मुरादाबाद, जागरण संवाददाता। Flood in Moradabad : मुरादाबाद रेल मंडल के दो स्थानों पर बाढ़ का पानी रेललाइन के नजदीक पहुंच गया है। रेल प्रशासन दोनों स्थानों से ट्रेनों को धीमी गति से चलाना शुरू कर दिया है। रेलवे के सभी बड़े पुलों में लगातार निगरानी कराई जा रही है।

पहाड़ पर बारिश होने से नदियों ऊफान पर पहुंच गई है। उत्तराखंड के कुमाऊं मंडल में कई स्थानों पर रेल लाइन के नीचे मिट्टी बह चुकी  है। इससे काठगोदाम रामनगर के लिए ट्रेनों का संचालन बंद कर दिया गया है। मुरादाबाद रेल मंडल के मुरादाबाद-रामपुर के बीच दलपतपुर-मूंढापांडे के बीच बाढ़ का पानी पहुंच गया है। इसी तरह से बरेली के पास टिसुआ स्टेशन के पास भी रेल लाइन के किनारे तक बाढ़ का पानी पहुंच गया है। मंडल रेल प्रशासन ने दोनों स्थानों पर ट्रेनों को धीमी गति से चलाने का आदेश दिया है। दोनों स्थानों से गुजरने वाले मालगाड़ी व ट्रेन चालकों को विशेष निर्देश द‍िए जा रहे हैं क‍ि  रेललाइन के दोनों ओर देखकर चलें, कहीं मिट्टी कटना लगे तो ट्रेन रोक दें और कंट्रोल रूम को तत्काल सूचना दें।

मुरादाबाद रेल मंडल के लक्सर से देहरादून रेल मार्ग आता है। इस मार्ग पर रेल प्रशासन निगरानी रखे हुए हैं। हालांकि इस मार्ग पर अभी तक बाढ़ का पानी आने की सूचना नहीं है। रेल मंडल के 34 बड़े पुलों पर कर्मचारी तैनात कर द‍िए गए हैं। वे नदियों के बढ़ते जलस्तर पर लगातार नजर रखे हुए हैं। प्रवर वाणिज्य प्रबंधक सुधीर सिंह ने बताया कि रेललाइन के नजदीक बाढ़ का पानी आने पर ट्रेनों को धीमी गति से चलाया जा रहा है।

यह भी पढ़ें :-

Flood in Moradabad : हाईवे पर पहुंचा कोसी नदी का पानी, सात घंटे से आवागमन बंद, यहां देखें तस्‍वीरें

Rise in Ganga Water Level : तिगरी गंगा के जलस्‍तर में बढ़ोतरी, एक बार फिर गांवों में घुसा पानी

Flood in Rampur : उत्तराखंड जाने वाले सभी रास्तों पर बाढ़ का पानी, घाटमपुर में तीन युवक बहे

Fake Currency Case : मुरादाबाद में नकली नोट खपाने वाले तीन आरोपितों पर लगा एनएसए, सरगना फरार

Edited By: Narendra Kumar