काशीपुर, [जेएनएन]: डॉक्टर लाइन स्थित एक अस्पताल में गर्भवती महिला की मौत के बाद परिजनों ने अस्पताल में तोड़फोड़ की। उन्होंने डॉक्टर पर इलाज में लापरवाही बरतने का आरोप लगाते हुए हंगामा काटा। सूचना पर मौके पर मामला शांत कराने पुलिस पहुंची।

मोहल्ला काजीबाग निवासी 22 वर्षीय जीनत पत्नी इस्लाम के पेट में गुरुवार को दर्द की शिकायत हुई। इस्लाम ने पत्नी को रामनगर रोड स्थित एक निजी अस्पताल पहुंचाया। जहां पर डॉक्टरों ने महिला चिकित्सक न होने की बात कहकर भर्ती करने से मना कर दिया। 

इस्लाम ने डॉक्टर लाइन स्थित मेहरोत्रा नर्सिंग होम में उसी दिन शाम को भर्ती कराया। महिला की आज सुबह करीब 11 बजे इलाज के दौरान मौत हो गई। इस पर परिजनों ने डॉक्टर पर इलाज में लापरवाही बरतने का आरोप लगाते हुए तोड़फोड़ की। 

सूचना पर कोतवाली पुलिस भी मौके पर पहुंच गई। परिजन इस मांग पर अड़ गए कि जब तक डॉक्टर मौके पर नहीं आएंगे तब तक यहां से महिला का शव नहीं ले जाएंगे। पुलिस के समझाने के बाद ही परिजन शांत हुए। 

यह भी पढ़ें: गर्भवती की मौत पर अस्पताल में चार दिन बाद परिजनों ने काटा हंगामा

यह भी पढ़ें: नवजात की मौत मामले की मजिस्ट्रेटी जांच शुरू

यह भी पढ़ें: अस्पताल के टॉयलेट में मिला नवजात का शव, हड़कंप

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप