देहरादून, राज्य ब्यूरो। पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव हरीश रावत ने कहा कि जिस प्रकार उत्तरायणी से मौसम में परिवर्तन होता है, उसी तरह इस साल लोकसभा चुनाव में राजनीतिक परिवर्तन भी आएगा। वह उत्तरायणी पर्व के उपलक्ष्य में देहरादून में आयोजित एक कार्यक्रम में पत्रकारों से अनौपचारिक बातचीत कर रहे थे। 

उप्र में सपा और बसपा के गठबंधन से संबंधित प्रश्न पर उन्होंने कहा कि यह उप्र ही नहीं देश के लिए गेम चेंजर साबित होगा। वरिष्ठ कांग्रेस नेता रावत ने कहा कि उप्र में हुए गठबंधन का फायदा गठबंधन करने वाली पार्टियों के साथ ही कांगेस को भी मिलेगा। 

उन्होंने कहा कि 2009 के गठबंधन में जिस तरह उप्र में कांग्रेस दो सीटों से 23 सीटों पर पहुंची थी, ठीक वैसी ही स्थिति 2019 में भी नजर आ रही हैं। 

हाईकमान तय करेगा सीट 

पूर्व मुख्यमंत्री रावत से जब यह पूछा गया कि वे लोकसभा की कौन सी सीट से चुनाव लड़ेंगे। इसके जवाब में उन्होंने कहा कि किस सीट पर चुनाव लड़ना है, यह हाईकमान तय करेगा। साथ ही जोड़ा कि वह पार्टी के लिए राज्य की पांचों सीटों पर काम कर वोट बैंक के साथ सोशल शेयर बढ़ा रहे हैं।

यह भी पढ़ें: दो फरवरी को अमित शाह और मार्च माह में पीएम मोदी आएंगे दून

यह भी पढ़ें: हरदा ने मशरूम पार्टी से दिया पहाड़ी उत्पादों के संरक्षण का संदेश

यह भी पढ़ें: भवन कर में बढ़ोत्तरी से भड़के कांग्रेसी पार्षद, मुख्य नगर आयुक्त को घेरा

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप