पिथौरागढ़। नैनी सैनी हवाई पट्टी का 22 वर्षों की प्रतीक्षा के बाद सूनापन दूर होने जा रहा है। मात्र 30 दिन बाद नैनी सैनी के आसमान में हवाई जहाज उडऩे शुरू हो जाएंगे। भले ही यह ट्रायल उड़ान होंगी, लेकिन पिथौरागढ़ जिले के हवाई सेवा से जुडऩे का सपना अब साकार रूप लेने वाला है।
नैनी सैनी हवाई पट्टी का विस्तारीकरण का कार्य लगभग पूरा होने वाला है। सबकुछ ठीक रहा तो इस माह के अंत तक हवाई पट्टी पूरी हो जाएगी। सितंबर से हवाई पट्टी में ट्रायल उड़ान शुरू होगी। इसी के साथ दो दशकों से हवाई सेवा की प्रतीक्षा कर रही पिथौरागढ़ की जनता की आस भी पूरी हो जाएगी। 22 वर्ष पूर्व 1994 में तैयार हवाई पट्टी के छोटी पड़ने से इसका विस्तार किया गया। कार्यदायी संस्था अवस्थापना विकास निगम के देखरेख में हवाई पट्टी बनाने वाली राइट कंपनी ने इसके विस्तारीकरण का कार्य किया। 14 सौ मीटर लंबी और 40 मीटर चौड़ी हवाई पट्टी का विस्तार कर इसे 16 सौ मीटर लंबा और 60 मीटर चौड़ा बना दिया गया है। अवस्थापना विकास निगम के परियोजना प्रबंधक हरी राम वर्मा के अनुसार एटीसी भवन, हायर स्टेशन, विद्युतीकरण, एप्रेन निर्माण का थोड़ा बहुत कार्य बचा है। अगस्त में यह कार्य पूरा हो जाएगा, जबकि छह मंजिला टर्मिनल भवन, वीआईपी लॉन, फायर स्टेशन, पुलिस स्टेशन तैयार हो चुका है। हवाई पट्टी में दो हेलीकॉप्टर हैंगर तैयार हो गए हैं, हवाई पट्टी में एक साथ दो 40 सीटर विमान खड़े हो सकते हैं।
जिलाधिकारी सुशील कुमार ने बताया कि पर्यटन गतिविधियों को बढ़ावा देने के लिए नियमित उड़ान आवश्यक हैं। उड्डयन विभाग द्वारा सितंबर से हवाई पट्टी का ट्रायल बेसेज , निरीक्षण का कार्य शुरू होना है। हर हालत में अगस्त के अंत तक हवाई पट्टी का अवशेष कार्य पूरा होना है।
पढ़ें-केवल 8 एयरपोर्ट कमाऊ, बाकी AAI पर बोझ

Posted By: sunil negi