Move to Jagran APP

क्‍या इमरान खान पर हमला करने 'एक नहीं दो लोग आए थे', जांच के लिए बनाया गया विशेष दल

इमरान खान पर हमले के विरोध में पाकिस्तान में विरोध प्रदर्शन शुरू हो गए हैं। डिस्क्लेमर इस खबर की मुख्य फोटो को बदला गया है। पूर्व में लगाई गई तस्वीर समाचार एजेंसी एपी ने जारी की थी जो कि 2014 की थी और पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान द्वारा जारी की गई थी।

By Jagran NewsEdited By: TilakrajPublished: Fri, 04 Nov 2022 07:52 AM (IST)Updated: Fri, 04 Nov 2022 08:22 AM (IST)
क्‍या इमरान खान पर हमला करने 'एक नहीं दो लोग आए थे', जांच के लिए बनाया गया विशेष दल
पाकिस्तान में जल्द चुनाव कराने की मांग को लेकर राजधानी इस्लामाबाद तक लॉन्‍ग मार्च

इस्‍लामाबाद, एएनआइ। पंजाब प्रांत के मुख्‍यमंत्री ने पाकिस्‍तान में पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान पर जानलेवा हमले की जांच के आदेश दे दिए हैं। पाकिस्तान में जल्द चुनाव कराने की मांग को लेकर राजधानी इस्लामाबाद तक लॉन्‍ग मार्च पर निकले इमरान खान पर गुरुवार को जानलेवा हमला हुआ था। इस हमले में इमरान खान के पैरों में गोलियां लगी हैं। इमरान पर हुए इस हमले के बाद पाकिस्‍तान में जगह-जगह विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं। इस बीच पाकिस्तान के पंजाब प्रांत के मुख्यमंत्री परवेज इलाही ने गुरुवार रात पुलिस को निर्देश दिया कि वजीराबाद में इमरान खान के काफिले पर हुए हमले की जांच के लिए एक संयुक्त जांच दल (जेआईटी) गठित किया जाए।

loksabha election banner

इमरान खान पर हमला करने एक नहीं 2 लोग आए?

पाकिस्‍तान के अखरबार द डॉन ने एक आधिकारिक बयान का हवाला देते हुए कहा कि घटना के कारणों की जांच के लिए आतंकवाद निरोधी विभाग के अधिकारियों को टीम में रखा जाएगा। मुख्यमंत्री ने कहा, 'हम जानना चाहते हैं कि घटना के पीछे कौन है? आरोपी को किसने प्रशिक्षित किया, उसे कितना पैसा दिया गया और उसे यह कहां से मिला?' ऐसा प्रतीत होता है कि 'दो निशानेबाज थे, एक नहीं।'

पाकिस्‍तान में गृहयुद्ध वाले हालात, जगह-जगह विरोध प्रदर्शन

इमरान खान पर हमले के बाद पाकिस्‍तान में गृहयुद्ध जैसे हालात हैं। जगह-जगह विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं। आशंका जताई जा रही है कि पाकिस्‍तान में हालात बेकाबू हो सकते हैं। इमरान की पार्टी पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) ने हमले को सुनियोजित बताते हुए इसे पूर्व प्रधानमंत्री की हत्या का प्रयास करार दिया है। पार्टी प्रवक्ता फवाद चौधरी ने कहा कि अगर हमलावर को लोगों ने रोका नहीं होता तो पीटीआइ का पूरा नेतृत्व खत्म हो गया होता। इमरान पर हमले की शक की सुई मौजूदा प्रधानमंत्री पर भी घूम रही है।

यह भी पढ़ेंः इमरान खान पर हमले के बाद पाकिस्तान में भारी तनाव, जानें- अब आगे क्या होगा?

शहबाज शरीफ ने इमरान पर हमले की निंदा की

इधर, प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ ने इमरान पर हमले की निंदा की है और आंतरिक मंत्री राणा सनाउल्लाह को तत्काल घटना की रिपोर्ट देने के निर्देश दिए। उन्होंने पंजाब प्रांत के मुख्य सचिव और आइजीपी से भी रिपोर्ट मांगने के लिए कहा है। पंजाब प्रांच के मुख्‍यमंत्री ने इमरान खान पर हुए जानलेवा हमले के लिए अब विशेष जांच दल का गठन करने का निर्णय लिया है। उम्‍मीद है कि जल्‍द सच्‍चाई सामने आ जाएगी। हालांकि, पकड़ा गया हमलावर अभी तक बस यही कह रहा है कि वह इमरान खान के बयानों से खफा था, इसलिए हमला किया।

इमरान खान की हालत स्थिर है, लेकिन...?

इमरान खान खतरे से बाहर हैं। इमरान के पूर्व सहायक डॉ. फैसल सुल्तान ने बताया कि खान साहब की हालत स्थिर है। 'डॉन' की रिपोर्ट के अनुसार, उन्होंने लाहौर के शौकत खानम अस्पताल के बाहर मीडियाकर्मियों से कहा, 'इमरान खान की हालत स्थिर है, लेकिन एक्स-रे और स्कैन के अनुसार, उनके पैरों में गोलियों के टुकड़े हैं और उनकी पिंडली की हड्डी में एक चिप है। गोली के टुकड़ों को निकालने के लिए इमरान खान को ऑपरेशन थियेटर में ले जाया गया है।'

बता दें कि इमरान खान इस साल अप्रैल तक पाकिस्‍तान के प्रधानमंत्री थे। अविश्वास प्रस्ताव में पराजित होने के बाद उन्होंने कहा था कि उन्हें सत्ता से हटाना अंतरराष्ट्रीय साजिश थी। हालांकि, अमेरिका ने आरोपों का खंडन किया था। पाक की नेशनल असेंबली का कार्यकाल अगस्त, 2023 तक है और नए चुनाव 60 दिन के भीतर होने हैं।

इसे भी पढ़ें: Pakistan: इमरान की पार्टी बोली- शहबाज शरीफ, सनाउल्लाह व मेजर जनरल फैसल ने कराया हमला

डिस्क्लेमर: इस खबर की मुख्य फोटो को बदला गया है। पूर्व में लगाई गई तस्वीर समाचार एजेंसी एपी ने जारी की थी, जो कि 2014 की थी और पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान द्वारा जारी की गई थी।


Jagran.com अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरेंWhatsApp चैनल से जुड़ें
This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.