धारचूला, जेएनएन : भारत, नेपाल सीमा पर तवाघाट के पास स्थित खेला गांव में नशे पर पूरी तरह से प्रतिबंध लगाया गया है। यहां शराब पीने वाले को पांच हजार और बेचने वालों को तीन हजार रुपये का जुर्माना भरना होगा। शादी व अन्य उत्सवों में शराब परोसने वाले परिवारों का सामाजिक बहिष्कार कर गांव से बाहर निकाल दिया जाएगा।

यह निर्णय गुरुवार की शाम गांव के राजीव गांधी भवन में ग्राम प्रधान निर्मला देवी की अध्यक्षता में आयोजित बैठक में लिया गया। इस मौके पर गांव की महिलाओं की एक सतर्कता और निगरानी समिति बनाई गई। बैठक में कहा गया कि विवाह समारोह, धार्मिक कार्य व पार्टी आदि में शराब की खरीद-फरोख्‍त बंद रहेगी। इस मौके पर शराब पिये हुए मिलने वाले व्यक्ति से पांच हजार रुपये और शराब बेचने वाले पर तीन हजार रुपये का जुर्माना वसूला जाएगा। इस जुर्माने की धनराशि निगरानी और सतर्कता समिति को जमा करनी होगी।

बैठक में कहा गया कि गांव में रहने वाले बाहर के परिवारों पर भी यह नियम लागू होगा। शराब पीने या पिलाने में पाए जाने पर उस परिवार को गांव से बाहर का रास्ता दिखाया जाएगा। बैठक में पारित प्रस्ताव के अनुसार पूर्व सैनिक भी अपने कोटा के तहत मिलने वाले शराब का प्रयोग केवल अपने तक करेंगे। शराब बेचने पर पांच हजार रु पये का जुर्माना भरा जाएगा। बैठक में राम सिंह, पवन सिंह, जीत सिंह, केशर सिंह, तुला राम, रमेश राम, हरिप्रिया देवी, धौली देवी, हरिमा देवी, धाना देवी, अंजू देवी, मंजू देवी सहित दर्जनों ग्रामीण उपस्थित थे।

यह भी पढ़ें : विकास कार्यों के लिए बजट का रोना रोने वाले माननीय नहीं खर्च पाए 28 फीसद विधायक निधि

यह भी पढ़ें : अपने वेतन से प्रधानाचार्य ऊषा संवार रहीं हैं बच्‍चों का भविष्‍य, इस तरह बनाई अलग पहचान

Posted By: Skand Shukla

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस