करनाल, [अश्विनी शर्मा]। भारतीय किकेट टीम में शामिल किए गए तेज गेंदबाज करनाल के नवदीप सैनी का कहना है कि मेरी हर कामयाबी गाैतम भैया (गौतम गंभीर) के नाम है। उनकी वजह से ही मुझे यह मुकाम मिला है। उनकी वजह से ही आज टीम इंडिया में आने का मौका मिला है। टीम का स्थायी सदस्य बनने के लिए जी जान लगा दूंगा। इस समय लाइन व लेंथ पर ज्यादा फोकस कर रहा हूं। टेस्ट में खेलने का अवसर मिला तो इसे हाथ से नहीं जाने दूंगा।

अफगा‍निस्‍तान के खिलाफ खेले जानेवाले टेस्‍ट मैच के लिए चुने जाने के बाद फाेन पर हुई खास बातचीत में नवदीप ने कहा कि मेरा क्रिेकेट कैरियर गौतम गंभीर की देन है। यही कारण है कि जब मैं उनके बारे में बात करते समय भावुक हो जाता हूं। मेरी सफलता का पूरा श्रेय गौतम गंभीर को जाता है। गौतम भइया की वजह से ही मुझे यहां तक पहुंचने का अवसर मिला है। नवदीप को मोहम्‍मद शमी के फिटनेस टेस्‍ट में पास न होने पर टीम इंडिया मेंं शामिल किया गया है।

करनाल एक्सप्रेस के नाम से मशहूर नवदीप सैनी तरावड़ी कस्बे के रहनेवाले हैं। गरीब परिवार से ताल्‍लुक रखनेवाले नवदीप सैनी को अभी भी अपने क्रिकेट जीवन में मिली ऊंचाइयां सपना सरीखा लगती हैं। बेंगलुरु रवाना होने से पहले दिल्ली एयरपोर्ट से फोन पर बातचीत में नवदीप ने कहा कि भारतीय टेस्ट टीम में जगह मिलना बेहद सम्मान की बात है।

 

यह भी पढ़ें: अब प्रियंका चोपड़ा आईं अम्‍मू के निशाने पर, कहा- देशद्रोह का केस दर्ज हो

नवदीप ने कहा कि प्रत्येक क्रिकेटर का सपना होता है कि वह भारतीय टीम में खेले। टी-20 व वन डे के बाद सबसे बड़ी चाहत होती है कि टेस्ट में भी मौका मिले। टेस्ट में ही खिलाड़ी की असली टेस्ट होता है। इस अवसर को भुनाने के लिए मैं कोई कोर कसर नहीं छोड़ूंगा।

बिना कोई अंतरराष्‍ट्रीय मैच खेले आइपीएल में मिली तीन करोड़ की कीमत

नवदीप सैनी को बिना कोई अंतारराष्‍ट्रीय मैच खेले आइपीएल की नीलामी में तीन करोड़ की कीमत मिली। उन्‍हें  विराट कोहली की कप्‍तानी वाली रॉयल चैलेंजर्स बेंगलूरू (आरसीबी) टीम ने तीन करोड़ रुपये में खरीदा था। उनको अाइपीएल में खेलने का मौका तो नहीं मिला, लेकिन उनको इसका फायदा बहुत मिला। नवदीप ने कहा कि मैच नहीं खेलने की वजह से उनके मनोबल पर कोई असर नहीं पड़ा। उनकी टीम में विश्व के सर्वश्रेष्ठ क्रिकेटर थे। उनकी संगत से बहुत लाभ मिला। विराट भइया ने भी खूब सपोर्ट किया।

भारतीय टीम में चयन की उम्मीद नहीं थी

नवदीप सैनी सोमवार को करनाल में ही थे। उसे फोन पर ही पता चला कि उसका चयन भारतीय टीम में हुआ गया। उनको तुरंत दिल्ली और फिर वहां से बेंगलुरु आने के लिए कहा गया। नवदीप ने कहा कि उन्‍हें पहले से कोई ऐसा संकेत नहीं मिला था कि भारतीय टेस्ट टीम में चयन हो सकता है। वह तो इंग्लैंड टूर पर जाने की तैयारी कर रहे थे।

गौतम भइया ने कहा, बहुत आगे तक जाना है

नवदीप ने बताया कि भारतीय टीम में चयन के बाद गौतम गंभीर ने उन्हें फोन पर बधाई दी। गाैतम भइया ने  हौसला बढ़ाते हुए कहा कि टीम में चयन होना महज एक पड़ाव पार करना है। अभी तुम्हें बहुत आगे तक जाना है। बता दें कि गौतम गंभीर को नवदीप के बारे में पता चला ताे वह उसे तरावड़ी की गलियाें से निकालकर दिल्‍ली ले गए। नवदीप को भारी विरोध के बावजूद गौतम गंभीर ने दिल्‍ली की टीम में शामिल कराया।

यह भी पढ़ें: सलमान खान की जान को गंभीर खतरा, ताक में हैं संपत के कई साथी, मुंबई पुलिस को अलर्ट

--------

 पिता बोले, बेटे पर नाज है

नवदीप सैनी के भारतीय टेस्ट क्रिकेट टीम में चुने जाने की खबर मिलते ही उसके घर बधाई देने वालों का तांता लग गया। दोस्तों ने भी खूब जश्न मनाया। नवदीप के पिता अमरजीत सैनी व मां गुरमीत कौर ने बेटे को बेहतर प्रदर्शन करने का आशीर्वाद दिया। उन्होंने कहा कि टेस्ट मैच में खेलने का अवसर मिला तो नवदीप चयनकर्ताओं की अपेक्षाओं पर खरा उतरेगा, इसका भरोसा है। उन्हें अपने बेटे पर नाज है।
 

Posted By: Sunil Kumar Jha