रुड़की, जेएनएन। रुड़की नगर निगम के चुनाव में 64.47 फीसद मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया है। कुछ बूथों पर मामूली नोकझोंक हुई, लेकिन किसी तरह की बड़ी घटना नहीं हुई। मतदान पूरी तरह से शांतिपूर्वक संपन्न हो गया है। मतगणना 24 नवंबर को बीएसएम इंटर कॉलेज में होगी। मतदान के बाद मेयर पद के दस और पार्षद पद के 212 उम्मीदवारों का भाग्य मतपेटी में बंद हो गया है। इस बार आइआइटी में बनाए गए बूथ में सबसे कम मतदान प्रतिशत रहा है। नगर निगम के चुनाव के लिए 53 मतदान केंद्र एवं 149 मतदान बूथ बनाए गए थे। 

शुक्रवार को रुड़की नगर निगम के चुनाव में सुबह आठ बजे से मतदान शुरू हो गया था। कई मतदान केंद्रों पर सुबह से ही लंबी लाइन लगाना शुरू हो गई थी। रुड़की में खंजरपुर समेत कई मतदान केंद्रों पर शाम सात बजे तक वोट डाले गए हैं। मतदान संपन्न होने तक कुल 64.47 फीसद मतदान हुआ है।

सबसे कम मतदान आइआइटी रुड़की में हुआ। यहां पर 46.6 फीसद लोगों ने ही अपने मताधिकार का प्रयोग किया है। इसके साथ मेयर पद के दस और 40 वार्डों में पार्षद पद के लिए 212 उम्मीदवारों का भाग्य मतपेटियों में कैद हो गया है। अब 24 नवंबर को सुबह आठ बजे से बीएसएम स्थित मतगणना केंद्र पर मतगणना होगी। चार राउंड में गिनती होगी। रात्रि दस बजे तक सभी परिणामों के आने की उम्मीद है। 

यह  भी पढ़ें: राजकीय शिक्षक संघ की प्रांतीय कार्यकारिणी का कार्यकाल बढ़ा, उठे विरोध के स्वर

बुजुर्ग और दिव्यांग भी मताधिकार का प्रयोग करने में नहीं रहे पीछे

नगर निगम चुनाव में अपने मताधिकार का प्रयोग करने में बुजुर्ग और दिव्यांग भी पीछे नहीं रहे। लगभग सभी बूथों पर बुजुर्ग एवं दिव्यांग वोट डालने के लिए पहुंचे। ऐसे में उनके जज्बे को हर किसी ने सलाम किया। 

वोट डालने को लेकर जहां शहर की महिलाओं एवं युवाओं में खासा उत्साह देखने को मिला। वहीं उम्र के अंतिम पड़ाव में पहुंच चुके बुजुर्गों ने भी अपने मत का प्रयोग करके अपने कर्तव्य का निर्वाह किया। कोई बुजुर्ग अपने बच्चों की गोद में मतदान केंद्र तक पहुंचा तो कोई ई-रिक्शा, तो कोई अपनों का सहारा लेकर बूथ तक आया। वहीं वोट डालने में दिव्यांग भी पीछे नहीं रहे।

उन्होंने भी बढ़-चढ़कर अपने मताधिकार का प्रयोग किया। खंजरपुर निवासी 65 वर्षीय कमला देवी अपने बेटे का सहारा लेकर बूथ तक पहुंची। इनको चलने में दिक्कत होने के बावजूद उन्होंने बूथ तक आकर अपने वोट के अधिकार का इस्तेमाल किया। इसी प्रकार से 85 वर्षीय किशन देवी को भी उनका बेटा बूथ तक लाया। जबकि दिव्यांग नीरज कुमार भी उत्साह के साथ वोट डालने के लिए मतदान केंद्र पहुंचे। 

मतदान के दौरान तैनात भारी पुलिस बल

नगर निगम के मतदान के लिए शहर में व्यापक पुलिस एवं सुरक्षा बल तैनात रहा। 53 मतदान केंद्र और शहर में सुरक्षा व्यवस्था के लिए 856 पुलिसकर्मी एवं तीन कंपनी पीएसी तैनात की गई। इसके अलावा शहर के सभी बोर्डर मार्ग पर चेकिंग जारी रही। ढंडेरा, मलकपुर चुंगी, रामनगर, सलेमपुर आदि सहित विभिन्न मार्गों पर पुलिस ने वाहनों की चेकिंग की।

यह भी पढ़ें: उत्‍तराखंड में जल्द हो सकता है मंत्रिमंडल का विस्तार, पढ़िए पूरी खबर

Posted By: Sunil Negi

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप