देहरादून, जेएनएन। कांग्रेस ने राष्ट्रीय स्तर पर केंद्र सरकार के खिलाफ हल्ला बोलने की तैयारी शुरू कर दी है। इसको लेकर 14 दिसंबर को राजधानी दिल्ली में होने वाली कांग्रेस की भारत बचाओ रैली में उत्तराखंड से हजारों कांग्रेसी भाग लेंगे।

गढ़वाल मंडल के प्रमुख नेताओं की बैठक में कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह ने पार्टी कार्यकर्ताओं से अधिक से अधिक संख्या में रैली में पहुंच कर उसे ऐतिहासिक बनाने का आह्वान किया। राजपुर रोड स्थित कांग्रेस मुख्यालय में हुई बैठक में प्रीतम सिंह ने कहा कि 2019 के लोकसभा चुनावों के बाद पार्टी का यह पहला राष्ट्रीय स्तर का कार्यक्रम है, जिसे कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी व पार्टी के अन्य राष्ट्रीय नेता संबोधित करेंगे। 

उन्होंने कहा कि पौने छह साल में मोदी सरकार ने देश के विकास की गाड़ी को पटरी से उतार दिया। नोटबंदी और जीएसटी के दुष्परिणाम पूरा देश आज भी भुगत रहा है। मोदी सरकार की गलत नीतियों के कारण आज देश की विकास दर साढ़े चार फीसद से भी कम रह गई है। आर्थिक मंदी के कारण बेरोजगारी चरम पर है। 

बैठक का संचालन करते हुए प्रदेश कांग्रेस के वरिष्ठ उपाध्यक्ष सूर्यकांत धस्माना ने कहा कि केंद्र और राज्य की बीजेपी सरकारों ने उत्तराखंड की जनता को ठगने का काम किया है। टीएचडीसी का विनिवेश कर बीजेपी ने यह साबित कर दिया है। 

बैठक में महामंत्री संगठन विजय सारस्वत, पूर्व मंत्री मातबर सिंह कंडारी, शूरवीर सिंह सजवाण, दिनेश अग्रवाल, विधायक ममता राकेश, पूर्व विधयक गणेश गोदियाल, शैलेंद्र सिंह रावत, संजय पालीवाल, नवीन जोशी, संजय किशोर,लाल चंद शर्मा, अजय सिह, सुरेंद्र रांगड़, गौरव सिंह, हरिद्वार जिला अध्यक्ष धर्मपाल, पौड़ी जिला अध्यक्ष कामेश्वर राणा, उत्तरकाशी जिला अध्यक्ष जगमोहन सिंह रावत, कोटद्वार जिला अध्यक्ष चंद्र मोहन बोंठियाल, कवींद्र इष्टवाल, गरिमा दसोनी आदि मौजूद रहे। 

दिल्ली की रैली मोदी की नीतियों के खिलाफ: अनिल

पार्टी की रैली व आंदोलनात्मक कार्यक्रमों के लिए उत्तराखंड में एआइसीसी के पर्यवेक्षक अनिल शर्मा ने कहा कि दिल्ली भारत बचाओ रैली मोदी सरकार की दिशाहीन नीतियों के खिलाफ आयोजित की जा रही है। उन्होंने कहा कि देश आज खतरनाक दौर से गुजर रहा है। सत्तारूढ़ सरकार जनता का ध्यान असली मुद्दों से भटका कर साम्प्रदायिक व उन मुद्दों की तरफ आकर्षित करवाती है, जिनका विकास से कोई लेना-देना नहीं। 

उन्होंने कहा, पार्टी की अपेक्षा है कि उत्तराखंड से ज्यादा से ज्यादा लोग रैली में भागीदारी निभाएं। कांग्रेस के प्रदेश सह प्रभारी राजेश धर्माणी ने कहा कि आज पूरे देश का राजनैतिक वातावरण बदल रहा है। महाराष्ट्र और हरियाणा में विधानसभा चुनावों के नतीजों ने इसका इशारा कर दिया है। 

प्रदेश सरकार पूरी तरह विफल: हृदयेश 

नेता प्रतिपक्ष इंदिरा हृदयेश ने कहा कि उत्तराखंड की बीजेपी सरकार हर मोर्चे पर फिसड्डी साबित हुई है। प्रदेश में ऐसा लग रहा है कि सरकार नाम की कोई व्यवस्था ही नहीं है। एआइसीसी के पूर्व सचिव प्रकाश जोशी ने कहा कि आज कांग्रेस के हर कार्यकर्ता की जिम्मेदारी है कि देश को बीजेपी की विभाजनकारी नीतियों से बचाए।

आर्थिक मंदी को लेकर कांग्रेस करेगी प्रदर्शन

देश की आर्थिक मंदी, बेरोजगारी व महंगाई के विरोध में कांग्रेस प्रदेशभर के सभी जिलों व शहर मुख्यालयों में धरना-प्रदर्शन करेगी। कांग्रेस के संगठन महामंत्री विजय सारस्वत ने बयान जारी कर बताया कि कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह के निर्देश पर गढ़वाल मंडल में होने वाले प्रदर्शनों में अखिल भारतीय कांग्रेस की ओर से नियुक्त पर्यवेक्षक अनिल शर्मा व प्रदेश सहप्रभारी राजेश धर्माणी प्रतिभाग करेंगे। 

तय कार्यक्रम के अनुसार तीन दिसंबर को उत्तरकाशी, चार दिसंबर को रुद्रप्रयाग में आयोजित प्रदर्शन में वह प्रतिभाग करेंगे। पांच दिसंबर को गोपेश्वर, छह दिसंबर को पौड़ी, सात दिसंबर को हरिद्वार व रुड़की जबकि आठ व नौ दिसंबर को देहरादून जिले के ऋषिकेश व विकासनगर में विरोध प्रदर्शन होंगे। 

यह भी पढ़ें: नई दिल्ली में प्रस्तावित भारत बचाओ रैली को लेकर सोनिया से मिले प्रीतम सिंह और इंदिरा हृदयेश

विजय सारस्वत ने बताया कि प्रदेश प्रभारी अनुग्रह नारायण सिंह 11 दिसंबर को हल्द्वानी में विरोध-प्रदर्शन में शामिल होंगे। रैली में कुमाऊं मंडल के सांसद, पूर्व सांसद, विधायक, पूर्व विधायक, प्रदेश कांग्रेस के पदाधिकारी, एआइसीसी/ पीसीसी सदस्य, जिला व शहर कांग्रेस के अध्यक्ष, फ्रंटल, संगठन के पदाधिकारी प्रतिभाग करेंगे। 12 दिसंबर को रुद्रपुर व काशीपुर में विरोध-प्रदर्शन किए जाएंगे।

यह भी पढ़ें: विधायक कुंवर प्रणव चैंपियन ने छोटे भाई विधायक देशराज कर्णवाल को दिया आशीर्वाद

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस