देहरादून, जेएनएन। नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (एनटीए) राष्ट्रीय पात्रता और प्रवेश परीक्षा यानी नीट के एडमिट कार्ड शुक्रवार यानी 27 मार्च को जारी नहीं करेगा। कोरोना वायरस के संक्रमण के कारण इसमें और देरी हो सकती है। एनटीए के जरिए जारी नीट के शेड्यूल के मुताबिक एडमिट कार्ड 27 मार्च को जारी होने थे। 

इनदिनों पूरे देश में कोरोना वायरस संक्रमण से खौफ का माहौल बना हुआ है। लगातार बढ़ रहे मामलों ने सभी के माथे पर बल डाल दिया। ऐसे में नीट की परीक्षा पर भी संशय बन गया है। आपको बता दें कि देशभर के मेडिकल कॉलेजों में एमबीबीएस बीडीएस कोर्स में दाखिले नीट के आधार पर ही होते हैं। इसके अलावा वेटनरी और आयुष-यूजी में दाखिले का भी यही माध्यम है। बल्कि इस साल जिपमर और एम्स की प्रवेश परीक्षा भी खत्म कर दी गई है। इनमें भी दाखिला नीट के स्कोर पर ही होगा। 

नीट की परीक्षा तीन मई को होनी है, पर अभी इसे लेकर भी संशय बना हुआ है। कोरोना को लेकर जो स्थिति देश में है, यह तय नहीं है कि परीक्षा नियत तिथि पर होगी या नहीं। एक कारण ये भी है कि सीबीएसई, आइसीएसई समेत अन्य बोर्ड की परीक्षाएं स्थगित कर दी गई हैं। अभी यह भी तय नहीं है ये परीक्षाएं कब होंगी। जेईई-मेन की अप्रैल में होने वाली परीक्षा भी इसी कारण स्थगित कर दी गई है।

ऑनलाइन होगी पढ़ाई 

कोरोना वायरस के संक्रमण को देखते हुए सभी स्कूल-कॉलेज और शिक्षण संस्थान बंद हैं। बोर्ड और अन्य परीक्षाएं भी रद कर दी गई हैं। ऐसे में छात्र-छात्रओं को उनकी पढ़ाई में कई तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। बच्चों की पढ़ाई में आ रही बाधा को दूर करने के लिए मानव संसाधन विकास मंत्रलाय ने डिजिटल पहल की है, जिसके जरिये बच्चे घर बैठे अपनी पढ़ाई पूरी कर सकते हैं। स्कूली बच्चे अपने स्मार्ट मोबाइल फोन पर भी ऑनलाइन पढ़ाई के सकते हैं। विद्यालयी शिक्षा निदेशक आरके कुंवर ने कहा कि मानव संसाधन विकास मंत्री डॉ. रमेश पोखरियाल निशंक के नेतृत्व में डिजिटल शिक्षा घर बैठे उपलब्ध है। 

यह भी पढ़ें: एचआरडी मंत्री निशंक बोले, केंद्रीय विश्वविद्यालयों में रिक्त पदों को जल्द भरा जाएगा

जानिए दीक्षा एप के बारे में  

यह एप छात्रों को स्कूल सिलेबस से जुड़ी सभी रोचक सामग्री उपलब्ध कराने के साथ ही शिक्षक और अभिभावकों के लिए भी कंटेन्ट उपलब्ध कराता है। हाल ही में सीबीएसई ने भी दीक्षा एप पर छात्रों के लिए ई-कंटेन्ट लॉन्च किया है। अलग-अलग विषयों के लॉन्च किए इन ई-कंटेन्ट के जरिये कक्षा छह से 10वीं तक के सभी छात्रों को काफी मदद मिलेगी। इसके साथ ही इस एप पर सातवीं से 10वीं तक के बच्चों के लिए क्रिटिकल थिंक विकसित करने के लिए प्रश्न बैंक भी जारी किए है। इस एप को आइओएस और गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड किया जा सकता है। 

वेबसाइट- diksha.gov.in

यह भी पढ़ें: खुशखबरी! वीडीओ पदों पर अब किसी भी विषय से स्नातक अभ्यर्थी कर सकेंगे आवेदन

 

Posted By: Raksha Panthari

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस