दरभंगा, जासं। बि‍हार व‍िधानसभा चुनाव 2020 में जदयू ने अपने लचर प्रदर्शन को पूरी गंभीरता से ल‍िया है। यही वजह है क‍ि चुनाव संपन्‍न होने के बाद से ही पार्टी खुद को मजबूत करने के ल‍िए कोई भी कसर नहीं छोड़ना चाह रही है। केंद्रीय व प्रदेश के नेतृत्‍व में बदलाव के बाद लवकुश समीकरण को साधा गया। इसके बाद अब इटली मॉडल को अपनाने की कवायद शुरू कर दी गई है। माना जा रहा है इसकी मदद से ही जहां राजद के वोट बैंक में सेंध लगाने की कोश‍िश की जाएगी वहीं लोजपा को धूल चटाई जाएगी। 

दरअसल, व‍िधानसभा चुनाव के दौरान तीसरे नंबर पर पहुंचने के बाद सीएम नीतीश कुमार ने पार्टी को बूथ स्‍तर तक मजबूत करने का संकल्‍प ल‍िया था। इसी क्रम में पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष आरसीपी सिंह दरभंगा पहुंचे थे। यहां के शुभंकरपुर मोहल्ले में राज्य परिषद सदस्य मदन राय के आवासीय परिसर में जिला एवं प्रखंड स्तरीय कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए उन्‍होंने कहा- इटली में एक बूथ पर एक निरीक्षक होते हैं। लेकिन, अपने यहां 9 बूथों पर एक निरीक्षक होते हैं। हमारा देश इटली तो है नहीं। लेकिन, गांव में जितने भी बूथ होते हैं उसका एक निरीक्षक होना चाहिए। इससे बूथ स्‍तर पर पार्टी की नीत‍ियों को लागू कर पाना संभव हो सकेगा। इतना ही नहीं जनता की समस्‍या को सरकार तक पहुंचाना और सरकार की योजनाओं की जानकारी संबंध‍ित लाभुक तक दे पाना संभव हो सकेगा।   

 आरसीपी ने कहा क‍ि कार्यकर्ता अगर प्रतिदिन पांच परिवार से मिलेंगे तो निश्चित तौर पर पार्टी पूरी मजबूती से उभरेगी। कहा कि देश स्तर पर जदयू इकलौती पार्टी है, जहां नीतीश कुमार जैसी छवि और सोच वाला नेतृत्वकर्ता है। बोले, किसी भी पार्टी की रीढ़ युवा कार्यकर्ता होते हैं। हमारा प्रयास यह होना चाहिए कि युवा कार्यकर्ताओं को बूथ स्तर पर मजबूत करें। युवा अगर बूथ स्तर पर मजबूत होते हैं तो समझिए की पार्टी मजबूत हो रही है। पार्टी को चलाने के लिए अनुभव और ऊर्जा की आवश्यकता होती है। हमारे कार्यकर्ता बूथ स्तर से शुरू होकर पंचायत, प्रखंड, अनुमंडल, जिला प्रदेश एवं राष्ट्रीय स्तर तक पहुंचते हैं। अगर इन जगहों पर युवाओं को जोड़कर समागम बनाया जाए तो पार्टी निश्चित तौर पर आगे बढ़ेगी। इसके बाद व‍िकास के सपने को पूरा कर पाना सहज हो जाएगा।  

 यह भी पढ़ें: Darbhanga Flight Service News: अप्रैल में यहां से शुरू हो सकती इंडिगो एयरलाइंस की सेवा

यह भी पढ़ें: Indian Railways News: मुजफ्फरपुर जंक्शन से गुजरने वालीं दो दर्जन ट्रेनों का बदला गया रूट

यह भी पढ़ें: Samastipur: गलवन घाटी में चीनी सैन‍िकों को धूल चटाकर लौटे फौजी काे जब अपनों से लड़ना पड़ा तो फटा कलेजा

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप