PreviousNext

नीतीश का मोदी पर हमला, कहा- हवा बनाने से काम नहीं चलता

Publish Date:Tue, 29 Oct 2013 02:48 PM (IST) | Updated Date:Tue, 29 Oct 2013 03:28 PM (IST)
नीतीश का मोदी पर हमला, कहा- हवा बनाने से काम नहीं चलता
राजगीर में जनता दल यूनाइटेड (जदयू) के चिंतन शिविर में बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पर जमकर भड़ास निकाली। साथ ही भाजपा के पीएम पद के उम्मीदवार नरेंद

बिहारशरीफ। राजगीर में जनता दल यूनाइटेड (जदयू) के चिंतन शिविर में बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पर जमकर भड़ास निकाली। साथ ही भाजपा के पीएम पद के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी पर परोक्ष रूप से हमला बोलते हुए कहा कि सिर्फ हवा बनाने से काम नहीं चलता।

नीतीश ने नरेंद्र मोदी को इतिहास का अदभुत ज्ञाता बताते हुए कहा कि मोदी ने अपने भाषण में चंद्रगुप्त मौर्य को गुप्तवंश का बताया, जबिक वे मौर्यवंश के संस्थापक थे। तक्षशिला पाकिस्तान में जबकि उसको बिहार में बताया गया। सिकंदर सतलज नदी तक पहुंचा था लेकिन मोदी ने उसे गंगा नदी तक पहुंचा दिया।

नीतीश ने चुटकी लेते हुए कहा कि हुंकार रैली के दौरान नरेंद्र मोदी द्वारा बार-बार पसीना पोंछने पड़ रहे थे। उन्होंने कहा कि किस बात की इतनी उत्तेजना। देश की 120 करोड़ की जनता की रहनुमाई करने वाले व्यक्ति को धैर्यवान होना चाहिए। नरेंद्र मोदी द्वारा नीतीश के गुजरात में किए गए आतिथ्य पर कहा कि मैं तो गुजरात हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस का अतिथि था।

उन्होंने कहा कि एक और झूठी कथा सुनाई गई कि प्रधानमंत्री के खाने के टेबल पर नरेंद्र मोदी हमारे साथ थे। ऐसी झूठी कथा सुनानेवाले उन्हीं के राज्य के एक कथावाचक का क्या हाल हुआ है इससे उन्हें सबक लेनी चाहिए। देश में गजब की हवा बनायी जा रही है। यह हवा कुदरती नहीं बल्कि ब्लोअर की है।

मंच से लोकतंत्र नहीं बल्कि फांसीवाद की भाषा का उपयोग हो रहा है। मंच से तीन-तीन बार पूछा जा रहा है कि अपने विरोधियों को चुन-चुन कर साफ करोगे? मैं सचेत करता हूं। बिहार के माहौल को बिगाड़ने की कोशिश हो रही है। जेपी से नाता तोड़ने का आरोप लगाया जा रहा है। यह तुकबंदी है। चूंकि बीजेपी के साथ जेपी जुड़ा है तो इसे तुकबंदी में कहा गया कि जो जेपी को छोड़ सकते हैं वे बीजेपी को क्यों नहीं छोड़ सकते। हमने कब जेपी को छोड़ा है?

इसके अलावा उन्होंने अपने पूर्व सहयोगी पार्टी पर हमला करते हुए कहा कि 17 साल पुरानी गठबंधन टूटने के लिए जदयू नहीं बल्कि भाजपा खुद जिम्मेदार है। उन्होंने कहा कि मैं खुद गठबंधन को बरकरार रखना चाहता था, लेकिन भाजपा के जिद के कारण गठबंधन को बचाया नहीं जा सकता।

पढ़ें: नरेंद्र मोदी ने चुकाया नीतीश से हिसाब

नीतीश ने अपने पार्टी के जनाधार को बढ़ाने के लिए कहा कि पार्टी कार्यकर्ता संघन जनसंपर्क अभियान छेड़ेंगें। सघन जनसंपर्क अभियान के माध्यम से पार्टी आम जनता से जुड़कर समस्या का समाधान करेगी। उन्होंने कहा कि राज्य में 12 संकल्प रैलियां आयोजित की जाएंगी। राज्य को विशेष पैकेज के मुद्दे पर उन्होंने कहा कि बिहार को अपना हक मिलना चाहिए और इसके लिए वह संघर्ष करती रहेगी।

जदयू के चिंतन शिविर में उन्होंने रैली के बारे में कहा कि बिहार की जनता ने दिल्ली के अधिकार रैली में जो कीर्तिमान बनाया था उसको किसी भी राजनीतिक दल द्वारा तोड़ना संभव नहीं है। उन्होंने कहा कि अधिकार रैली किसी व्यक्ति विशेष के लिए रैली नहीं थी बल्कि बिहार की जनता की हक के लिए रैली की गई थी।

नाराज हुए शिवानंदजदयू के चिंतन शिविर में भाषण के दौरान रोक टोक से नाराज सांसद शिवानंद तिवारी ने कहा कि मुझे पता है कि पार्टी में मेरी क्या स्थिति है। कहा कि हमें नरेंद्र मोदी की ताकत को ध्यान में रखना होगा। इसे नजरअंदाज कर चलना खतरनाक होगा। उनके भाषण के दौरान कार्यकर्ता शोर मचा रहे थे। यह व्यवहार सांसद को नागवार लगा।

चिंतन शिविर में कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह ने ब्यूरोक्रेसी के बेलगाम होने पर चिंता व्यक्त करते हुए कहा कि सरकार को जनहितकारी नीति को लागू करने के ब्यूरोक्रेसी पर नियंत्रण रखना ही होगा ।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
Web Title:Nitish Kumar targets Narendra Modi in janta dal united chintan shivir(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

कमेंट करें

बचाव में उतरे खुर्शीद, 'शिंदे की जिंदगी पटना तक सीमित नहीं'दिवाली पर शीला दीक्षित को गिफ्ट मिली 'प्याज की टोकरी'
यह भी देखें
अपनी प्रतिक्रिया दें
    लॉग इन करें
अपनी भाषा चुनें




Characters remaining

Captcha:

+ =


आपकी प्रतिक्रिया
  • samir shah

    मोदिजि के आगे नितिश कूछ भि नहि है .मोदिजि को कोसने के बदले बिहार के विकाश कि बात करो, नितिश जि जि जि .मोदिजि का मूकाबला नितिश जैसे कै आ जाये तो भि मोदिजि का कूछ बिगाद नहि सकते /

  • Abhishek

    सन् ३२० में चन्द्रगुप्त प्रथम अपने पिता घटोत्कच के बाद राजा बना। गुप्त साम्राज्य की समृद्धि का युग यहीं से आरंभ होता है। चन्द्र्गुप्त के सिंहासनारोहण के अवसर पर(३२०ई.) इसने नवीन सम्वत (गुप्त सम्वत) की स्थापना की।

  • sibboo

    नीतीश को मोदी के बर्हते कद के भय से एन दी ए छोदना पदा |नीतीश को भय था कि अगर मोदी बिहार आ गये तो उन पर भारी पदेन्गे

  • Love Pathak

    niteesh ji, aapko pata hona chahiye ki toofan aane se pahle hawa aati hai, our NAMO to ek toophan hai jo tum jaise netaon ke liye hi pana hai....................... NAMO IS GREAT

  • GIRIRAJ SHARMA

    बड़े शर्म की बात हैं कि आज गौरवशाली बिहार की धरती पे वहा एक ऐसा मुख्यमंत्री बैठा हैं जिसे ये तक ज्ञात नहीं की इस धरती ने एक नहीं 3-3 चन्द्रगुप्त दिए हैं | और इस अज्ञानी मुख्यमंत्री को सिर्फ एक याद हैं ..... भैया तुष्टिकरण की राजनीति करोगे तो अपने गौरवशाली इतिहास के बारे में जानकारी न होना स्वाभाविक हैं | जिन्ना की आत्म कथा पढने से मन भर गया हो तो नीतीश जी अपने भारत के गौरव शाली इतिहास को कम से कम एक बार पढ़ तो लीजिये किसी का विरोध करने से पूर्व | पढेंगे तो ज्ञात होगा कि चन्द्रगुप्त मौर्य (340–293 ईसा पूर्व) मौर्य वंश के संस्थापक थे., इनके गुरु ही आचार्य चाणक्य थे | गुप्त वंश में चन्द्रगुप्त 1 (319–335 ) ओर चन्द्रगुप्त 2 (380-413) हुए और इन्ही चन्द्रगुप्त द्वितीय को जनमानस चन्द्रगुप्त विक्रमादित्य के नाम से जानता हैं तथा इसी गुप्त वंश के काल को भारत का स्वर्णिम काल कहा जाता हैं |

  • Anil Kumar Verma

    नितिश बौख्ला गये है. उन्कि बोलि पर कोन्ग्रेस्स कि सन्गत क असर भी दिख रहा है . शुतुर्मुर्ग की तरह सचई को अन्देखा कर्ने से काम नहि बनेगा .

  • abhishek pathak

    जब कोई नितिश को सनकी कहता था तो बहुत अजीब लगता था लेकिन अब तो पूरा यकीन हो गया कि वे लोग कित्ने सही थे नही बल्कि है और दिन प्रति दिन यह विश्वास पुख्ता ही होता जाता है

  • test

    चंद्रगुप्त मौर्य को गुप्तवंश का बताया, जबिक वे मौर्यवंश के संस्थापक थे। तक्षशिला पाकिस्तान में जबकि उसको बिहार में बताया गया। सिकंदर सतलज नदी तक पहुंचा था लेकिन मोदी ने उसे गंगा नदी तक पहुंचा दिया। इसिलिये...... बार-बार पसीना पोंछने पड़ रहे थे।

  • umesh

    नितीश भी पीएम का एक उमीदवार होने का सपना देख रहा था और अडवाणी का धोती पकरकर | बुहत घटिया क्वालिटी का रिप्लाई है | इसका बिहार मॉडल का फरेबी चला गया अब यह चुप है | सिंधे का सच और नितीश का झूट तो आज सामने है | यह मोदी को मरवाने के चाकर में था और पटना से भाग रहा था | ब्लास्टिंग का मास्टर माइंड जदु का आदमी है | पूरा देश का ब्लास्टिंग बिहार से हो रहा है और नितीश को पता नहीं है | आब आशाराम से मोदि को मिला रहा है |

  • पीयूष चतुर्वेदी

    बड़े शर्म की बात हैं कि आज गौरवशाली बिहार की धरती पे वहा एक ऐसा मुख्यमंत्री बैठा हैं जिसे ये तक ज्ञात नहीं की इस धरती ने एक नहीं 3-3 चन्द्रगुप्त दिए हैं | और इस अज्ञानी मुख्यमंत्री को सिर्फ एक याद हैं ..... भैया तुष्टिकरण की राजनीति करोगे तो अपने गौरवशाली इतिहास के बारे में जानकारी न होना स्वाभाविक हैं | जिन्ना की आत्म कथा पढने से मन भर गया हो तो नीतीश जी अपने भारत के गौरव शाली इतिहास को कम से कम एक बार पढ़ तो लीजिये किसी का विरोध करने से पूर्व | पढेंगे तो ज्ञात होगा कि चन्द्रगुप्त मौर्य (340–293 ईसा पूर्व) मौर्य वंश के संस्थापक थे., इनके गुरु ही आचार्य चाणक्य थे | गुप्त वंश में चन्द्रगुप्त 1 (319–335 ) ओर चन्द्रगुप्त 2 (380-413) हुए और इन्ही चन्द्रगुप्त द्वितीय को जनमानस चन्द्रगुप्त विक्रमादित्य के नाम से जानता हैं तथा इसी गुप्त वंश के काल को भारत का स्वर्णिम काल कहा जाता हैं |

  • Amar Nath Jaiswal

    नितिश जी को सब कुछ भुल कर भाजपा से पुनह दोस्ती कर लेनि चहिये क्योन्की वो भाजापा से मिलकर हि बिहार को विशेस रजय का दर्जा दिला सकते है भाजापा उनकि मदद कर सकति है भजापा उनहे विशेस रज्य का दर्जा दिला सकती है युपिए उन्हे विशेस रज्य का दर्जा नही दिला सकती है युपिए एक भ्रसतआचअरि दल है ये इन्हे विशेस रज्य का दर्जा लेने मे बिल्कुल मदद नही करेगी मै ये नही कहून्गा कि नितिश जी अहन्कारि हो गए है लेकिन ये जरूर कहून्गा कि वो गलत कर रहे है वो एक बहुत बरी गलती कर रहे है वो अपने दुश्मनो को हसने का मौका दे रहे है पह्ले लोग कह्ते थे कि नितिश जी एक इन्जीनियर है और वो बिहार को बदल देन्गे लालु यदव एक पागल है उससे कुछ नही होगा लेकिन अब कुछ और कहते है

  • Amar Nath Jaiswal

    नितिश जी को सब कुछ भुल कर भाजपा से पुनह दोस्ती कर लेनि चहिये क्योन्की वो भाजापा से मिलकर हि बिहार को विशेस रजय का दर्जा दिला सकते है भाजापा उनकि मदद कर सकति है भजापा उनहे विशेस रज्य का दर्जा दिला सकती है युपिए उन्हे विशेस रज्य का दर्जा नही दिला सकती है युपिए एक भ्रसतआचअरि दल है ये इन्हे विशेस रज्य का दर्जा लेने मे बिल्कुल मदद नही करेगी मै ये नही कहून्गा कि नितिश जी अहन्कारि हो गए है लेकिन ये जरूर कहून्गा कि वो गलत कर रहे है वो एक बहुत बरी गलती कर रहे है वो अपने दुश्मनो को हसने का मौका दे रहे है पह्ले लोग कह्ते थे कि नितिश जी एक इन्जीनियर है और वो बिहार को बदल देन्गे लालु यदव एक पागल है उससे कुछ नही होगा लेकिन अब कुछ और कहते है

  • test

    नमो नम......

  • bihar

    very nice nitesh ji

  • test

    nitish ji mene aapko aj tak suna nahi hai aur modi pe humla kar rahe hai hua kya hai ajtak bihar me jo bhi BJP ki vajah se hai....

  • test

    HURREY ..... LIKE GURU CHELA PAGE AND GET CHANCE TO WIN FREE GURUCHELA T-SHIRT https://www.facebook.com/guruchela.in?ref=hl

  • verma

    Why Nitesh ji not like modi ? Because BJP selected the Modi as PM candidate, He was thinking to became PM with support of BJP (Dil ke arama naliyoo me bhai gaya)

  • Rathore

    हाथोँ को थोड़ा राउंड घुमा के, मोदी केजैसा दाढ़ी बढ़ा के..... हाफ बाजु का कुर्ता चढ़ा के,आ जाओ सारे हाथ मिला के...... ऑल द मोदी फैँसडोन्ट मिस चांस.....भगवा डांस ,भगवा डांस ,भगवा डांस। चुनाव का जबभोँपु बजेगा, ऑन द रोड आना पड़ेगा......अपना झंडा उठाना पड़ेगा, वोट कर केदिखाना पड़ेगा......भगवा डांस ,भगवा डांस ,भगवा डांस। नमो की रैली मेँआया हुँ मैँ तो मुझको रोकेगा कौन और कायेको....... मेरा मुड मैँ नमो जपेगा किसी पार्टी केनेता से नही डरेगा.... जिसको जो भी करना है करलो,गाँधी पार्क मेँ खड़ा हुँ पकड़ लो भगवा डांस ,भगवा डांस भगवा डांस भगवा डांस ,भगवा डांसभगवा डांस भगवा डांस , भगवा डांस भगवा डांस

  • ss

    Nitish ji abhi bhi mauka hai BJP se hath mila lijiye waise hunkar raili ke bad to aapko abni aukat ka pata chal hi gaya hoga. Apni personal ego ke karan please bihar ko barbad na kare.

  • test

    Nice story

  • om

    hawa se gubbar ude..........hawa se ude helicopter is bar yahi hawa uda dega nitish ka boriya bastar

मिलती जुलती

यह भी देखें
Close