ। इससे मतदाता इन बूथों पर सुबह से कतार में खड़े नजर आए। चार लोकसभा सीट पर विभिन्न पार्टियों से 26 उम्मीदवार चुनाव मैदान में हैं, वहीं 28 विधानसभा सीटों पर 191 उम्मीदवारों के भाग्य फैसला इवीएम में बंद हो जाएया। मतदान को शांतिपूर्ण तरीके से संपन्न कराने के लिए कुल प्रशासन की तरफ से सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए थे। 

ये भी पढ़ें - ELECTIONS 2019 Live: वेस्ट यूपी में मतदान केंद्रों पर भारी भी़ड़, EVM खराबी से कुछ जगह देरी

पहले चरण में कुल 60 लाख 3 हजार 707 मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग कर रहे हैं। इनमें से 29 लाख 72 हजार 925 पुरुष मतदाता हैं, जबकि 30 लाख 30 हजार 222 महिला मतदाता हैं। चुनाव संचालन के लिए कुल 47 हजार 805 कर्मचारियों को नियोजित किया गया है।

चुनाव के लिए नक्सल प्रवण जिलों में सुरक्षा व्यवस्था पर विशेष ध्यान दिया गया है। 2375 अति संवेदनशील बूथ की पहचान की गई है। सशस्त्र पुलिस बल के साथ केंद्रीय सुरक्षा वाहिनी के जवानों को इन बूथों पर तैनात किया जाएगा। सभी बूथों में सीसीटीवी सर्वेइलान्स में रखा जाने के साथ वेब कास्टिंग की जा रही है। माइक्रो आब्जर्बर मतदान की जांच कर रहे हैं। 

28 विधानसभा चुनाव क्षेत्रों में से 22 विधानसभा क्षेत्रों में सुबह सात बजे से मतदान शुरू हुआ है। अपराह्न चार बजे तक मतदान होगा। माओ प्रभावित एवं दूरदराज वाले इलाका होने के कारण इन जगहों पर इस तरह का निर्णय लिया गया है। इन 22 विधानसभा चुनाव क्षेत्र में मोहना, गुणुपुर, ​विषमकटक, रायगड़ा, लक्ष्मीपुर, कोरापुट, पटांगी, जयपुर, उमरको, झरिगां, डाबुगां, कोटपाड़, मालकानगिरी, चित्रकोण्डा, कालाहाण्डी, नुआपड़ा, खरियार, लांजीगड़, जूनागड़, धर्मगड़, भवानीपाटना एवं नर्ला विधानसभा सीट शामिल है।  

वहीं नवरंगपुर विधानसभा क्षेत्र, छत्रपुर, गोपालपुर, बरहमपुर, दिगपहण्डी, तथा चिकिटी विधानसभा क्षेत्र में सुबह 7 बजे से शाम 6 बजे तक मतदान होगा। 

बीजद विधायक उम्मीदवार की गाड़ी से 2 लाख रुपये जब्त
लांजीगड़ के बीजद विधायक उम्मीदवार प्रदीप दिशारी के इनोभा गाड़ी से दो लाख रुपये जब्त किए जाने की सूचना मिली है। चुनाव के लिए बनाए गए फ्लाइंग स्क्वार्ड ने यह रुपया जब्त किया है। गाड़ी में बीजद विधायक उम्मीदवारप्रदीप के साथ अन्य चार लोग सवार थे। पुलिस इन्हें हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है। यह रुपये कहां से आए उसे लेकर छानबीन शुरू कर दी है। गाड़ी को भी थाना में रोककर रखा गया है।  पूर्वाह्न में वाहनों की तलाशी लेते समय यह फ्लाइंग स्क्वार्ड की टीम ने यह रुपया जब्त किया है। प्रदीप की गाड़ी से 500 रुपये नोट के 4 बंडल मिले हैं। 

पहले चरण में प्रमुख उम्मीदवार

11 अप्रैल को पहले चरण में होने वाले चुनाव में बीजू जनता दल की तरफ से चन्द्रशेखर साहू बरहमपुर लोकसभा सीट से उम्मीदवार हैं तो पुष्पेन्द्र सिंहदेव कालाहाण्डी से कौशल्या हिक्का कोरापुट से एवं रमेश माझी नवरंगपुर लोकसभा सीट से से चुनाव मैदान में हैं। 

भाजपा की तरफ से बरहमपुर लोकसभा सीट से भृगु बक्सी पात्र, कालाहण्डी लोकसभा सीट से बसंत पंडा, कोरापुट लोकसभा सीट से जयराम पांगी एवं नवरंगपुर लोकसभा सीट से भाजपा की तरफ से बलभद्र माझी का भाग्य इवीएम में बंद हो जाएगा। 

कांग्रेस की तरफ से बरहमपुर लोकसभा सीट से चन्द्रशेखर नाइडू, कालाहाण्डी लोकसभा सीट से भक्त चरण दास, कोरापुट से सप्तगिरी एवं नवरंगपुर से प्रदीप माझी के भाग्य का इवीएम में बंद हो जाएगा। 

पहले चरण में विधानसभा के प्रमुख उम्मीदवार

ओडिशा में लोकसभा के साथ विधानसभा का भी चुनाव हो रहा है। पहले चरण में 28 विधानसभा पर प्रमुख पार्टियों के प्रमुख उम्मीदवार इस प्रकार हैं।

बीजू जनता दल के प्रमुख उम्मीदवार

बीजद के टिकट पर पहले चरण में गोपालपुर विधानसभा सीट से प्रदीप पाणीग्राही, चिकिटी से ऊषा देवी, दिगपहण्डी से सूर्यनारायण पात्र, पारलाखेमुण्डी से कल्याणी गजपति, नर्ला से भूपिन्दर सिंह, जुनागड़ से दिव्यशंकर मिश्र, नुआपड़ा से राजेन्द्र ढोलकिया रायगड़ा से लालविहारी हिमिरिका, जयपुर से रवि नारायण नंद, उमरकोट से सुवाष गण्ड, झरिगां से प्रकाश चन्द्र माझी का नाम शामिल है। 

भाजपा के इन विधानसभा सीटों से प्रमुख उम्मीदवार

पारलाखेमुण्डी विधानसभा सीट से के नारायण राव, खरियासे रीताराणी बगर्ती, धर्मगड़ से अनंत प्रताप देव, गुणपुर से शिशिर गमांग, विषम कटक से शिवशंकर उलाका, पटांग से रामचन्द्र पांगी एवं काकटपुर से खगेश्वर माझी प्रमुख उम्मीदवार हैं।

कांग्रेस के इन विधानसभा सीटों से प्रमुख उम्मीदवार

कांग्रेस से विधानसभा में जिन प्रमुख उम्मीदवारों के भाग्य का फौसला होगा, उसमें जयपुर विधानसभा सीट से ताराप्रसाद वाहिनीपति, कोरापुट से कृष्ण चन्द्र कुलदीप, पटांगी से रामचन्द्र काडाम, डाबुगां से भुजबल माझी, नवरंगपुर से सदन नायक, मालकानगिरी से माला माढ़ी, पारलाखेमुण्डी से के.सूर्यराव तथा लांजीगड़ विधानसभा सीट से शिवाजी माझी के भाग्य का फैसला इवीएम में बंद हो जाएगा।  

 चुनाव की विस्तृत जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें

Posted By: Sachin Mishra

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप