देहरादून, राज्य ब्यूरो। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा कि डिस्कवरी चैनल के प्रसिद्ध कार्यक्रम 'मैन वर्सेस वाइल्ड' के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा कार्बेट नेशनल पार्क का चयन करना राज्य के व्यापक हित में है। उन्होंने कहा कि इस कार्यक्रम के माध्यम से उत्तराखंड को देश-दुनिया में पहचान मिलेगी और इससे वन्यजीव विशेषकर बाघ संरक्षण कार्यक्रम को मदद मिलेगी। उन्होंने कहा कि कार्यक्रम के जरिये 180 देश उत्तराखंड की जैव विविधता से रूबरू हुए।

 सोमवार को मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के अखिल भारतीय सह संपर्क प्रमुख रामलाल, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष व सांसद नैनीताल अजय भट्ट, विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल व कई अन्य भाजपा नेताओं के साथ डिस्कवरी चैनल मैन वर्सेस वाइल्ड कार्यक्रम देखा। उन्होंने कहा कि इस कार्यक्रम के जरिये दुनिया में राज्य के प्रसिद्ध कार्बेट नेशनल पार्क के साथ ही इस क्षेत्र के नैसर्गिक सौन्दर्य तथा जैव विविधता को भी पहचान मिलेगी। इससे देश व दुनिया के लोगों का अवागमन इस क्षेत्र में बढ़ेगा। 

मुख्यमंत्री ने कहा कि यह उत्तराखंड का सौभाग्य है कि प्रधानमंत्री इस विश्व प्रसिद्ध शो में जीवटता और साहस की मिसाल बने। इससे पूर्व जब प्रधानमंत्री ने बाबा केदारनाथ में ध्यान गुफा में रात्रि विश्राम के साथ ही भगवान बदरीनाथ के दर्शन किए तो इस बार लाखों यात्री उत्तराखंड आए। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री की इस पहले से वन्यजीवों विशेषकर बाघ संरक्षण को बड़ी मदद मिलेगी और इससे प्रकृति व जैव विविधता को संरक्षित करने का संदेश देश व दुनिया में जाएगा। उन्होंने इसे उत्तराखंड के पर्यटन के लिए सुखद बताया है। 

 वहीं, केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री डॉ. रमेश पोखरियाल निशंक ने कार्यक्रम के संबंध में सोशल मीडिया में लिखा कि इस शो के माध्यम से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जीवन के कई अनछुए पहलुओं को जानने का मौका मिला। उनके संघर्ष भरे जीवन में उनकी हौसलों की उड़ान कभी थमी नहीं, पर्यावरण और प्रकृति के प्रति पे्रम, निष्ठा और समर्पण का भाव ही था जो उन्हें इस शो में खींच लाया।

यह भी पढ़ें: मन की बात में देवभूमि के प्रति फिर झलका नमो का नेह

यह भी पढ़ें: Chardham Yatra: केदारनाथ में ध्यान गुफा की ऑनलाइन बुकिंग शुरू, जानिए सुविधाएं और दरें

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप