रुड़की, जेएनएन। अपने बयानों को लेकर सुर्खियों में रहने वाली फायर ब्रांड हिंदू नेता साध्वी प्राची ने भोपाल की सांसद प्रज्ञा की पैरवी की है। उन्होंने सवाल उठाया कि भारत माता का अपमान करने वाले सांसद आजम खान को संसद से क्यों नहीं निकाला गया। प्राची ने ये भी कहा कि कांग्रेस और वामपंथी विचार धारा के लोग प्रज्ञा के पीछे पड़े हुए हैं।

फायर ब्रांड हिंदू नेता साध्वी प्राची अकसर अपने बयानों से सियासी हलचल तेज कर देती हैं। एकबार फिर से उन्होंने अपनी राय बेबाक तरीके से रखी। साथ ही कांग्रेस पार्टी को आड़े हाथ लिया। शनिवार को हरिद्वार जिले के रुड़की पहुंची साध्वी प्राची ने मीडिया से बातचीत की। इस दौरान उन्होंने कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा। साध्वी प्राची ने कहा कि कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी में संस्कार नहीं है। भगवा आतंकवाद के मुद्दे पर राहुल गांधी ने माफी नहीं मांगी। उन्होंने कहा कि महिलाओं की बेइज्जती करने वाले लोग संसद में बैठ रहे हैं। 

साध्वी ने कहा कि श्यामा प्रसाद मुखर्जी की हत्या के लिए कांग्रेस दोषी है। इसी तरह से लाल बहादुर शास्त्री, नेताजी सुभाष चंद्र बोस की मौत का जिम्मेदार भी यही पार्टी है। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मांग की कि है इसकी जांच कराई जानी चाहिए। साध्वी ने कहा, सांसद साध्वी प्रज्ञा के साथ क्या हुआ यह कौई नहीं जानता है। साध्वी प्रज्ञा ठाकुर ने संसद की मर्यादा का पालन करते हुए माफी मांग ली है।

यह भी पढ़ें: युवा कांग्रेस में खुलकर सामने आई गुटबाजी, एक गुट ने किया हवन तो दूसरे गुट ने फूंका पुतला

बता दें कि साध्वी प्रज्ञा ने सदन में नाथूराम गोडसे को देशभक्त बता दिया था, जिससे बवाल मच गया था। हालांकि, मामला बढ़ता देख साध्वी प्रज्ञा ने अपने बयान पर माफी मांग ली थी। साथ ही कहा था कि उनके बयान को तोड़मरोड़ कर पेश किया जा रहा है।  

यह भी पढ़ें: कांग्रेस ने भाजपा को लिया आड़े हाथ, कहा-नए क्षेत्रों से टैक्स न वसूलने के वादे से मुकरे

Posted By: Raksha Panthari

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस