वाशिंगटन, एजेंसी। संयुक्त राज्य अमेरिका के नेशनल इंटेलिजेंस के निदेशक एवरिल हैन्स ने शनिवार को कहा कि हालांकि हाल के विरोध प्रदर्शनों से कम्युनिस्ट पार्टी के शासन को खतरा नहीं है, लेकिन वे शी जिनफिंग की व्यक्तिगत स्थिति को प्रभावित कर सकते हैं। चीनी नेता ने COVID-19 के साथ चीन के सामने आने वाली चुनौतियों के बावजूद पश्चिमी टीकों से इनकार कर दिया है।

शी की Zero-Covid ​​नीति के बाद तीव्र आर्थिक मंदी और सार्वजनिक अशांति शुरू हो गई, कुछ शहर अब परीक्षण और क्वारंटाइन नियमों को आसान बनाने के लिए कदम उठा रहे हैं।

हैन्स ने कैलिफोर्निया में रीगन नेशनल डिफेंस फोरम में कहा, 'वायरस के सामाजिक और आर्थिक प्रभाव के बावजूद, शी पश्चिम से बेहतर टीकाकरण लेने से इनकार करते हैं, इसके बजाय एक चीनी वैक्सीन पर भरोसा करते हैं जो ओमिक्रॉन के खिलाफ लगभग प्रभावी नहीं है।'

चीन ने अमेरिका से टीके के लिए नहीं कहा- व्हाइट हाउस

व्हाइट हाउस ने इस सप्ताह की शुरुआत में कहा था कि चीन ने अमेरिका से टीके के लिए नहीं कहा था। व्हाइट हाउस की राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद के रणनीतिक संचार समन्वयक जॉन किर्बी ने संवाददाता सम्मेलन में कहा कि अमेरिका ने इस वक्त चीन को किसी प्रकार की मदद देने की पेशकश नहीं की है। उन्होंने कहा, 'हम दुनियाभर में कोविड-19 रोधी टीकों के सबसे बड़े आपूर्तिकर्ता हैं। हमारे टीकों को प्राप्त करने में न तो चीन की कोई दिलचस्पी दिखी है और न ही उससे कोई अनुरोध मिला है।'

एक अमेरिकी अधिकारी ने रायटर को बताया कि 'वर्तमान में कोई उम्मीद नहीं थी कि चीन पश्चिमी टीकों को मंजूरी देगा। अधिकारी ने आगे कहा, इस समय ऐसा लगता नहीं है कि चीन पश्चिमी टीकों को मंजूरी देगा। अगर वे ऐसा करते हैं तो उन्हें उनके इस कदम पर काफी सराहा जाएगा।'

यह भी पढ़ें- Pakistan: इमरान खान ने नए सेना प्रमुख को पिछली नीतियों से अलग होने की जताई उम्मीद, बाजवा को बताया फासीवादी

यह भी पढ़ें- चीन में नहीं रुक रहे सरकार विरोधी प्रदर्शन; शंघाई में फिर सड़कों पर आए लोग, चिनफिंग के इस्तीफे की मांग तेज

Edited By: Babli Kumari

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट