नई दिल्ली, जागरण डिजिटल डेस्क। साल की शुरुआत यानी जनवरी में लान्च दिल्ली विकास प्राधिकरण (Delhi Development Authority) की आवासीय योजना 2021 (DDA Housing Scheme 2021) की विफलता ने अधिकारियों को निराश कर दिया है। आवासीय योजना 2021 में 50 फीसद से अधिक सफल आवंटियों ने अपने फ्लैट वापस कर दिए हैं, जिससे डीडीए को बड़ा झटका लगा है।

दरअसल, डीडीए ने जनवरी में द्वारका, जसोला, मंगलापुरी, वसंत कुंज और रोहिणी में कुल 1354 फ्लैटों की आवासीय योजना लान्च की थी। इन फ्लैटों की कीमत 8 लाख से लेकर 2 करोड़ रुपये तक थी। खूबसूरत लोकेशन के साथ अन्य सुविधाओं के होने के बावजूद 50 फीसद से अधिक आवंटियों ने फ्लैट डीडीए के समक्ष सरेंडर कर दिए। इसकी कई वजहें सामने आई हैं, इनमें सबसे बड़ी वजह है इन फ्लैटों की कीमत अधिक होना।

कहा जा रहा है कि इनकी कीमत की तुलना में सुविधाएं बेहद कम थी और इनके फ्लैट में रूम और बाथरूम-किचन के साइज भी लोगों को पसंद नहीं आए। वहीं, प्राइवेट बिल्डर इससे भी कम कीमत में अच्छे फ्लैट दे रहे हैं। ऐसे में आवंटियों ने डीडीए को ये फ्लैट वापस कर दिए हैं और प्राइवेट बिल्डर से आशियाना खरीदने में रुचि दिखा रहे हैं। डीडीए से जुड़े एक अधिकारी की मानें तो विभाग के फ्लैटों की ज्यादा कीमत होने की वजह से ही लोगों ने सरेंडर करना मुनासिब समझा है। वहीं, प्राइवेट बिल्डर कम कीमत में सारी सुविधाओं से लैस फ्लैट दे रहे हैं।

Indian Railway News: रेलवे के नए साफ्टवेयर से यात्रियों को राहत, मिलेगी अब ट्रेन की सटीक जानकारी

Hartalika Teej 2021 Date: कब होगी हरतालिका तीज? जानें- शुभ मुहूर्त, व्रत कथा और पूजा विधि के बारे में

दिल्ली मेट्रो के नजदीक बने प्लैट भी नहीं भाए लोगों को

गौरतलब है कि डीडीएन ने आवासीय योजना 2021 के तहत दक्षिण दिल्ली स्थित जसोला-शाहीन बाग मेट्रो स्टेशन से महज कुछ किलोमीटर की दूरी पर जसोला पाकेट 9बी में 14-मंजिल एचआइजी फ्लैट लान्च किए थे। अच्छी लोकेशन के साथ इन फ्लैटों की कीमत सवा दो करोड़ रुपये आसपास थी। बावजूद इसके 80 फीसद आवंटियों ने फ्लैट सरेंडर किए हैं। 

अब करोड़ों ट्रेन यात्रियों का सफर आसान करेगी भारतीय रेलवे की यह सुविधा

RIP Aruna Bhatia: एक्टर अक्षय कुमार की मां का दिल्ली से था खास रिश्ता, मुंबई जाकर भी खत्म नहीं हुआ चांदनी चौक से जुड़ाव

इन सुविधाओं से लैस थे फ्लैट

लग्जरी फ्लैट में मल्टी लेवल अंडरग्राउंड पार्किंग के अलावा थ्री टियर इन हाउस वाटर मैनेजमेंट माडल भी है। इसके साथ रेन वाटर हार्वेस्टिंग की भी सुविधा थी। 24 घंटे पानी का भी इंतजाम था। सभी कमरों में प्राकृतिक रोशनी की भी बात कही जा रही थी। बावजूद इसके इन लग्जरी फ्लैट पसंद नहीं आना, डीडीए अधिकारियों के लिए किसी बड़े झटके से कम नहीं है। दरअसल, जसोला में 215 एचआइजी फ्लैटों में से 175 आवंटियों ने सरेंडर कर दिए।

यह भी पढ़ेंः दिल्ली के इस इलाके में लोगों को जाम से मिलेगी राहत, एक घंटे का सफर 15 मिनट में होगा पूरा

Hartalika Teej 2021 Date: कब होगी हरतालिका तीज? जानें- शुभ मुहूर्त, व्रत कथा और पूजा विधि के बारे में

पश्चिमी दिल्ली के द्वारका में बने फ्लैटों ने भी किया निराश

डीडीए की आवासीय योजना 2021 में लान्च द्वारका के एमआइजी फ्लैटों के बारे में कहा जा रहा था, इनमें लोगों की सबसे ज्यादा रुचि होगी। कई तरह की सुविधाओं के चलते इनकी कीमत 1.1 करोड़ से 1.2 करोड़ रुपये तक थी। सफल आवंटियों की बेरुखी का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि द्वारका सेक्टर 19 में 352 में से 295 फ्लैट सरेंडर किए गए हैं। सिर्फ 100 लोगों ने डीडीए के इन फ्लैटों में अपना विश्वास जताया है।

यह भी पढ़ेंः दिल्ली यूनिवर्सिटी के इस कालेज में स्टूडेंट की फीस माफ, मिलेगा आर्थिक पैकेज; ये हैं शर्ते

गाजियाबाद की ADM ऋतु सुहास की मनोकामना पूरी, नोएडा के डीएम के साथ करेंगी विशेष पूजा

 Delhi Metro News: पढ़िये- एक साल बाद भी तकरीबन 3000 करोड़ के घाटे से क्यों नहीं उबर पा रही मेट्रो

Edited By: Jp Yadav