हल्द्वानी, जेएनएन : ऑनलाइन वेबसाइट ओएलएक्स पर खुद को फौजी बता सस्ते में सामान बेचने का लालच देकर ठगने की घटनाएं लगातार बढ़ रही हैं। साइबर ठगों के लालच में आकर सोमवार को एक छात्र अपने दोस्त और जीजा के साथ कोटद्वार से हल्द्वानी पहुंच गया। ठग ने उसे आर्मी कैंट हल्द्वानी में तैनात फौजी बताकर सस्ते दाम पर ऑल्टो कार बेचने का लालच दिया था। हालांकि उसने ठग के खाते में रकम नहीं डाली। लौटते समय छात्र ने कोतवाली पुलिस से ठगी की कोशिश की शिकायत की।

टॉप मॉडल कार सस्ते में बेचने का ये बताया कारण

कोटद्वार निवासी छात्र लगन कुमार ने बताया कि कुछ दिन पहले उसने ओएलएक्स पर एक मारुति ऑल्टो कार बिक्री के लिए देखी। ऑनलाइन वेबसाइट पर दिए नंबर पर फोन करने पर कार बेचने वाले ने खुद को हल्द्वानी आर्मी कैंट में तैनात फौजी संजय चौधरी बताया। कथित संजय ने 2018 मॉडल ऑल्टो कार मात्र 1.25 लाख रुपये में बेचने का लालच दिया। टॉप मॉडल कार सस्ते में बेचने का कारण पूछने पर उसने हल्द्वानी से ट्रांसफर काफी दूर होने का लालच दिया। लगन ने अपने दोस्त से ये बात शेयर की तो उसने शक जताया। कथित फौजी से कार दिखाने के लिए कहा और वह फोटो दिखाकर एडवांस रकम डालने के लिए कहने लगा। ठग की बातों में आकर लगन अपने दोस्त व जीजा को लेकर कार बुक कर सोमवार को हल्द्वानी पहुंच गया।

कैंट गेट पर तैनात जवानों को भी गुमराह करने लगा फ्रॉड

यहां पहुंचने पर उसने फोन किया तो कार आर्मी कैंट में होने व बाहर लाने के लिए गेट पास के पांच हजार रुपये का झांसा देना शुरू कर दिया गया। ठग ने लगन से पांच हजार रुपये खाते में डालने के लिए कहा। वहीं लगन ने आर्मी कैंट के गेट पर पहुंचकर गेट पास की प्रक्रिया पूछी तो जवानों ने किसी तरह का शुल्क नहीं लेने की जानकारी दी। लगन ने कैंट गेट पर तैनात जवानों से बात कराई तो ठग उन्हें भी गुमराह करने लगा। वहीं, काफी देर बाद जब लगन को एहसास हुआ तो वह जीजा व दोस्त के साथ कोतवाली पहुंचा। लगन ने कोतवाली में शिकायती पत्र देकर जांच की मांग की है।

यह भी पढ़ें : पुरानी रंजिश के कारण किच्‍छा में युवक की चाकू से गोदकर हत्या

यह भी पढ़ें : भारतीयों पर पुलिस की कार्रवाई के बाद नेपाल के कैसिनो में पसरा सन्नाटा

 

Posted By: Skand Shukla

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस