बागेश्वर, जेएनएन : आचार संहिता के दौरान पूर्व प्रधानमंत्री स्व. राजीव गांधी के लिए पीएम नरेंद्र मोदी के बयान पर भड़के कांग्रेसियों ने उनका पुतला फूंक दिया, जो अब उन भारी पड़ गया है। सहायक नोडल अधिकारी ने 16 कांग्रेसियों को नोटिस जारी कर दिए हैं। अब उन पर मुकदमा दर्ज किया जाएगा।

13 मई को पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी पर अभद्र टिप्पणी से कांग्रेस कार्यकर्ता भड़क गए थे। आक्रोशित कांग्रेसियों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का पुतला फूंका था। लोकसभा चुनाव आचार संहिता लागू होने पर यह उसका उल्लंघन माना जा रहा है। एसबीआइ तिराहे पर आयोजित कार्यक्रम में किसी प्रकार की घटना न हो इसके लिए पुलिस भी तैनात थी, लेकिन पुलिस ने कांग्रेसियों को पुतला फूंकने से रोका तक नहीं और शासन को पुतला फूंकने का कार्यक्रम शांतिपूर्वक निपटने की सूचना भी प्रेषित कर दी। आचार संहिता नोडल अधिकारी शंकर बोरा ने मामले में सहायक नोडल अधिकारी ईओ नगरपालिका राजदेव जायसी को जांच के निर्देश दिए। ईओ ने मंगलवार को जांच पूरी कर रिपोर्ट सौंप दी है। नोडल अधिकारी बोरा ने बताया कि जांच में 16 कांग्रेसियों के नाम का खुलासा हुआ है और उनके खिलाफ आचार संहिता उल्लंघन मामले में मुकदमा दर्ज कराने की कार्रवाई की जा रही है। इधर, आचार संहिता उल्लंघन का नोटिस मिलने के बाद कांग्रेसियों में भी खलबली मच गई है।  

यह भी पढ़ें : उत्तराखंड के खिलाड़ियों को राजकीय सेवाओं में नहीं मिलेगा कोटा, सरकार को कानून बनाने की छूट

यह भी पढ़ें : जलती कार में मिले शव मामले में हत्‍यारोपित पत्‍नी का प्रेमी मनीष मिश्रा भी गिरफ्तार

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Skand Shukla

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस