हॉन्ग कॉन्ग, एजेंसी। चीन के शिनजियांग में कोरोना संक्रमण के चलते लॉकडाउन लगाया गया है। शिनजियांग में लोगों पर प्रतिबंधों को अब और बढ़ा दिया गया है। लोगों के शिनजियांग छोड़ने पर प्रतिबंध लगा दिया गया है। कुछ ही हफ्ते पहले प्रतिबंधों में ढील दी गई थी, लेकिन अब सख्ती बढ़ाई जा रही है।

शिनजियांग के वाइस चेयरमैन लियू सुशे ने कहा कि देश के अन्य हिस्सों में वायरस ना फैले, उसके लिए एयरपोर्ट, रेलवे स्टेशनों और चेकप्वाइंट पर एहतियात बरती जा रही है। बाहर से आने वाली ट्रेनों, बसों और ज्यादातर फ्लाइट्स को भी निलंबित किया जाएगा।

38 मरीजों में नहीं मिला लक्षण

करीब दो करोड़ की आबादी वाले शिनजियांग में कई अल्पसंख्यक भी रहते हैं। सीएनएन ने बताया कि प्रांत में कोरोना के 38 मरीजों में कोई लक्षण नहीं मिला है। इसी वजह से शिनजियांग में सख्ती बढ़ाने का फैसला लिया गया। लियू सुशे ने लोगों से अपील की है कि वे इलाके तब तक ना छोड़े, जब तक बहुत जरूरी काम ना हो।

फ्लाइट ट्रैकिंग कंपनी Variflight के मुताबिक, उरुमकी एयरपोर्ट से उड़ान भरने वाली 97 फीसदी और लैंड करने वाली 97 फीसदी फ्लाइट्स पर बुधवार को प्रतिबंध लगा दिया है। इसी बीच, शिनजियांग के दूसरे सबसे बड़े शहर काशगर से उड़ान भरने वाली सभी फ्लाइट को रद कर दिया गया है।

शिनजियांग में कोविड-19 के 5,790 मामले

लियू ने कहा, 'शिनजियांग के इतिहास में कोरोना संक्रमण मौजूदा दौर में सबसे तेजी से फैलने वाला, सबसे व्यापक, सबसे संक्रामक और नियंत्रित करने में सबसे कठिन है।' बता दें कि 30 जुलाई से अब तक प्रांत में कोविड-19 के 5,790 मामले सामने आ चुके हैं।

ये भी पढ़ें:

Coronavirus Updates: देश में लगातार दूसरे दिन बढ़े कोरोना के मामले, 24 घंटे में आए 2529 केस; 12 लोगों की मौत

दुनियाभर में अवैध केंद्रों के जरिये अपने नागरिकों पर नजर रख रहा चीन, मानवाधिकार संगठनों की चिंता बढ़ी

Edited By: Manish Negi

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट