नोएडा/गाजियाबाद, जेएनएन। LOK SABHA ELECTIONS 2019  गौतमबुद्धनगर और गाजियाबाद समेत पश्चिमी उत्तर प्रदेश की 8 सीटों पर मतदान खत्म हो गया है। सभी आठ सीटों पर कुल 63.69 फीसद मतदान हुआ। गाजियाबाद और गौतमबुद्ध नगर में मतदान खत्म होने तक का प्रतिशत की जानकारी अभी तक नहीं मिल पाया है। चुनाव आयोग के अनुसार, गाजियाबाद में शाम पांच बजे तक 54 फीसद मतदान हुआ। जबकि गौतमबुद्ध नगर में करीब 58 फीसद वोटिंग हुई।  

गौतमबुद्ध नगर में चल रहे शांतिपूर्वक मतदान के दौरान 5 बजे तक 61 विधानसभा क्षेत्र नोएडा में 50.43% मतदान, 62 विधानसभा क्षेत्र दादरी में 57.35%, मतदान और 63 विधानसभा क्षेत्र जेवर में 66.09% मतदान रहा है। जबकि पूरे जिले को मिलाकर यहां पर 57.95% मतदान का प्रतिशत हुआ है।
 


पश्चिमी उत्तर प्रदेश की इन 8 लोकसभा सीटों पर हो हुई वोटिंग

प्रथम चरण के तहत सुबह सात बजे से शुरू हुआ मतदान
निर्वाचन आयोग के निर्देश पर सभी मतदान केंद्रों पर सुबह सात बजे से मतदान की प्रक्रिया शुरू हुई है। मतदान शाम को छह बजे तक होगा। छह बजे के बाद यदि कोई मतदान के लिए पहुंचेगा तो उसे मतदान का अवसर नहीं मिलेगा। सिर्फ वही लोग मतदान कर सकेंगे जो लोग लाइन में लगे होंगे।

ग्रेटर नोएडा क्षेत्र के बिलासपुर स्थित डॉक्टर राजेंद्र इंटर कॉलेज में बने पोलिंग बूथ भाग 79 की ईवीएम मशीन 8.30 तक खराब होने के कारण बडी संख्या में मतदाता वापस लौटने थे लेकिन बाद में लोगों ने अपना वोट डाला।

नोएडा के सेक्टर-78 स्थित मंथन स्कूल पर लोक सभा चुनाव में बने पहली बार बूथ पर मतदान के लिए भारी उत्साह था। यहां 4 बूथ है और गेट एक ही खुला था इसके चलते 200 मीटर से अधिक लंबी लाइन लगी है।

नोएडा सेक्टर 21 स्थित बाल भारती स्कूल में 15 मिनट देरी से मतदान प्रारंभ हुआ, क्योंकि यहां पर ईवीएम खराब हुई थी, लेकिन कुछ देर में इसे ठीक कर लिया गया।

वोटर आइडी नहीं होने पर ये पहचान पत्र थे मान्य 
जिन मतदाताओं का नाम मतदाता सूची में दर्ज है और आपके पास वोटर आईकार्ड नहीं था तो उनके लिए निर्वाचन आयोग ने वोटर कार्ड से अलग 11 विकल्प जारी किए थे, जिनके आधार पर लोग वोट डाल सकते थे।

ये है निर्वाचन आयोग द्वारा जारी विकल्प

  •  आधार कार्ड
  •  पैन कार्ड
  •  पासपोर्ट
  •   ड्राइविंग लाइसेंस
  •   केंद्र/राज्य सरकार/राज्य सरकार एवं सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों/सार्वजनिक लिमिटेड कंपनियाें से जारी फोटोयुक्त सेवा कार्ड
  •  बैंक-डाकघर से जारी फोटो युक्त पासबुक
  •  राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर के अधीन भारत के महापंजीयक से जारी स्मार्ट कार्ड
  •   मनरेगा जॉब कार्ड
  •   श्रम मंत्रालय की योजना के अधीन जारी स्वास्थ्य बीमा स्मार्ट कार्ड
  •   फोटो सहित पेंशन दस्तावेज
  •   एमपी, एमएलए व एमएलसी को जारी शासकीय पहचानपत्र

मतदान केंद्रों पर प्रशासन ने दी सुविधा
प्रशासन द्वारा जिले के सभी मतदान केंद्रों पर वोटरों के लिए विभिन्न सुविधाएं की थी। मजिस्ट्रेटों द्वारा तीन बार भ्रमण कर इन सुविधाओं की जांच की गई। मतदान केंद्र पर छाया, पेयजल, बिजली, कुर्सी, हवा, शौचालय, फर्नीचर, साफ-सफाई समेत अन्य व्यवस्था की गई थी। 

प्रथम चरण में कुल 91 सीटों में से वेस्ट यूपी की 8 सीटों में गौतमबुद्धनगर, बागपत और गाजियाबाद वीआइपी सीट भी है, जिस पर भारतीय जनता पार्टी नेता और केंद्रीय केंद्रीय मंत्री (वीके सिंह, सत्यपाल सिंह और महेश शर्मा) चुनाव मैदान में थे। 

गौतमबुद्ध नगर में शांतिपूर्ण चुनाव के लिए 12 हजार पुलिस के जवान तैनात
चुनाव में क्रिटिकल मतदान केंद्रों पर जिला प्रशासन व चुनाव आयोग की विशेष नजर रही। जांच के बाद प्रशासन ने 145 मतदान केंद्र को क्रिटिकल श्रेणी में रखा था। इन सभी केंद्रों पर पैरामिलिट्री फोर्स के जवान तैनात थी। साथ ही इन केंद्रों पर वेबकास्टिंग, वीडियोग्राफी कराई कई। माइक्रोआब्जरवर को भी इन केंद्रों पर विशेष सतर्कता बरतने के निर्देश दिए गए थे। गौतमबुद्ध नगर में शांतिपूर्ण चुनाव के लिए 12 हजार पुलिस के जवान तैनात किए गए थे।

गाजियाबाद में भी  भारी सुरक्षा के बीच हुआ मतदान
वहीं, गाजियाबाद के 693 मतदान केंद्रों व 3041 बूथों पर मतदान  हुआ। जिले के 2787720 मतदाता अपने मत का प्रयोग किया। इस बार पूरी तरह से मतदान वीवीपैट के जरिए हुआ। 47 आदर्श मतदान केंद्र, 301 आदर्श मतदान बूथ व प्रत्येक विधानसभा में एक-एक यानि पांच सखी बूथ बनाए गए थे। इन सखी बूथों पर महिला कर्मचारियों व महिला सुरक्षाबलों को तैनात किया गया था।

चुनाव की विस्तृत जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें

दिल्ली-NCR की ताजा खबरों को पढ़ने के लिए यहां करें क्लिक

Posted By: JP Yadav

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप