PreviousNext

गिरिराज बोले- हिम्मत है तो ताजिया जुलूस को रोक कर दिखायें ममता और लालू

Publish Date:Wed, 12 Apr 2017 01:18 PM (IST) | Updated Date:Wed, 12 Apr 2017 08:54 PM (IST)
गिरिराज बोले- हिम्मत है तो ताजिया जुलूस को रोक कर दिखायें ममता और लालूगिरिराज बोले- हिम्मत है तो ताजिया जुलूस को रोक कर दिखायें ममता और लालू
बंगाल में हनुमान जयंती की शोभा यात्रा के दौरान हुए लाठीचार्ज की निंदा करते हुए गिरिराज सिंह ने कहा कि हनुमान जयंती, भारत में नहीं, तो क्या पाकिस्तान और बांग्लादेश में मनेगा।

पटना [जेएनएन]। केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने पश्चिम बंगाल में हनुमान जयंती की शोभा यात्रा के दौरान हुए लाठीचार्ज की निंदा करते हुए कहा कि हनुमान जयंती भारत में नहीं तो क्या बांग्लादेश और पाकिस्तान में मनाया जायेगा। 

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि बंगाल में हनुमान जयंती शोभा यात्रा के दौरान जिस तरह श्रद्धालुओं पर लाठी चार्ज किया गया है, वह काफी शर्मनाक है। 

गिरिराज सिंह ने चेतावनी भरे लहजे में कहा कि अगर हिम्मत है तो हिंदुओं के जुलुस को रोकने वाली ममता बनर्जी और बिहार के सीएम नीतीश कुमार मुसलमानों के तजिया जुलुस को भी रोक कर दिखायें। चाहे लालू हों या नीतीश या फिर ममता बनर्जी सभी एक ही डीएनए के हैं। ये देश का दुर्भाग्य है और इन नेताओं की राजनीति तुष्टिकरण की राजनीति है। 

यह भी पढ़ें: बड़ी कार्रवाई: बीएसइबी ने रद की 50 कॉलेजों की मान्यता

बता दें कि बीरभूम में हिंदु जागरण मंच ने हनुमान जयंती पर शोभा यात्रा निकाली थी। स्थानीय प्रशासन का कहना है कि हिंदू जागरण मंच को जुलूस निकालने की परमीशन नहीं थी, लेकिन हिंदू जागरण मंच के लोग जुलूस निकालने पर अड़े थे। पुलिस ने कार्यकर्ताओं को दौड़ा-दौड़ा कर पीटा। जो लोग भाग रहे थे, उनको भी पकड़कर बुरी तरह से लाठियों से मारा। कुछ ने छोड़ने की गुहार लगाई उसे भी एक-दो नहीं 4 से 5 पुलिस वालों ने घेर कर लातों से और लाठियों से पीटा।

गौरतलब है कि कुछ दिन पहले दक्षिण दमदम नगरपालिका कमेटी ने अपने इलाके में रामनवमी के आयोजन पर रोक लगा दी थी, जिस पर कलकत्ता हाईकोर्ट ने फटकार लगाई थी।

यह भी पढ़ें: सुशील मोदी का बड़ा खुलासा, लालू के खिलाफ सरकार में बैठे लोग ही मेरे मददगार

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
Web Title:Giriraj singh said that Hanuman jayanti will celebrate in india(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

कमेंट करें

भय से मुक्ति का पाठशाला था गांधी जी का चंपारण सत्याग्रहतेजस्वी का सुशील मोदी पर पलटवार, कहा- मानसिक संतुलन खो चुके सुमो
यह भी देखें