Move to Jagran APP

बंगाल में न्याय यात्रा की बैठक को नहीं मिली अनुमति तो भड़के अधीर रंजन; TMC ने कही यह बात

कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी ने शुक्रवार को सिलीगुड़ प्रशासन पर एक बैठक को अनुमति नहीं देने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि कहा कि न्याय यात्रा पर शुरू से ही हर तरह की रणनीति के साथ हमला किया गया है... मणिपुर में राहुल गांधी को एक सार्वजनिक बैठक आयोजित करने की अनुमति नहीं दी गई जहां हम इसे आयोजित करना चाहते थे।

By Agency Edited By: Anurag GuptaFri, 26 Jan 2024 03:27 PM (IST)
पश्चिम बंगाल की कांग्रेस इकाई के अध्यक्ष अधीर रंजन चौधरी (फोटो: एएनआई)

एएनआई, दार्जिलिंग। पश्चिम बंगाल की कांग्रेस इकाई के अध्यक्ष अधीर रंजन चौधरी ने शुक्रवार को सिलीगुड़ प्रशासन पर एक बैठक को अनुमति नहीं देने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि राहुल गांधी के नेतृत्व वाली 'भारत जोड़ो न्याय यात्रा' शुरू से ही कई चुनौतियों का सामना कर रही है, चाहे वह भाजपा शासित राज्यों में हो या ममता बनर्जी के नेतृत्व वाले बंगाल में...

अधीर रंजन ने क्या कुछ कहा?

लोकसभा में कांग्रेस के नेता अधीर रंजन ने कहा कि न्याय यात्रा पर शुरू से ही हर तरह की रणनीति के साथ हमला किया गया है... मणिपुर में राहुल गांधी को एक सार्वजनिक बैठक आयोजित करने की अनुमति नहीं दी गई, जहां हम इसे आयोजित करना चाहते थे। हमें यह बैठक मणिपुर के बाहर एक निजी संपत्ति पर आयोजित करनी थी... असम में सरकार के आदेश पर कई पुलिसकर्मियों ने यात्रा पर हमला किया... पश्चिम बंगाल में हमने सिलीगुड़ी में एक बैठक आयोजित करने का अनुरोध किया, लेकिन इसे अस्वीकार कर दिया गया। उन्होंने कहा,

अगर उन्होंने बंगाल में सत्तारूढ़ पार्टी के खिलाफ कुछ किया होता तो सरकार यात्रा में बाधाएं पैदा करती, लेकिन यह न्याय यात्रा देश में सभी के लिए है, किसी का समर्थन या विरोध करने के लिए नहीं।

यह भी पढ़ें: बंगाल सीमा में प्रवेश के साथ ही स्थगित हुई राहुल की न्याय यात्रा, इन दिन दोबारा होगी शुरुआत

इस बीच, तृणमूल कांग्रेस नेता सुष्मिता देव ने अधीर रंजन को लोकसभा चुनाव से पहले नपे-तुले तरीके से बोलने की चेतावनी दी। उन्होंने कहा कि वह जितना कम बोलेंगे, 2024 के चुनावों के लिए उतना ही बेहतर होगा।

सधी हुई बयानबाजी कर रही कांग्रेस

सनद रहे कि ममता बनर्जी के चुनाव में एकला चलो की घोषणा के बाद से कांग्रेस का आला नेतृत्व सधी हुई बयानबाजी कर रहा है। हाल ही में वायनाड सांसद राहुल गांधी ने कहा था कि आईएनडीआईए 'अन्याय' के खिलाफ मिलकर लड़ेगा, जबकि कांग्रेस महासचिव जयराम रमेश ने ममता बनर्जी को आईएनडीआईए का अहम हिस्सा बताया था।

भारत जोड़ो न्याय यात्रा 14 जनवरी को मणिपुर के इंफाल से शुरू हुई और 20 मार्च को मुंबई में इसका समापन होगा।

यह भी पढ़ें: इस नेता के चलते मुश्किल में I.N.D.I.A; ममता ने सुनाई खरी-खरी; नीतीश भी नाराज