Move to Jagran APP

पश्चिम मेदिनीपुर के स्कूल में मिड डे मील खाकर बीमार पड़े 30 बच्चे; दस्त, उल्टी व सांस लेने में तकलीफ के बाद अस्पताल में भर्ती

बंगाल के पश्चिम मेदिनीपुर जिले के गड़बेता इलाके के एक प्राथमिक स्कूल में मंगलवार को मिड डे मील खाकर 30 बच्चे बीमार पड़ गए। अभिभावकों का कहना है कि मिड डे मील में जो खाना दिया जाता है उसमें अक्सर कीड़े-मकोड़े होते हैं। कई बार इसकी शिकायत करने पर भी कोई कदम नहीं उठाया गया है।प्राथमिक तौर पर अनुमान है कि फूड प्वाइजिंग होने के कारण बच्चे बीमार पड़े हैं।

By Jagran News Edited By: Sonu Gupta Tue, 09 Jul 2024 11:45 PM (IST)
बंगाल के एक स्कूल में मिड डे मील खाकर बीमार पड़े 30 बच्चे। फाइल फोटो।

राज्य ब्यूरो, कोलकाता। बंगाल के पश्चिम मेदिनीपुर जिले के गड़बेता इलाके के एक प्राथमिक स्कूल में मंगलवार को मिड डे मील खाकर 30 बच्चे बीमार पड़ गए। उनमें से कई को अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार, गड़बेता-3 ब्लाक में स्थित पंडित रघुनाथ मुर्मु विद्यापीठ में मंगलवार को मिड डे मील खाने के बाद बच्चे अचानक अस्वस्थ होने लगे। उन्हें दस्त, उल्टी व सांस लेने में तकलीफ होने लगी। बच्चों को तुरंत प्राथमिक चिकित्सा केंद्र ले जाया गया। कुछ की हालत ज्यादा खराब होने पर उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

अभिभावकों ने लगाया ये आरोप

अभिभावकों का कहना है कि मिड डे मील में जो खाना दिया जाता है, उसमें अक्सर कीड़े-मकोड़े होते हैं। कई बार इसकी शिकायत करने पर भी कोई कदम नहीं उठाया गया है। वहीं पश्चिम मेदिनीपुर के मुख्य स्वास्थ्य अधिकारी सौम्य शंकर षड़ंगी ने बताया कि स्कूल में मेडिकल टीम भेजी गई है।

फूड प्वाइजिंग के कारण बच्चे पड़े बीमार

प्राथमिक तौर पर अनुमान है कि फूड प्वाइजिंग होने के कारण बच्चे बीमार पड़े हैं। दूसरी तरफ हावड़ा जिले के बांकड़ा इलाके के एक स्कूल के मिड डे मील में मृत कीड़ा निकलने का मामला सामने आया है।

खाने में मिला मरा हुआ कीड़ा

हावड़ा जिला प्राथमिक स्कूल के अध्यक्ष कृष्ण घोष ने कहा कि बच्चों को परोसे जाने वाले भोजन का पूरा ध्यान रखा जाता है। इसके बावजूद ऐसी घटना क्यों घटी, इसकी जांच की जा रही है। प्राप्त जानकारी के अनुसार बांकड़ा के मुंशीडांगा बोर्ड प्राइमरी स्कूल में मंगलवार को बच्चों को मिड डे मील में खिचड़ी दी गई थी। बहुत से बच्चे खिचड़ी घर ले गए थे।

एक बच्चे की खिचड़ी में मरा हुआ कीड़ा पाया गया। बच्चे के अभिभावक ने तुरंत स्कूल प्रबंधन को इसकी सूचना दी। स्कूल के अहाते में स्थित आंगनवाड़ी केंद्र में खिचड़ी पकी थी।

यह भी पढ़ेंः

'पढ़ने में बहुत तेज था मेरा इकलौता बेटा...', राजकोट आग हादसे में जान गंवाने वाले छात्र के पिता ने की अब यह मांग

राजस्थान में 5 साल की बच्ची से रिश्तेदार ने किया दुष्कर्म, प्राइवेट पार्ट में लगी चोट; फरार आरोपी की तलाश में जुटी पुलिस