मुजफ्फरपुर, जासं। दिल्ली के आजादपुर मंडी थाना क्षेत्र स्थित आदर्श नगर मोहल्ला निवासी एक परिवार में पिता ने अपने बेटे को डांट दिया। यह बात उस बच्चे को पसंद नहीं आई और उसने मन ही मन घर से भाग जाने का फैसला किया। स्कूल जाने के समय वह घर से बैग लेकर निकला। वह स्कूल जाने की जगह सीधा नई दिल्ली रेलवे स्टेशन पहुंच गया। यहां वह बिहार जाने वाली स्वतंत्रता सेनानी एक्सप्रेस में सवार हो गया और मुजफ्फरपुर जंक्शन पहुंच गया। जहां उसे आरपीएफ ने चाइल्ड लाइन के हवाले कर दिया।

यह भी पढ़ें : डीजे वाले बाबू को लगा प्यार का बुखार, फूल की जगह मिली गोली...मुजफ्फरपुर की घटना 

भूख लगी तो सताने लगी मम्मी की याद

जब स्वजन की डांट पड़ी तो दिल्ली का छात्र ट्रेन पकड़कर मुजफ्फरपुर आ गया। यहां आरपीएफ की उस पर नजर पड़ी। उसने पकड़ कर पूछताछ शुरू की। इसमें पता चला कि वह गुस्से में दिल्ली से भाग कर यहां आ गया है। बंदरा में उसका घर है और वह वहीं जाना चाहता है। पुलिस को उसने घर से भागने, नई दिल्ली जंक्शन आने और स्वतंत्रता सेनानी में सवार होने तक की पूरी बात बताई। यात्रा के दौरान की परेशानी को भी साझा किया। बताया कि कैसे पिता की डांट पर वह घर से भाग तो गया, लेकिन जब रास्ते में भूख लगी तो मम्मी की याद बहुत सताने लगी। आंख में आंसू तक आ गए थे। वह मम्मी को बहुत मिस करने लगा था। किसी तरह यहां पहुंचा है।

यह भी पढ़ें : कमाल है साहब, 15 मिनट की वाक और 10 हजार हो गए 40 हजार रुपये, बिहार के इस इलाके में तो 'चांदी ही चांदी' है

बेटे की तलाश में परेशान हो रहे थे पिता

वहीं दूसरी ओर स्कूल के लिए निर्धारित समय से अधिक वक्त गुजर जाने के बाद भी जब वह घर नहीं पहुंचा तो उसके पिता बेटे की तलाश में देर तक दिल्ली में भटकते रहे। स्कूल व उसके मित्रों से पता करने के बाद भी जब कोई सुराग नहीं मिला तो छात्र के पिता नंदकिशोर साह ने आजादपुर मंडी थाने में बेटे की गुमशुदगी की प्राथमिकी दर्ज करा दी। इसके बाद दिल्ली पुलिस सक्रिय हो गई। दिल्ली जंक्शन गई तो सीसी कैमरे से पता चला कि वह स्वतंत्रता सेनानी ट्रेन में चढ़ा है। इसके बाद छात्र के पिता ने बंदरा में रह रहे लोगों को इसकी जानकारी दी। बंदरा के छात्र का रिश्तेदार आया और आरपीएफ इंस्पेक्टर पीएस दुबे से बात की।

वीडियो काले से पिता से कराई बेटे की बात

इंस्पेक्टर ने बताया कि वह घर से स्कूल बैग लेकर निकला था। एक सहयोगी की मदद से वह ट्रेन में सवार हो गया। बाद में इंस्पेक्टर ने छात्र के पिता को वीडियो काल से बेटे की पहचान कराई। फिर आजादपुर मंडी थाने की पुलिस से संपर्क साधा। आरपीएफ इंस्पेक्टर ने बताया कि परिजनों से जानकारी ली गई है। बच्चे को परिजनों को सौंप दिया जाएगा। 

यह भी पढ़ें : युवक कह रहा- बीवी खतरनाक, मुक्ति चाहिए, विवाहिता की साथ रहने की जिद...मुजफ्फरपुर में फैमिली मैटर सड़क पर

Edited By: Ajit Kumar