हल्द्वानी, भानु जोशी : रिक्त पद और अभ्यर्थियों की संख्या के लिहाज से राज्य में अब तक की सबसे बड़ी लिखित भर्ती परीक्षा रविवार को 188 परीक्षा केंद्रों में हुई, जिसमें से 56 हजार से अधिक अभ्यर्थी गायब रहे। एक लाख 56 हजार 46 में से महज 99 हजार 880 अभ्यर्थी ही परीक्षा देने पहुंचे। राज्य में इससे पहले किसी भी लिखित परीक्षा से इतनी बड़ी संख्या में अभ्यर्थी गैरहाजिर नहीं रहे।

गढ़वाल के 113 व कुमाऊं के 75 परीक्षा केंद्रों पर हुई परीक्षा

उत्तराखंड अधीनस्थ सेवा चयन आयोग की ओर से रविवार को गढ़वाल के 113 व कुमाऊं के 75 परीक्षा केंद्रों में वन विभाग में वन आरक्षी (फारेस्ट गार्ड) के 1218 रिक्त पदों के लिए लिखित परीक्षा का आयोजन किया गया। दो पालियों की परीक्षा के लिए डेढ़ लाख से अधिक अभ्यर्थी पंजीकृत थे। गढ़वाल में 23,671 तो कुमाऊं में 32,495 अभ्यर्थी परीक्षा देने नहीं आए। सबसे अधिक 13 हजार अभ्यर्थी देहरादून व करीब सात हजार अभ्यर्थी नैनीताल जिले में अनुपस्थित रहे। जिस राज्य में आए दिन बेरोजगारी का हवाला देकर चौराहों, सड़कों पर पुतले फूंके जाते हैं। प्रदर्शन किए जाते हैं। आखिर उस राज्य में रोजगार का मौका इतनी आसानी से कैसे छोड़ दिया जाता है। ये भी एक बड़ा सवाल बनकर रह गया है।

कहां कितने गैरहाजिर

देहरादून -13,805, नैनीताल - 6,910, ऊधमसिंह नगर - 6,090, हरिद्वार - 4,433, अल्मोड़ा - 4,062, पिथौरागढ़ - 3,363, पौड़ी गढ़वाल - 3,284, चमोली - 2,548, टिहरी गढ़वाल - 2,355, उत्तरकाशी - 2,325, रुद्रपयाग - 1,748,  बागेश्वर - 1,722, चम्पावत - 1,534

आंसर-की आज जारी होगी

आयोग के सचिव संतोष बडोनी ने बताया कि लिखित परीक्षा की आंसर-की सोमवार को जारी की जाएगी। अभ्यर्थी आयोग की वेबसाइट 222.ह्यह्यह्यष्.ह्वद्म.द्दश1.द्बठ्ठ से आंसर-की प्राप्त कर सकते हैं। साथ ही 25 फरवरी तक अपनी आपत्तियां भी दर्ज कराई जा सकती हैं।

यह भी पढ़ें : पलायन करने की बजाए हरगोविंद ने खेती करने की ठानी, दूसरों के लिए बने प्रेरणा

यी भी पढ़ें : रं समाज के पहले पीपीएस अधिकारी सेलाल का निधन, धारचूला में शोक

 

Posted By: Skand Shukla

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस