फिल्म समीक्षा

  • फिल्म रिव्यू: डैनी कोलिंस (3 स्टार)

        
    Danny CollinsUpdated on: Sat, 16 May 2015 10:48 AM (IST)

    एल पचिनो जिस तरह के एक्टर हैं उससे बिलकुल अलग पसंद वे अपने जीवन में लेते रहे हैं। जब उनसे फिल्म 'गॉडफादर' और 'डॉग डे आफ्टरनून' के बाद उन्होंने तय किया था कि वे छोटे बजट की फिल्में बनाएंगे। उनकी लेटेस्ट फिल्म 'डैनी कोलिंस' में भी ऐसा ही कुछ दिखाईऔर पढ़ें »

  • फिल्म रिव्यूः मेड मैक्स: फ्यूरी रोड (5 स्टार)

        
    Mad Max: Fury RoadUpdated on: Sat, 16 May 2015 10:47 AM (IST)

    अपनी कल्पनाओं के घोड़े दौड़ाने पर आप पाएंगे कि आज से करीब 35 साल पहले 'मेड मैक्स' फिल्म थिएटर में रिलीज हुई थी। यदि आप आज यह फिल्म देखेंगे तो पाएंगे कि ये आज भी आपको बांधकर रखने में कामयाब है। फिल्म का सीक्वल 'द रोड वॉरियर' फिल्म 'द टर्मिनेटर'और पढ़ें »

  • फिल्म रिव्यू : बॉम्बे वेल्वेट (4.5 स्टार)

        
    Bombay VelvetUpdated on: Fri, 15 May 2015 09:10 AM (IST)

    हिंदी सिनेमा में इधर विषय और प्रस्तुति में काफी प्रयोग हो रहे हैं। पिछले हफ्ते आई ‘पीकू’ दर्शकों को एक बंगाली परिवार में लेकर गई, जहां पिता-पुत्री के बीच शौच और कब्जियत की बातों के बीच ही जिंदगी और डेवलपमेंट से संबंधित कुछ मारक बातें आ जाती हैं। फिल... और पढ़ें »

  • फिल्म रिव्यू: हॉट पर्सुइट (1 स्टार)

        
    Hot PursuitUpdated on: Wed, 13 May 2015 10:19 AM (IST)

    ऐसा देखने में आता है कि हॉलीवुड स्टार ऑफबीट फिल्मों के साथ बेहतरीन काम करते हैं। एक साल अच्छा जाता है। इसके बाद फिर से वे पैसा कमान के लिए कमर्शियल फिल्मों की ओर रूख करते हैं और नतीजा सामने होता है। इस बार रीस विदरस्पून के साथ भी ऐसाऔर पढ़ें »

  • फिल्म रिव्यू: द स्पंजबॉब मूवी : स्पंज आउट ऑफ वाटर (4 स्टार)

        
    The SpongeBob Movie: Sponge Out of WaterUpdated on: Wed, 13 May 2015 10:12 AM (IST)

    स्पॉन्गबॉब स्क्वेयरपेंट्स सालों से टीवी पर बच्चों की पसंदीदा रही है। दशक के बाद भी इसके कंटेंट ने अपनी चमक नहीं खोई है। यह बात इसे अच्छे शो में से एक बनाती है। 'स्पंज आउट ऑफ वाटर' से कुछ उल्लेखनीय प्राप्त होता है। यह न केवल एक मजेदार फिल्म हैऔर पढ़ें »

  • फिल्म रिव्यू: प्लेइंग इट कूल (1 स्टार)

        
    Playing it CoolUpdated on: Wed, 13 May 2015 10:11 AM (IST)

    अच्छी फिल्म के लिए जरूरी होता है कि स्क्रिप्ट के साथ प्रोडक्शन भी अच्छा हो। मगर इस फिल्म के साथ ऐसा नहीं हुआ। और पढ़ें »

  • फिल्म रिव्यू : कुछ कुछ लोचा है (1 स्‍टार)

        
    Kuch Kuch Locha HaiUpdated on: Sat, 09 May 2015 08:54 AM (IST)

    फिल्‍म 'कुछ कुछ लोचा है' में बहुत लोचे हैं। दरअसल, यह फिल्म से ज्यादा एक अधेड़ उम्र के आदमी की फैंटेसी लगती है। लेखक और निर्देशक देवांग ढो़लकिया ने फिल्म के पहले ही सीन में सनी लियोन को कम कपड़ों में दिखाकर यह बता दिया है कि आगे होने क्याऔर पढ़ें »

  • फिल्म रिव्यू : पीकू (4 स्टार)

        
    PIKUUpdated on: Fri, 08 May 2015 11:51 AM (IST)

    कल शाम ही जूही और शूजीत की सिनेमाई जुगलबंदी देख कर लौटा हूं। अभिभूत हूं। मुझे अपने पिता याद आ रहे हैं। उनकी आदतें और उनसे होने वाली परेशानियां याद आ रही हैं। उत्तर भारत में हमारी पीढ़ी के लोग अपने पिताओं के करीब नहीं रहे। बेटियों ने भी पिताओंऔर पढ़ें »

  • फिल्म रिव्यू : व्हाइल वी आर यंग (4 स्टार)

        
    While We are YoungUpdated on: Sat, 02 May 2015 04:43 PM (IST)

    बेन स्टिलर और नाओमी वाट्स अभिनीत फिल्म में एक बात तो स्पष्ट रूप से देखने को मिलती है कि डायरेक्टर नो बोम्बेक ने उन लोगों के लिए एक बेहतरीन कहानी गढ़ी है जो अपने 20वें और 30वें साल के अंतिम दौर में हैं। फिल्म में एक कपल है स्टिलर औरऔर पढ़ें »

  • फिल्म रिव्यू : सबकी बजेगी बैंड (1 स्टार)

        
    Sabki Bajegi BandUpdated on: Sat, 02 May 2015 04:40 PM (IST)

    फिल्म 'सबकी बैंड बजेगी' भद्दे जोक्स और कमजोर परफॉर्मेंस के कारण एक बुरी फिल्म के रूप में सामने आई हैं।और पढ़ें »

  • फिल्‍म रिव्‍यू: गब्बर इज बैक (3 स्‍टार)

        
    Gabbar is BackUpdated on: Fri, 01 May 2015 01:23 PM (IST)

    अक्षय कुमार की 'गब्बर इज बैक' हिंदी फिल्मों की उस जोनर की फिल्म है, जिसमें हीरो ही सब कुछ होता है। उसकी हीरोगिरी साबित करने के लिए ही सारे विधान रचे जाते हैं। खासकर सलमान खान ने ऐसी फिल्मों की मिसालें पेश कर दी हैं। उन्हें भी यह नुस्खा दक्षिणऔर पढ़ें »

  • फिल्‍म रिव्‍यू : द वॉटर डिवाइनर (2.5 स्टार)

        
    Film Review The Water DivinerUpdated on: Thu, 30 Apr 2015 10:50 AM (IST)

    किसी अभिनेता का निर्देशन के क्षेत्र में जाना कभी सरल नहीं होता है। ऐसा ही हुआ है रसेल क्रो की इस फिल्म के साथ। पुराने जमाने के कलाकार ने निर्देशक की कुर्सी संभालने के माध्यम से एक प्रयासभर किया है, ताकि अपनी स्थिति को सुधार सके। लेकिन फिल्म को क्रिटि... और पढ़ें »

  • फिल्म रिव्यू : एवेंजर्स - एज ऑफ अल्ट्रॉन (3 स्टार)

        
    Avengers: Age of UltronUpdated on: Mon, 27 Apr 2015 09:33 AM (IST)

    आमतौर पर किसी भी सीक्वल के आने में तीन सालों का इंतजार लंबा समय होता है। मार्वल ने इस बार फिल्म को बनाते समय कुछ बदलाव किए हैं। उन्होंने ब्लॉकबस्टर फिल्म के स्टैंडर्ड का ध्यान रखा है। यहां जिस हिसाब से फिल्म बनती हैं से लेकर दर्शक इन फिल्मों कोऔर पढ़ें »

  • फिल्‍म रिव्‍यू: कागज के फूल (1 स्टार)

        
    Kaagaz ke FoolsUpdated on: Sat, 25 Apr 2015 09:06 AM (IST)

    साल 1959 में आई थी गुरुदत्त की क्लासिक फिल्म 'कागज के फूल'। हालांकि उस समय इसे बॉक्स ऑफिस पर सफलता नहीं मिली थी, लेकिन बाद में इसे क्लासिक फिल्म का दर्जा मिला। फिल्‍म क्रिटिक्‍स ने इसे अपने समय से कहीं आगे की फिल्म बताया था। साल 2015 में इसी टाइटलऔर पढ़ें »

  • फिल्म रिव्यू : जय हो डेमोक्रेसी (1.5 स्टार)

        
    Jai Ho DemocracyUpdated on: Thu, 23 Apr 2015 04:04 PM (IST)

    ओम पुरी, सतीश कौशिक, अन्नू कपूर, सीमा बिस्वास, आदिल हुसैन और आमिर बशीर जैसे नामचीन कलाकार जब रंजीत कपूर के निर्देशन में काम कर रहे हों तो 'जय हो डेमोक्रेसी' देखने की सहज इच्छा होगी। सिर्फ नामों पर गए तो धोखा होगा। 'जय हो डेमोक्रेसी' साधारण फिल्म है। ... और पढ़ें »

स्थानीय

    जागरण RSS

    बॉलीवुडRssgoogle plusyahoo ad
    मिर्च-मसालाRssgoogle plusyahoo ad
    बॉक्स ऑफिसRssgoogle plusyahoo ad
    फिल्म समीक्षाRssgoogle plusyahoo ad

    और देखें

    यह भी देखें