PreviousNext

नोटबंदी मुद्दे पर अरुण जेटली और शरद यादव के बीच राज्यसभा में छींटाकशी

Publish Date:Wed, 30 Nov 2016 02:12 PM (IST) | Updated Date:Wed, 30 Nov 2016 03:38 PM (IST)
नोटबंदी मुद्दे पर अरुण जेटली और शरद यादव के बीच राज्यसभा में छींटाकशी
राज्‍यसभा मामले में नोटबंदी मामले पर वित्‍त मंत्री व जदयू नेता शरद यादव के बीच छींटाकशी का मामला सामने आया।

नई दिल्ली (एएनआई)। वित्त मंत्री अरुण जेटली और जदयू नेता शरद यादव बुधवार को राज्य सभा में एक-दूसरे पर छींटाकशी करते नजर आए। वित्त मंत्री ने जहां जदयू में नोटबंदी को लेकर कथित रुप से एकसमान रुख नहीं होने पर कटाक्ष किया। वहीं, जदयू नेता शरद यादव ने नोटबंदी के फैसले से वित्त मंत्री के अवगत नहीं होने की बात कही।

नोटबंदी का मसला राज्यसभा में उठाने के दौरान अरुण जेटली ने शरद यादव पर कमेंट करते हुए कहा,’नोटबंदी पर कुछ भी बोलने से पहले आप अपनी पार्टी से बात कर लें कि वे इसके पक्ष में हैं या नहीं।‘ वित्त मंत्री जो उच्च सदन के नेता भी हैं, उनका इशारा जदयू प्रमुख नीतीश की ओर था जो नोटबंदी के पक्ष में हैं।

नोटबंदी का विरोध करते हुए शरद यादव ने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के आयोजित प्रदर्शन में हिस्सा लिया था। जबकि नीतीश ने नरेंद्र मोदी की इस पहल को पूरी तरह समर्थन दिया है। जेटली को शरद यादव ने वापस जवाब दिया। उन्होंने कहा,’आप मेरी पार्टी की बात कर रहे हैं, क्या आपके साथ प्रधानमंत्री हैं? आपकी बात कोई मान रहा है?‘ जदयू नेता ने यहां तक कह दिया कि सूत्रों से मिली खबर के अनुसार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नोटबंदी के फैसले से वित्त मंत्री को अलग रखा था। कांग्रेस के उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री मोदी ने अपने खास लोगों को नोटबंदी के बारे में पहले से बता दियेे थेे लेकिन जेटली को अंधेरे में रखा।

नोटबंदी पर BJP की गांधीगीरी, फूल देकर लोगों को कहा 'थैंक्यू'
रायपुर के मंदिर में दान पेटी के पास लगा ‘कार्ड स्वाइप मशीन’

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
Web Title:Jaitley Sharad Yadav exchange banter over demonetisation(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

कमेंट करें

नगरोटा: आतंकी हमले में 30 घंटे छिप कर ग्रेफ कर्मी ने बचाई जानसुप्रीम कोर्ट का आदेश, फिल्म चलाने से पहले राष्ट्रगान बजाना अनिवार्य
यह भी देखें

संबंधित ख़बरें

जनमत

पूर्ण पोल देखें »