हरिद्वार, जेएनएन। सिडकुल थानाक्षेत्र में प्रेमी के शादी करने से इन्कार करने पर एक युवती ने फांसी लगाकर जान दे दी। युवती सिडकुल की एक कंपनी में सिक्योरिटी गार्ड की नौकरी करती थी। पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम कराते हुए प्रेमी की तलाश शुरू कर दी है।

पुलिस के मुताबिक बदांयू उत्तरप्रदेश निवासी युवती का परिवार सिडकुल की रावली महदूद गांव में किराए के मकान में रहता है। करीब चार साल से युवक के साथ उसका प्रेम प्रसंग चल रहा था। युवती अपने प्रेमी से शादी करने के लिए कह रही थी। प्रेमी लगातार उसे टाल रहा था। 

युवती के डयूटी से घर आने के बाद युवती की मां पड़ोस में रिश्तेदार के घर चली गई। उसका भाई सब्जी की दुकान पर चला गया। इस दौरान युवती ने अपने प्रेमी को फोन किया था। इसके बाद युवती ने चुन्नी का फंदा बनाया और पंखे से लटककर जान दे दी। युवती के स्वजन घर लौटे तो शव लटका देख दंग रह गए। 

सिडकुल थानाध्यक्ष लखपत बुटोला ने बताया कि युवती की आखिरी बातचीत उसके प्रेमी से हुई थी। प्रथम दृष्टया यह माना जा रहा है कि प्रेमी के शादी से इन्कार करने पर युवती ने खुदकशी की है। मामले की जांच की जा रही है।

दहेज हत्या के आरोप में ससुरालियों पर केस

लक्सरी गांव में विवाहिता की मौत के मामले में उसके स्वजनों ने विवाहिता के पति व ससुराल पक्ष के लोगों पर दहेज के लिए प्रताड़ित करने और उसकी हत्या करने का आरोप लगाया है। पुलिस ने मृतका के पति व ससुरालियों पर मुकदमा दर्ज किया।

लक्सरी गांव निवासी अंकित की पत्नी आरती की तीन जुलाई को संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई थी। मामले में मृतका के भाई आशीष निवासी शकरपुर थाना पुरकाजी ने तहरीर दी थी। आरती की शादी दस फरवरी 2019 को अंकित से हुई थी। 

यह भी पढ़ें: देहरादून में तीन युवकों ने की आत्महत्या, काफी वक्त से जूझ रहे थे अवसाद में 

तहरीर पर पुलिस ने मृतका के पति अंकित, ससुर कृष्णपाल, सास बेबी व अंकित की बुआ संगीता व फूफा सुदामा निवासीगण देहरादून के खिलाफ दहेज हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया है। उधर, ससुराल पक्ष के लोगों का कहना है कि विवाहिता को दौरे पड़ते थे। इसके चलते उसकी मौत हुई है। हत्या का आरोप पूरी तरह गलत है।

यह भी पढ़ें: देहरादून में विवाहिता समेत तीन ने फांसी लगाकर की आत्महत्या Dehradun News

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस