नई दिल्ली [संतोष कुमार सिंह]। Alert for Train Passengers of Bihar and Uttar Pradesh: उत्तर प्रदेश के टुंडला स्टेशन और सोनपुर मंडल में चल रहे निर्माण कार्यों की वजह से दिल्ली आने-जाने वाली कई ट्रेनें प्रभावित होंगी। कई ट्रे्नों के प्रस्थान समय में तो कई के मार्ग में बदलाव किया गया है।

20 अक्टूबर को आनंद विहार टर्मिनल से जोगबनी के बीच चलने वाली सीमांचल एक्सप्रेस सुबह साढ़े सात बजे के बजाय पूर्वाह्न 11.30 बजे रवाना होगी। इसी तरह से आनंद विहार टर्मिनल-हावड़ा एक्सप्रेस सुबह 07.05 बजे की जगह पूर्वाह्न 11 बजे और महानंदा एक्सप्रेस सुबह 06.35 की जगह पूर्वाह्न 10.30 बजे चलेगी।

22 व 23 अक्टूबर को बिहार संपर्क क्रांति एक्सप्रेस छपरा-हाजीपुर-मुजफ्फरपुर की जगह गोरखपुर-पनियहवा के रास्ते चलेगी। इसी तरह से 22 अक्टूबर को रवाना होने वाली अमृतसर-कटिहार एक्सप्रेस बरौनी-मुजफ्फरपुर-हाजीपुर की जगह शाहपुर पटोरी के रास्ते चलेगी। वहीं, नई दिल्ली-न्यू जलपाईगुड़ी एक्सप्रेस, सहरसा-अमृतसर जनसाधारण एक्सप्रेस सहित कई ट्रेनें इस माह देरी से चलेंगी।

सेवा सर्विस की सेवा भी कर रही निराश

वहीं, दिल्ली-शामली रूट पर सफर करने वाले यात्रियों की परेशानी ‘सेवा सर्विस ट्रेन’ चलने से भी दूर नहीं हुई है। यात्रियों को उम्मीद थी कि इस नई ट्रेन से उनका सफर आसान होगा और वह समय पर गंतव्य तक पहुंच सकेंगे, लेकिन फिलहाल तो उन्हें निराशा ही हाथ लग रही है। अन्य ट्रेनों की तरह यह भी लेटलतीफी का शिकार होने लगी है। रेलवे अधिकारी यह जरूर आश्वासन दे रहे हैं कि जल्द ही समस्या दूर होगी और यह ट्रेन समय पर चलेगी।

बड़े शहरों से छोटे शहरों को जोड़ने के लिए रेलवे ने ‘सेवा सर्विस ट्रेन’ नाम से देशभर में नौ ट्रेनों की शुरुआत की है। 15 अक्टूबर को नई दिल्ली स्टेशन पर आयोजित कार्यक्रम में रेल मंत्री पीयूष गोयल अन्य केंद्रीय मंत्रियों के साथ इन ट्रेनों को हरी झंडी दिखाई थी। दिल्ली से शामली के बीच भी ‘सेवा सर्विस ट्रेन’ शुरू हुई है। दावा किया गया था कि इसके चलने से इस रूट पर सफर करने वाले यात्रियों को बेहतर विकल्प उपलब्ध होगा। दैनिक यात्री समय पर गंतव्य पर पहुंच सकेंगे। यात्री भी इसे लेकर उत्साहित थे, लेकिन इस ट्रेन का हश्र भी अन्य ट्रेनों की तरह होने लगा है।

दिल्ली से शामली के बीच रोजाना हजारों की संख्या में लोकल यात्री सफर करते हैं जिनमें ज्यादा संख्या दैनिक यात्रियों की है। कामकाज करने वालों और विद्यार्थियों के लिए लोकल ट्रेनें ही एकमात्र सहारा है। इस स्थिति में इन ट्रेनों के लेट चलने से दैनिक यात्रियों की परेशानी बढ़ जाती है। नई ट्रेन से भी अब उन्हें निराशा होने लगी है, क्योंकि 16 तारीख से इस ट्रेन का नियमित परिचालन शुरू हुआ है और सिर्फ पहले दिन ही यह पुरानी दिल्ली से सुबह 8.40 बजे चलकर निर्धारित समय पर शामली पहुंची है। 17 अक्टूबर को यह ट्रेन पुरानी दिल्ली से 46 मिनट की देरी से रवाना हुई। शुक्रवार को भी यह एक घंटे विलंब रही। वापसी दिशा में जरूर कुछ स्थिति बेहतर है।

वहीं, रेलवे अधिकारियों का कहना है कि इस रूट पर सिंगल लाइन होने की वजह से ट्रेनें लेट होती हैं। पुरानी दिल्ली स्टेशन से सुबह 8.40 बजे सेवा सर्विस के साथ ही पुरानी दिल्ली-गाजियाबाद ईएमयू भी रवाना होती है। इस वजह से भी यह ट्रेन लेट हो रही है। इसी तरह से कई और कारण हैं, जिनकी पहचान की जा रही है।

13 ट्रेनें चलती हैं इस रूट पर

इन दोनों स्टेशनों के बीच उदयपुर सिटी-हरिद्वार एक्सप्रेस व फरुखनगर-सहारनपुर जनता एक्सप्रेस सहित 13 ट्रेनें चलती हैं। सबसे कम समय में रात 11.05 बजे चलने वाली पुरानी दिल्ली-शामली पैसेंजर (54059) ढाई घंटे में पहुंचती हैं। वहीं अन्य पैसेंजर ट्रेनें 94 किलोमीटर का सफर साढ़े तीन से चार घंटे का समय लेती हैं।

जहरीली हो रही दिल्ली की हवा : CPCB की सलाह, IT-कॉरपोरेट कर्मचारी घर से ही करें काम

छात्रों को मानसिक प्रताड़ना से बचाएं स्कूल, जानें- HC ने किस दर्दनाक हादसे के बाद की यह टिप्पणी

YouTube के वीडियो से सीखा तरीका, पढ़िए- फिर कैसे कुछ देर में तोड़ डाला ATM; उड़ा लिए पैसे

दिल्ली-NCR की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां पर करें क्लिक

 

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस