Move to Jagran APP

Pakistan: जबरन मतांतरण के विरुद्ध पाकिस्तानी हिंदुओं ने निकाला विरोध मार्च, विधेयक पारित करने की मांग की

पाकिस्तान के कराची शहर में अल्पसंख्यक हिंदू समुदाय के कई लोगों ने गुरुवार को देश में हिंदू लड़कियों व महिलाओं के जबरन मतांतरण व शादी की समस्या के प्रति ध्यान आकर्षित करने के लिए विरोध मार्च निकाला। (सांकेतिक तस्वीर)

By Jagran NewsEdited By: Preeti GuptaPublished: Fri, 31 Mar 2023 08:48 AM (IST)Updated: Fri, 31 Mar 2023 08:48 AM (IST)
जबरन मतांतरण के विरुद्ध पाकिस्तानी हिंदुओं ने निकाला विरोध मार्च

कराची, पीटीआई। पाकिस्तान में अल्पसंख्यक समुदाय को निशाना बनाया जाता है। वहां हिंदू समुदाय की लड़कियों व महिलाओं के जबरन मतांतरण कर शादी करा दी जाती है। लेकिन शिकायते करने पर भी कोई ठोस कदम नहीं उठाए जाते हैं।

loksabha election banner

वहीं, अब कराची शहर में अल्पसंख्यक हिंदू समुदाय के कई लोगों ने गुरुवार को देश में हिंदू लड़कियों व महिलाओं के जबरन मतांतरण व शादी की समस्या के प्रति ध्यान आकर्षित करने के लिए विरोध मार्च निकाला।

जबरन मतांतरण के विरुद्ध पीडीआई ने किया विरोध

रिपोर्ट के मुताबिक कराची प्रेस क्लब और सिंध विधानसभा के प्रवेश द्वार के बाहर इस विरोध प्रदर्शन का आयोजन हिंदू संगठन पाकिस्तान दारावार इत्तेहाद (पीडीआई) ने किया था।

पीडीआई के एक सदस्य ने कहा, 'हम सिंध में हदुओं के समक्ष मौजूद इस बड़ी समस्या को हल करना चाहते हैं। इसलिए हमने जबरन मतांतरण के खिलाफ विरोध मार्च निकाला है। पाकिस्तान में अल्पसंख्यकों के साथ बर्बरता दिखाई जाती है।

जबरन मतांतरण कर दी जाती है शादी

पाकिस्तान के खासकर ग्रामीण इलाकों में 12 और 13 वर्ष की बच्चियों को दिनदहाड़े अगवा कर लिया जाता है।

इसके बाद उन्हें इस्लाम अपनाने के लिए मजबूर किया जाता है और फिर किसी बड़े मुस्लिम आदमी से शादी कर दी जाती है।

पीडीआई के एक सदस्य ने कहा कि गुरुवार के विरोध प्रदर्शन का कुछ प्रभाव पड़ा है क्योंकि कई लोग इस अपराध के बारे में जानते ही नहीं थे।

हालांकि वह ज्यादा लोगों के जुटने की अपेक्षा कर रहे थे। उन्होंने यह भी बताया कि प्रदर्शन शांतिपूर्ण रहा और बड़ी संख्या में पुलिसकर्मी प्रदर्शनकारियों से कुछ दूरी पर खड़े रहे।

प्रदर्शनकारी सरकार से हिंदू महिलाओं के जबरन मतांतरण के विरुद्ध लंबित विधेयक पारित करने की मांग कर रहे थे।

यह भी पढ़ें- Donald Trump: पोर्न स्टार मामले में ट्रंप के खिलाफ चलेगा मुकदमा, सजा होने पर होंगे ऐसे पहले अमेरिकी राष्ट्रपति

हिंदू डॉक्टर की हत्या

पाकिस्तान में अल्पसंख्यक समुदाय को रडार पर रखा जाता है। बीते दिन पाकिस्तान के कराची में हिंदू डॉक्टर को टारगेट किलिंग का निशाना बनाया गया।

कराची मेट्रोपॉलिटन कॉरपोरेशन (केएमसी) के पूर्व स्वास्थ्य और नेत्र रोग विशेषज्ञ डॉक्टर बीरबल जेनानी की गुरुवार को कराची में अज्ञात हमलावरों ने गोली मारकर हत्या कर दी।

पुलिस के अनुसार, डॉ. बीरबल जेनानी और उनकी सहायक महिला डॉक्टर रामस्वामी से गुलशन-ए-इकबाल की ओर जा रहे थे।

उसी दौरान ल्यारी एक्सप्रेसवे पर गार्डन इंटरचेंज के पास अज्ञात लोगों ने उनकी कार को निशाना बनाया। इस घटना में सहायक महिला डॉक्टर भी घायल हो गई हैं।

यह भी पढ़ें- NATO Member: तुर्किये की संसद ने नाटो में शामिल होने के लिए फिनलैंड के आवेदन को दी मंजूरी, फैसले का हुआ स्वागत


Jagran.com अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरेंWhatsApp चैनल से जुड़ें
This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.