इस्लामाबाद, एएनआइ। पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री और पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (PTI) के प्रमुख इमरान खान (Imran Khan) ने उम्मीद जताई है कि देश के नवनियुक्त सेना प्रमुख जनरल आमिस मुनीर पार्टी के खिलाफ आठ माह से हो रही कार्रवाई से खुद को अलग कर लिया होगा। उन्होंने कहा कि पार्टी के खिलाफ पूर्व सेना प्रमुख फासीवादी कार्रवाई कर रहे थे। उन्होंने कहा कि सेना प्रमुख आजम स्वाती की गिरफ्तारी की आलोचना भी किए हैं।

27 नवंबर को किया गया था गिरफ्तार

पाकिस्तानी अखबार डान के मुताबिक, पीटीआई के सांसद आजम स्वाति (Azam Swati) ने एक विवादित ट्वीट किया था, जिसके बाद 27 नवंबर को उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया था। खान ने ट्विटर पर कहा कि सांसद आजम स्वाति के खिलाफ कार्रवाई से पूरा देश स्तब्ध है। उन्हें किस अपराध के लिए सजा दी जा रही है। असंयमित भाषा और सवाल पूछने के लिए जो लोकतंत्र में किसी का भी अधिकार है। अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पाकिस्तान को नकारात्मक रूप से देखा जा रहा है।'

तुरंत रिहा करने की मांग

उन्होंने कहा कि पाकिस्तान की वर्तमान आयातित सरकार को कठपुतली सरकार के रूप में देखा जाता है। उन्होंने आगे कहा कि किसी को उम्मीद थी कि पूर्व सेना प्रमुख बाजपा द्वारा लगातार आठ माह से पार्टी के खिलाफ फासीवादी कार्रवाई पर नया नेतृत्व अपना रुख बदल लेगा। पूर्व पीएम खान ने मांग की कि 74 साल के हृदय रोगी सांसद स्वाति को तुरंत रिहा किया जाना चाहिए। उन्होंने अपने एक अन्य ट्वीट में कहा कि सांसद स्वाति ने इस सजा के लिए किसी भी प्रकार का कोई अपराध नहीं किया था।

यह भी पढ़ें- WHO की रिपोर्टः इंटरनेट के जरिए बच्चों का यौन शोषण करने वालों में ज्यादातर उनके परिचित, जानिए बचाव के उपाय

यह भी पढ़ें- Fact Check: FIFA 2022 में मैच के बाद जापानी दर्शकों ने स्टेडियम में की थी सफाई, एडिटेड वीडियो वायरल

Edited By: Sonu Gupta

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट