नैनीताल, जेएनएन : हाईकोर्ट ने दपटि कांडा बागेश्वर में अवैध रूप से किए जा रहे खड़िया खनन के खिलाफ दायर जनहित याचिका पर मंगलवार को सुनवाई की। कोर्ट ने मामले में डीएम बागेश्वर से 20 मार्च तक पर्यावरण बोर्ड के अनुमति प्रमाण पत्र व पूर्व में की गई जांच की रिपोर्ट पेश करने को कहा है। सुनवाई के दौरान सरकार की तरफ से कहा गया कि खनन के लिए पर्यवरण बोर्ड की उनको अनुमति मिली हुई है और प्रशासन द्वारा पूर्व में इसकी जांच भी की गई है। कोर्ट ने इस पर जिलाधिकारी से रिपोर्ट पेश करने को कहा है।

मुख्य न्यायाधीश न्यायमूर्ति रमेश रंगनाथन व न्यायमूर्ति आरसी खुल्बे की खंडपीठ में दपटि कांडा बागेश्वर निवासी बलवंत धामी की जनहित याचिका पर सुनवाई हुई। याचिका में कहा गया है कि उनके गांव में कुछ लोगों द्वारा खड़िया  खनन किया जा रहा है परन्तु उनके द्वारा लीज पर दिए गए पट्टों के अलावा गांव के अन्य लोगों की भूमि से भी खनन किया जा रहा है। जिसकी शिकायत उनके द्वारा प्रसाशन से की गई लेकिन अभी तक कोई कार्यवाही नहीं की गई उल्टा एसडीएम ने उनके खिलाफ मुकदमा दर्ज कर दिया।

यह भी पढ़ें : पंत विवि में नौकरी दिलाने के नाम पर धोखाधड़ी करने का आरोपित पंतनगर थाने से फरार

यह भी पढ़ें : हाईकोर्ट ने जिलेवार फर्जी टीचरों की जांच कर 15 अप्रैल तक शिक्षा सचिव से मांगी रिपोर्ट

Posted By: Skand Shukla

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस