PreviousNext

सस्पेंस खत्म, युवा सांसद योगी आदित्य नाथ होंगे उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री

Publish Date:Sat, 18 Mar 2017 11:33 AM (IST) | Updated Date:Sun, 19 Mar 2017 10:59 AM (IST)
सस्पेंस खत्म, युवा सांसद योगी आदित्य नाथ होंगे उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्रीसस्पेंस खत्म, युवा सांसद योगी आदित्य नाथ होंगे उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री
बारहवीं लोकसभा के सबसे युवा सांसद योगी आदित्यनाथ उर्फ ‘अजय सिंह’ को उत्तर प्रदेश का सिंहासन सौंप दिया गया है।

गोरखपुर (जेएनएन)। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री के चेहरे को लेकर भारतीय जनता पार्टी हाईकमान की दिल्ली में बैठक के बाद अब सभी की निगाहें लखनऊ में होने वाली भारतीय जनता पार्टी के विधायक दल की बैठक पर लगी। बारहवीं लोकसभा के सबसे युवा सांसद योगी आदित्यनाथ उर्फ ‘अजय सिंह’ को उत्तर प्रदेश का सिंहासन सौंप दिया गया है। 
भारतीय जनता पार्टी के फायरब्रांड नेता योगी आदित्यनाथ को सीएम चुन लिया गया है।उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री के रूप में योगी आदित्यनाथ 19 मार्च को स्मृति उपवन में शपथ ग्रहण करेंगे। सुरेश खन्ना ने योगी आदित्यनाथ के नाम का प्रस्ताव विधायकों के सामने रखा जिसे सभी के समर्थन से सीएम चुन लिया गया। गोरखनाथ मंदिर के महंत अवैद्यनाथ ने योगी आदित्यनाथ को दीक्षा दी और उन्हें योगी बनाया था। 1998 में अवैद्यनाथ ने राजनीति से संन्यास लिया और आदित्यनाथ को अपना उत्तराधिकारी  बनाया, जिसके बाद योगी आदित्यनाथ का राजनीतिक जीवन प्रारंभ हुआ।
12वीं लोकसभा के सबसे युवा सांसद
आदित्यनाथ 26 वर्ष की आयु में पहली बार सांसद बने थे। हिन्दू युवा वाहिनी के संस्थापक योगी आदित्यनाथ गोरखपुर में भाजपा का एक अभेद्य किला बनकर उभरे। लगातार 5 बार सांसद चुने जा चुके योगी आदित्यनाथ अपने बेबाकी के लिए जाने जाते हैं। आक्रामक तेवर के कारण कई बार विपक्ष के निशाने पर रहे योगी के कारण बीजेपी को भी परेशानी झेलनी पड़ी चुकी है। कई बार विवादित बयानों के कारण भी योगी आदित्यनाथ चर्चा में रहे हैं।
गौ-रक्षा दल और धर्मान्तरण की खिलाफत कर इन्होने अपने समर्थकों के बीच अलग छवि बना ली। गोरखपुर से सांसद योगी आदित्यनाथ अब उत्तर प्रदेश की बागडोर संभालेंगे। आज दिल्ली से उन्हें अचानक बुलावा आया था और कई घंटे की मीटिंग के बाद वो लखनऊ लौटे थे। इसके पहले केशव प्रसाद मौर्य और मनोज सिन्हा का नाम भी सबसे ऊपर था और लगातार दिन भर ख़बरों का बाजार गर्म रहा कि आखिरकार कौन यूपी का अगला सीएम होगा।
वहीँ सतीश महाना से लेकर सुरेश खन्ना तक का नाम भी रेस में था जबकि स्वतंत्रदेव को भी यूपी के सीएम पद के लिए दावेदार माना जा रहा था। गोरखपुर से सांसद योगी आदित्य नाथ को आज सुबह भाजपा हाईकमान ने दिल्ली तलब किया था, वह दिल्ली में भाजपा अध्यक्ष अमित शाह से भेंट करने के बाद भाजपा उत्तर प्रदेश के प्रभारी ओम माथुर के साथ लखनऊ आ गए । 
लखनऊ के लोक भवन में भाजपा विधायकों की बैठक के बीच ही यहां के वीवीआईपी गेस्ट हाउस में योगी आदित्य नाथ के साथ विधायक दल की बैठक के पर्यवेक्षक केंद्रीय मंत्री वैंकैया नायडू, भाजपा उत्तर प्रदेश के प्रभारी ओम माथुर, भाजपा उत्तर प्रदेश के संगठन मंत्री सुनील बंसल तथा भाजपा प्रदेश अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्या के साथ बैठक कर रहे थी। 
मुख्यमंत्री पद के लिये कई नामों को लेकर अटकलों का बाजार गर्म था तो कई नेता रेस में चल रहे थे। इनमें केन्द्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह, रेल राज्यमंत्री मनोज सिन्हा, प्रदेश भाजपा अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्य तथा शाहजहांपुर से आठवीं बार विधायक चुने गये सुरेश खन्ना के नाम था। हालांकि सभी नेता खुद को रेस से बाहर बता रहे थे। 
गोरखनाथ मंदिर में समर्थकों की भीड़ 
योगी आदित्यनाथ के मुख्यमंत्री की प्रबल संभावना के बीच गोरखपुर में स्थित गोरखनाथ मंदिर में समर्थकों की भीड़ जुटी। परिसर की सुरक्षा भी बढ़ाई गई।
सीएम के ल‌िए मनोज स‌‌िन्हा का नाम लगभग तय माना जा रहा था लेक‌िन इसी बीच योगी आद‌ित्यनाथ के नाम पर भी चर्चा तेज हो गई थी। वैंकेया नायडू के साथ वीवीआईपी गेस्ट हाउस के कमरा नंबर 111 में केशव मौर्य और आद‌ित्यनाथ की मीट‌िंग हो चुकी । योगी आद‌ित्यनाथ को व‌िशेष व‌िमान से लखनऊ बुलाया गया इसी के बाद उनका नाम सुर्ख‌ियों में आ गया।
भाजपा कार्यालय के बाहर सुबह महंत आद‌ित्यनाथ और प्रदेश अध्यक्ष केशव मौर्य के समर्थकों ने अपने-अपने नेता को मुख्यमंत्री बनाने के ल‌िए नारेबाजी भी की थी। वहीं यूपी में दो ड‌िप्टी सीएम बनाए जाने की भी चर्चा है। ड‌िप्टी सीएम के ल‌िए लखनऊ के मेयर द‌‌िनेश शर्मा और प्रदेश अध्यक्ष केशव मौर्य का नाम सामने आ रहा है।
भाजपा के उत्तर प्रदेश प्रभारी ओम माथुर के साथ भाजपा उत्तर प्रदेश के अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्या के साथ दिल्ली से लखनऊ पहुंचे योगी आदित्य नाथ ने प्रदेश के मुख्यमंत्री की दौड़ में मनोज सिन्हा को फिलहाल पीछे छोड़ दिया। उत्तर प्रदेश में मुख्यमंत्री पद के दावेदार माने जा रहे गोरखपुर के सांसद योगी आदित्य नाथ को आज भाजपा हाईकमान ने दिल्ली तलब किया। इसके लिए विशेष विमान गोरखपुर भेजा गया। 
गोरखपुर के सांसद योगी आदित्य नाथ विशेष विमान से दिल्ली बुलाए गए। वह कल शाम को करीब 4:30 बजे दिल्ली से गोरखपुर लौटे थे। कल देर रात उनके पास भाजपा अध्यक्ष अमित शाह का फोन आया और शाह ने आज उनको सुबह दिल्ली पहुंचने का अनुरोध किया।
इसके बाद योगी को ले जाने के लिए दिल्ली से ही सुबह विशेष विमान गोरखपुर पहुंचा। लगभग उसी समय योगी दिल्ली के लिए रवाना हो गए। बताया जा रहा है कि उत्तर प्रदेश प्रदेश में मंत्रिमंडल के गठन संबंधी विचार विमर्श के लिए उन्हें दिल्ली बुलाया गया । योगी ने इस संबंध में किसी से कोई बात नहीं की।
उत्तर प्रदेश में मुख्यमंत्री का नाम तय करने को लेकर दिल्ली हाईकमान में गहरा मंथन चला। भाजपा के लिए डेढ दशक बाद यूपी में इतनी बड़ी जीत हासिल करना उतना मुश्किल नहीं था, जितना मुख्यमंत्री का चेहरा तय करना। भाजपा में सीएम पद के लिए एक से बढ़कर एक दावेदार हैं। भाजपा हाईकमान दावेदारों के साथ विचार विमर्श कर रहा था। इसी बीच गोरखपुर के सांसद और यूपी सीएम पद के लिए प्रबल दावेदार योगी आदित्यनाथ को भाजपा हाईकमान ने अचानक दिल्ली बुला लिया। योगी आदित्य नाथ को यूपी का सीएम बनाने की सहमति बन सकती है।

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
Web Title:Special Call And Plane for Yogi Adityanath By BJP High command Front Runner in CM Race(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

कमेंट करें

कर्ज माफी से लाभान्वित हो सकते हैं 11 लाख किसानयोगी आदित्यनाथ गोरखपुर में गायों को चारा खिलाने के बाद ही लेंगे शपथ
यह भी देखें

जनमत

पूर्ण पोल देखें »