नई दिल्ली, एएनआइ। लोकसभा में कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी ने पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी का बचाव किया है। उन्होंने सलमान खुर्शीद से पार्टी स्तर पर सभी मुद्दों पर चर्चा करने का आग्रह किया है। पार्टी के वरिष्ठ नेता सलमान खुर्शीद ने बुधवार को कहा था कि कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी लोकसभा चुनाव में हार के बाद पार्टी को मझदार में छोड़कर गए ।

चौधरी ने एएनआइ से बुधवार को कहा, 'जब पार्टी राज्यों में चुनावी मोड में है, तो इस तरह की टिप्पणियों या बयान से पार्टी को नुकसान होगा। बाहर बोलने के बजाय खुर्शीद को पार्टी के भीतर अपनी राय जाहिर करना चाहिए।' उन्होंने कहा कि वह सलमान खुर्शीद द्वारा दिए गए बयान से इत्तेफाक नहीं रखते। 

चौधरी ने कहा, 'कई मौकों पर, राहुल गांधी ने स्पष्ट रूप से कहा है कि उन्हें लगता है कि कांग्रेस की हार की जिम्मेदारी कांग्रेस अध्यक्ष की नैतिक जवाबदेही है। इसी के तहत उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष की कुर्सी को त्यागना उचित समझा।'

चुनावी हार का विश्लेषण जारी 

कांग्रेस नेता ने कहा कि राहुल गांधी ने अपने पद से इस्तीफा देकर वर्तमान राजनीतिक परिदृश्य में दुर्लभ उदाहरण दिए हैं। उन्होंने कहा, 'कांग्रेस को चुनावी हार का सामना करना पड़ा और विश्लेषण जारी है। प्रत्येक राज्य में, कांग्रेस नेता पार्टी की हार के कारण की जांच और विश्लेषण कर रहे हैं।' 

ज्योतिरादित्य सिंधिया के बयान पर अधीर का जवाब

गौरतलब है कि खुर्शीद के बयान के बाद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा था कि पार्टी को आत्मनिरीक्षण करने की जरूरत है। चौधरी ने इस पर कहा, 'हम सभी आत्मनिरीक्षण के दौर से गुजर रहे हैं। यही वजह है कि पूरी स्थिति पर मंथन करने के बाद अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी (AICC) ने सोनिया गांधी से अनुरोध किया कि वे पार्टी के अध्यक्ष पद का प्रभार संभालें।

राफेल के 'शस्त्र पूजा' को लेकर राजनाथ सिंह की आलोचना

कांग्रेस नेता ने फ्रांस में राफेल लड़ाकू जेट के 'शस्त्र पूजा'  के लिए रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह की आलोचना की और इसे भाजपा कि 'ओछी राजनीति' बताया। चौधरी ने कहा, 'हम उनकी ओछी राजनीति को अच्छे से समझ रहे हैं। वे यह दिखावा करने की कोशिश कर रहे हैं कि उन्होंने ही ऐसा किया है। यह एक लगातार चलने वाली प्रक्रिया है, जो वर्ष 2007 से शुरू हुई।' बता दें कि बुधवार को कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं सलमान खुर्शीद और ज्योतिरादित्य सिंधिया ने पार्टी की मौजूदा स्थिति और भविष्य को लेकर चिंता व्यक्त की थी।

यह भी पढ़ें: अधीर रंजन बोले, भारतीय राजनीति में राहुल गांधी जैसे नेता बिरले ही होते हैं

यह भी पढ़ें: राहुल गांधी के अध्यक्ष पद छोड़ने पर थमा नहीं है कांग्रेस का घमासान, खड़े हुए गंभीर सवाल

Posted By: Tanisk

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप