Move to Jagran APP

Lok Sabha Election 2024: पांचवें चरण में बंगाल की 'वीआईपी' लड़ाई, सात सीटों पर आठ स्टार उम्मीदवार, रील लाइफ मां-बेटी भी आमने-सामने

Lok Sabha Election 2024 पांचवें चरण में बंगाल की चुनावी लड़ाई वीआईपी हो चली है क्योंकि इस चरण की सात सीटों में कुल आठ स्टार उम्मीदवार मैदान में हैं। इनमें से एक सीट पर दो अभिनेत्रियों का आमना-सामना हो रहा है। दोनों ने रील लाइफ में मां-बेटी और बहन का रोल निभाया है लेकिन अब चुनावी जंग में एक दूसरे के सामने हैं।

By Jagran News Edited By: Sachin Pandey Published: Sun, 19 May 2024 06:00 AM (IST)Updated: Sun, 19 May 2024 06:00 AM (IST)
Lok Sabha Election 2024: पांचवें चरण में बंगाल की सात सीटों पर मतदान होगा।

चुनाव डेस्क, सिलीगुड़ी। लोकसभा चुनाव 2024 के पांचवें चरण में आगामी 20 मई को बंगाल के और सात लोकसभा क्षेत्रों में मतदान होने जा रहा है। उनमें बनगांव, बैरकपुर, हावड़ा, उलुबेरिया, श्रीरामपुर, हुगली व आरामबाग लोकसभा क्षेत्र शामिल हैं। इन क्षेत्रों में कुल मिला कर आठ स्टार व वीआईपी उम्मीदवारों की किस्मत भी दांव पर है।

इन सबमें सबसे ज्यादा चर्चा हुगली लोकसभा सीट की दो अभिनेत्री उम्मीदवारों की है। इस सीट से भाजपा ने यहीं की अपनी वर्तमान सांसद अभिनेत्री लाकेट चटर्जी को दोबारा इस बार भी टिकट दिया है। वहीं, अभिनेत्री उम्मीदवार के जवाब में तृणमूल कांग्रेस ने भी यहां एक अभिनेत्री को ही मैदान में उतारा है। वह अभिनेत्री रचना बनर्जी हैं। इन दोनों ने कभी फिल्मों में साथ-साथ काम किया।

रियल लाइफ चुनावी जंग

रील लाइफ में आपस में मां-बेटी, बहन, दोस्त सब बनीं। मगर, अब एक-दूसरे की घोर प्रतिद्वंद्वी हैं। सो, लाकेट बनाम रचना मामला जम गया है। इन दोनों अभिनेत्री उम्मीदवारों के बीच कीचड़ उछाल प्रतिद्वंद्विता यानी जुबानी जंग भी खूब छिड़ गई है, जिसका लोग-बाग भी खूब मजे ले रहे हैं।

चौथी जीत की आस

वहीं, श्रीरामपुर लोकसभा सीट से बीते चुनावों में लगातार तीन बार जीत कर हैट्रिक लगाने वाले तृणमूल कांग्रेस के सांसद कल्याण बनर्जी भी पुन: तृणमूल कांग्रेस के ही टिकट पर इसी सीट से चुनावी मैदान में हैं। वह चंद महीने पहले संसद परिसर में उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़ की मिमिक्री कर खूब सुर्खियों में आए थे। तब, उनकी मिमिक्री की राहुल गांधी ने अपने मोबाइल से वीडियोग्राफी की थी। उस पर भी खूब हंगामा मचा था।

उन्हें उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़ की नाराजगी का सामना करना पड़ा था। उपराद्यट्रपति ने उनके इस कृत्य को ‘शर्मनाक, हास्यास्पद और अस्वीकार्य’ कहा था। इस बार चुनाव में कल्याण बनर्जी को कुछ ज्यादा चुनौती है क्योंकि भाजपा ने उनके विरुद्ध उनके पूर्व दामाद कबीर शंकर बोस को खड़ा किया है। वहीं दूसरी ओर कांग्रेस-वाममोर्चा गठबंधन से मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी की युवा नेत्री दीपशिता धर उनके सामने हैं।

बनगांव

इनके अलावा बनगांव लोकसभा सीट से, भाजपा द्वारा इसी सीट के अपने सांसद व मोदी सरकार में केंद्रीय बंदरगाह, जहाजरानी और जलमार्ग राज्य मंत्री रहे शांतनु ठाकुर को पुन: उम्मीदवार बनाया गया है। उनके सामने पूरंव भाजपाई और वर्तमान में बागदह के तृणमूल कांग्रेसी विधायक विश्वजीत दास ताल ठोके हुए हैं। वैसे, पहले शांतनु ठाकुर के पिता व चाचा तृणमूल कांग्रेस के विधायक व सांसद रहे थे।

बैरकपुर

वहीं, बैरकपुर सीट से भाजपा के सांसद उम्मीदवार अर्जुन सिंह की भी खासी चर्चा है। क्योंकि, पहले भाटपाड़ा से तृणमूल कांग्रेस विधायक रहे अर्जुन सिंह 2019 में भाजपा में चले गए। भाजपा के टिकट पर ही बैरकपुर से पहली बार सांसद निर्वाचित हुए। मगर, वह 2022 में वापस तृणमूल कांग्रेस में आ गए। इधर, लोकसभा चुनाव 2024 से ठीक पहले पुन: भाजपा में चले गए। अब फिर इस लोकसभा चुनाव 2024 में बैरकपुर से भाजपा के ही उम्मीदवार हैं।

ये भी पढ़ें- जब महज एक वोट से गिर गई अटलजी की सरकार, कौन था वो एक सांसद, जिसे झेलनी पड़ी थी आलोचना, पढ़िए पूरी कहानी

उन्हें नैहाटी से लगातार तीन बार के तृणमूल कांग्रेस के विधायक पार्थ भौमिक चुनौती दे रहे हैं। सूत्रों की मानें तो शांतनु ठाकुर और अर्जुन सिंह दोनों पर तृणमूल कांग्रेस सुप्रीमो ममता बनर्जी की भी बड़ी टेढ़ी नजर है। उपरोक्त स्टार व वीआईपी उम्मीदवारों के अलावा पूर्व भारतीय फुटबालर और हावड़ा से तीन बार के सांसद तृणमूल कांग्रेस के प्रसून बनर्जी और उलुबेरिया की सांसद एवं इसी सीट के पूर्व सांसद तृणमूल कांग्रेस के कद्दावर नेता रहे सुल्तान अहमद की पत्नी साजदा अहमद भी पुन: अपनी-अपनी संबंधित सीट से ही चुनावी मैदान में हैं।

चार जून को साफ होगी तस्वीर

इन सबका क्या होगा? यह तो 20 मई को पांचवें चरण के मतदान में मतदाता तय करेंगे जिसका परिणाम देश भर की मतगणना संग आगामी चार जून को सामने आएगा। सभी उम्मीदवारों ने पूरी ताकत झोंक दी है। अधिकांश सीटों पर त्रिकोणीय मुकाबले का अनुमान है।

ये भी पढ़ें- Lok Sabha Election 2024: रॉबर्ट्सगंज...कैसे पड़ा यूपी की इस लोकसभा सीट का अंग्रेजी नाम? पढ़िए इसके पीछे की कहानी


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.