PreviousNext

पत्नी ने प्रेमी संग मिल रची थी हत्या की साजिश

Publish Date:Sat, 29 Jun 2013 08:08 PM (IST) | Updated Date:Sat, 29 Jun 2013 08:08 PM (IST)
पत्नी ने प्रेमी संग मिल रची थी हत्या की साजिश

रायबरेली, संवाददाता : मिल एरिया पुलिस ने शनिवार को असलम हत्याकांड का खुलासा कर दिया। हत्यारोपी पत्‍‌नी नसरीन, उसके प्रेमी रोहन समेत चार लोगों को जेल भेजा गया है। मामले में एक आरोपी अभी फरार चल रहा है। पुलिस अधीक्षक राजेश पांडेय ने मिल एरिया पुलिस को ढाई हजार रुपये का पुरस्कार देने की घोषणा की है।

एसपी ने वारदात का खुलासा करते हुए बताया कि दो मई को कल्लू का पुरवा निवासिनी नसरीन (18) पुत्री अजीज का निकाह हरदासपुर निवासी असलम (22) पुत्र मो. रसीद के साथ हुआ था। नसरीन का तकरीबन डेढ़ वर्ष से रोहन शर्मा पुत्र श्रवण कुमार निवासी कल्लू का पुरवा के साथ प्रेम प्रसंग चल रहा था। शादी के बाद भी नसरीन रोहन से बात करती थी, जो कि असलम को नागवार लगता था। असलम ने कई बार नसरीन को समझाया और पीटा भी, लेकिन बातचीत बंद नहीं हुई। नसरीन ने पिटाई की बात रोहन को बताई। रोहन और नसरीन ने मिलकर असलम की हत्या की साजिश रची।

22 जून को नसरीन ने फोन करके असलम को सहेली के घर चलने की बात कहकर बुलाया। वह असलम को लेकर त्रिपुला के पास पेट्रोल पंप के पीछे बने मकान में ले गई। यहां पहले से रोहन व उसके साथी अंशु शर्मा पुत्र पवन शर्मा निवासी कल्लू का पुरवा, अतुल कुमार दीक्षित पुत्र रमाकांत दीक्षित निवास लहुरिया कोड़रस बुजुर्ग और संजय मौजूद थे। असलम को कमरे के भीतर ले जाने के बाद नसरीन ने रोहन को बुलाया। रोहन को सामने देख असलम को गुस्सा आया और उसने दोनों की पिटाई कर दी। तभी अंशू, संजय और अतुल आ गए। रोहन ने नसरीन को दूसरे कमरे में भेज दिए। फिर चारों दोस्तों ने मिल कर आटो के एक्सीलेटर वायर से असलम का गला कस दिया। असलम बार-बार जान बख्शने की गुहार लगा रहा था लेकिन रोहन बेरहम हो गया और उसको मौत के घाट उतारने के बाद ही रुका। बाद में नसरीन को बाइक से उसके घर भेज दिया गया। रोहन, संजय और अतुल ने असलम के शव को आटो की डिग्गी में डाला और फतेहपुर के हुसैनगंज में नहर में फेंक दिया। 23 जून को उसका शव व एक्सीलेटर वायर हुसैनगंज पुलिस ने बरामद किया।

सीओ सदर पंकज पांडेय और मिल एरिया एसओ मनोज मिश्र ने मामले की तहकीकात शुरू की। नसरीन को हिरासत में लेते ही पूरा मामला सामने आ गया। बाद में रोहन, अतुल और संजय को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। असलम हत्याकांड में गिरफ्तारी सभी आरोपियों की उम्र 18 से 24 वर्ष के मध्य है।

गलती हो गई..

पति की हत्यारोपी नसरीन पुलिस आफिस में रो पड़ी। बोली, गलती हो गई। मुझे नहीं पता था कि इतनी बड़ी गलती करने जा रही हूं। भावावेश में आकर गलत कदम उठ गए। इसके लिए मैं कभी खुद को माफ नहीं कर पाऊंगी।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
    Web Title:(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

    कमेंट करें

    बेतरतीब पार्किंग पर वाहन पर चस्पा होगी चालान की पर्चीकाउंसिलिंग में 305 अनुदेशकों को मिले स्कूल
    यह भी देखें