नई दिल्ली (साक्षी पंड्या)। टेक्नोलॉजी के विस्तार के चलते लोगों का गैजेट्स को इस्तेमाल करने का तरीका तेजी से बदल रहा है। पहले जो गैजेट्स शौक की चीज थी, अब वही गैजेट्स जिंदगी का एक हिस्सा बन चुके हैं। गैजेट्स की श्रेणी में भी लोग बेहतर टेक्नोलॉजी और फीचर्स पर स्विच कर रहे हैं। पहले यूजर्स वायर्ड इयरफोन्स का इस्तेमाल किया करते थे। ऐसा नहीं है की अब वायर वाले इयरफोन्स का इस्तेमाल बंद हो गया है। लेकिन कम्फर्ट और क्वालिटी को पसंद करने वाले यूजर्स अब वायरलेस इयरफोन्स और हेडफोन्स का इस्तेमाल करने लगे हैं। यही कारण है की एप्पल, सैमसंग जैसी कंपनियों के मध्य वायरलेस हेडफोन्स या इयरफोन्स के मामले में भी कड़ी टक्कर होती है।

इसी श्रेणी में Toreto ने कुछ समय पहले Tods ईयरबड्स लॉन्च किये थे। हमने कुछ समय इन इयरबड्स का इस्तेमाल किया है। इसके रिव्यू में पढ़ें की 3999 रुपये की कीमत में यह ईयरबड्स लेना कितना फायदे का सौदा है?

कैसा है कम्फर्ट?

ब्लैक कलर में उपलब्ध Toreto Buds भारत में सभी ई-कॉमर्स साइट्स पर बिक्री के लिए उपलब्ध है। यह बड्स एक साल की वारंटी के साथ आते हैं। लॉन्च के समय कंपनी का कहना था की यह बड्स कानों में अच्छे से फिट हो जाते हैं। सिलिंड्रिकल शेप में आने वाले यह बड्स कान में फिट तो हो जाते हैं लेकिन इसकी शेप थोड़ा परेशान जरूर करती है। इयरबड्स के साथ आपको मैग्नेटिक चार्जर भी मिलेगा। यह इयरबड्स का केस होगा। यानि किसी भी अन्य इयरबड्स की तरह जो चार्जिंग केस में आते हैं, ये भी उसी तरह काम करेंगे। इसलिए इसमें चार्जिंग के लिए अलग से वायर लेकर चलने का झंझट नहीं रहता। इयरबड्स को आप केस में डालेंगे तो वो अपने आप ही चार्ज होना शुरू हो जाएंगे। आप इन्हे पहन कर इंटेंस वर्कआउट नहीं कर पाएंगे। इसकी ग्रिप के कारण यह कान से निकल जाते हैं। तो एक्सरसाइज करते समय पहनने के लिए यह नहीं बने हैं।

वायरलेस कनेक्शन के साथ स्वेट प्रूफ

ट्रू वायरलेस कनेक्शन के साथ ये वायरलेस इयरबड्स स्वेट प्रूफ हैं। साइकलिंग के दौरान इसे इस्तेमाल करने पर कोई परेशानी नहीं आयी। इसमें 4.2+EDR ब्लूटूथ वर्जन दिया गया है। ब्लूटूथ कनेक्टिविटी के मामले में हमें किसी तरह की परेशानी का सामना नहीं करना पड़ा। इयरबड्स को टाच कर के आप म्यूजिक कंट्रोल कर सकते हैं। इनपर डबल टैप करने पर आप कॉल उठा या काट सकते हैं। सांग को दोबारा चलाने के लिए लेफ्ट इयरबड को लॉन्ग प्रेस करें। गाना बदलने के लिए राइट इयरबड को लॉन्ग प्रेस कर के रखें। यह सभी फंक्शन्स अच्छे से काम करते हैं। इसका ट्रांसमिशन रेट 10 मीटर का है जो की अधिकतर BT डिवाइसेज का भी है।

बैटरी लाइफ: कंपनी के दावे के अनुसार ये इयरबड्स बैटरी के मामले में अच्छे हैं। एक चार्ज में इयरबड्स 3 बार चार्ज हो जाते हैं। इसी के साथ अगर आप कुछ दिनों तक इयरबड्स इस्तेमाल नहीं करते तो काफी दिनों तक उनकी बैटरी लाइफ चलती है। मतलब यह है की 80 घंटे का स्टैंडबाय का कंपनी का दावा भी लगभग सही है। तो अगर आप लम्बे समय तक म्यूजिक सुनते हैं तो ये इयरबड्स आपका जल्दी साथ नहीं छोड़ने वाले हैं।

साउंड कॉलिटी: सबसे जरुरी पहलू इयरबड्स की साउंड क्वालिटी है। अब अगर आप इसके फीचर्स की बात करें तो फंक्शन से लेकर फीचर्स तक सभी अन्य महंगे वायरलेस बड्स से मिलते-जुलते हैं। लेकिन इसकी कीमत और उनकी कीमत में 10 से 15 हजार का फर्क है। ऐसे में जाहिर तौर से साउंड क्वालिटी में भी फर्क होगा। म्यूजिक फुल करने पर बड्स काफी लाऊड लगते हैं और म्यूजिक की क्वालिटी भी खराब सुनाई देती है। अलग-अलग म्यूजिक ऐप्स से इस्तेमाल कर के देखने पर इसके अनुभव में भी थोड़ा बहुत फर्क देखने को मिला। एप्पल म्यूजिक, विंक, स्पॉटीफाई सभी ऐप्स की सांग क्वालिटी में अंतर होता है। इसकी ऑडियो क्वालिटी में बेस की थोड़ी कमी लगती है। इसके मेड्स और ट्रेबल में हमें कोई परेशानी नहीं आई।

हमारा फैसला: Tods के साथ 3999 रुपये में आपको ट्रू वायरलेस अनुभव मिलेगा। स्वेट-प्रूफ फीचर के साथ इसकी बिल्ड क्वालिटी और बैटरी लाइफ अच्छी है। साउंड क्वालिटी के मामले में इसे औसत कहा जा सकता है। हमारे अनुसार अगर आप ट्रू वायरलेस की जगह नैकबैंड वाले ब्लूटूथ इयरबड्स के विकल्प देखें तो आपको बेहतर साउंड क्वालिटी के प्रोडक्ट्स कम कीमत में मिल सकते हैं। हालांकि, अगर आप ट्रू वायरलेस बड्स लेना चाहते हैं तो Tods को विकल्प के रूप में देख सकते हैं।

यह भी पढ़ें:

Redmi Note 6 Pro को 399 रुपये में घर ले जाने का मौका, पढ़ें ऑफर डिटेल्स

Nokia X71 स्मार्टफोन 2 अप्रैल को ट्रिपल रियर कैमरा और स्नैपड्रैगन 660 के साथ होगा लॉन्च

OnePlus ने टीज किया Warp-चार्ज पावर्ड इलेक्ट्रिक कार, जानें क्या है यह नई तकनीक

Posted By: Sakshi Pandya