रुद्रपुर, जेएनएन : अल्मोड़ा में प्रदेश की बाल विकास राज्यमंत्री रेखा आर्या के पति की मांग पर एक्सपायरी डेट की पैकिंग पर आटा भेजने वाली फर्म के यहां रविवार को प्रशासनिक टीम ने छापा मारा। टीम को कई पैकेटों पर एमआरपी का प्रिंट नहीं मिला। टीम ने फ्लोर मिल के ओनर को नोटिस दे दिया है।

कोरोना महामारी के दौरान कालाबाजारी रोकने और खाद्य पदार्थों की गुणवत्ता जांचने के लिए जिला प्रशासन ने टीम गठित की है। टीम ने किच्छा रोड स्थित अमर ज्योति राइस एंड फ्लोर मिल पर रविवार को छापा मारा। टीम को पांच किलोग्राम के अधिकांश पैकेट पर एमआरपी का प्रिंट हीं नहीं मिला। टीम लीडर बाट-माप अधिकारी केसी पंत ने बताया कि किसी भी उत्पाद पर बिक्री से पहले एमआरपी प्रिंट होना आवश्यक होता है। फ्लोर मिल ओनर विजय गर्ग को नोटिस थमाई है। जबाब मांगा गया है, इसके बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी। 

अल्मोड़ा में बाल विकास राज्यमंत्री रेखा आर्या के पति गिरधारी लाल साहू के जरिए वितरित किए गए जिस आटे पर राजनैतिक घमासान हुआ था। वह इसी फर्म से गया था। उसके बाद बिना एमआरपी के भी पैकेट मिल से जारी यह शिकायत सीएम पोर्टल पर की गई। सीएम ने तत्काल जांच के आदेश दिए थे। छापामार टीम में नोडल अधिकारी डिप्टी कमिश्नर राज्य कर रजनीश यशवस्थी, राज्य कर अधिकारी यूएस बिष्ट व बाट माप अधिकारी केसी पंत शामिल रहे। 

विजय गर्ग, ओनर, अमर ज्योति राइस एंड फ्लोर मिल, रुद्रपुर ने बताया कि प्रशासनिक टीम ने जांच की है। जिसमें कई पैकटों पर एमआरपी ङ्क्षप्रट नहीं होने का कारण पूछा गया है। ङ्क्षप्रट करने वाली  स्याही दिल्ली-अलीगढ़ से मंगाई जाती है, जो लॉकडाउन के चलते उपलब्ध नहीं हो पाई है। 

यह भी पढें 

कांग्रेस ने दूसरे राज्याें में फंसे लोगों की मदद के लिए देवभूमि मोबाइल ऐप लॉन्च किया https://www.jagran.com/uttarakhand/nainital-congress-launch-devbhoomi-mobile-app-for-those-people-who-has-trapped-other-states-20214978.html

बाजपुर के गांव में मिला चमगादड़ों का कुनबा, अचानक मौजूदगी देख ग्रामीण हैरान

आज ही काठगोदाम पहुंची थी पहली रेलगाड़ी, जानिए देश के सबसे खूबसूरत स्टेशन का इतिहास

Posted By: Skand Shukla

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस