देहरादून, राज्य ब्यूरो। विवादित फिल्म 'द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर' के बहाने प्रदेश भाजपा ने कांग्रेस पर निशाना साधा। भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट ने उच्च शिक्षा राज्यमंत्री डॉ. धन सिंह रावत समेत अन्य पार्टी नेताओं के साथ यह फिल्म देखने के बाद कहा कि इसमें कांग्रेस के परिवारवाद का खुलासा होने के साथ ही इस पर करारी चोट की गई है। इसीलिए कांग्रेस इस फिल्म को लेकर हायतौबा मचा रही है। 

देहरादून में राजपुर रोड स्थित मल्टीप्लेक्स में भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट, राज्यमंत्री डॉ.धन सिंह रावत, महापौर सुनील उनियाल गामा, बीस सूत्रीय कार्यक्रम क्रियान्वयन समिति के अध्यक्ष नरेश बंसल, दायित्वधारी ज्ञान सिंह नेगी, भाजपा के प्रदेश मीडिया प्रमुख डॉ देवेंद्र भसीन, सह मीडिया प्रमुख बलजीत सोनी, प्रदेश कार्यालय सचिव पुष्कर काला समेत अन्य भाजपा नेताओं ने यह फिल्म देखी। 

फिल्म देखने के बाद पत्रकारों से अनौपचारिक बातचीत में प्रदेश अध्यक्ष भट्ट ने कहा कि यह फिल्म तथ्यों पर आधारित है। भट्ट ने कहा कि फिल्म में गांधी परिवार की असलियत के कई पहलू उजागर होने के कारण ही कांग्रेस इस फिल्म का विरोध कर रही है। 

उन्होंने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री डॉ मनमोहन सिंह के मीडिया एडवाइजर संजय बारु की 2014 में प्रकाशित पुस्तक पर यह फिल्म बनी है। इसमें बताया गया है कि काग्रेस में किस प्रकार से एक ही परिवार का वर्चस्व है, जो सभी को अपनी उंगलियों पर नचाता है और बात न मानने पर किस प्रकार अपमानित करता है। 

उन्होंने कहा कि काग्रेस व गाधी परिवार घोटालों को छुपाने और मामला बढ़ने पर बात दूसरों पर डालने का खेल भी खेलता रहा है, जिसका खुलासा इस फिल्म में है। पूर्व प्रधानमंत्री नरसिम्हा राव के निधन के बाद उनकी समाधि के लिए दिल्ली में स्थान से जुड़े मसले का खुलासा भी इसमें है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस नेताओं में सच्चाई का सामना करने का साहस नहीं है। इसीलिए वे बौखला गए हैं।

यह भी पढ़ें: लोकसभा चुनाव में पहाड़ में शायद ही दौड़ पाए साइकिल संग हाथी

यह भी पढ़ें: हरीश रावत बोले, देश के लिए 'गेम चेंजर' साबित होगा गठबंधन

यह भी पढ़ें: दो फरवरी को अमित शाह और मार्च माह में पीएम मोदी आएंगे दून

 

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप