ऋषिकेश, [जेएनएन]: श्रीलंका में चल रहे तृतीय स्टूडेंट ओलंपिक इंटरनेशनल गेम्स- 2017 में ऋषिकेश के युवा पहलवान लाभांशु शर्मा ने पाकिस्तान के पहलवान को करारी शिकस्त देकर भारत की झोली में स्वर्ण पदक डाला। उन्होंने 120 किलोग्राम भार वर्ग की फ्री-स्टाइल कुश्ती में यह सफलता हासिल की।

स्टूडेंट ओलंपिक काउंसिल के सहयोग से स्टुडेंट ओलंपिक एसोसिएशन ऑफ श्रीलंका के तत्वावधान में आयोजित  कोलंबो शहर में 26 से 30 जुलाई तक तृतीय स्टूडेंट ओलंपिक इंटरनेशनल गेम्स का आयोजन किया जा रहा है। जिसमें कुश्ती सहित फुटबॉल, एथलेटिक्स व जूड़ो खेलों में दस देशों के खिलाड़ी शिरकत कर रहे हैं। रविवार को कोलंबो में फ्री-स्टाइल कुश्ती 120 किलोग्राम भार वर्ग के फाइनल में भारत के लाभांशु शर्मा की भिड़ंत पाकिस्तान के पहलवान के साथ हुई। रोमांचक मुकाबले में लाभांशु ने पाकिस्तानी खिलाड़ी को (8-6) से हराकर स्वर्ण पदक पर कब्जा जमाया। दैनिक जागरण को दूरभाष पर जानकारी देते हुए लाभांशु शर्मा ने बताया कि लीग राउंड के पहले मुकाबले में उन्हें वॉक ओवर मिला। जबकि दूसरा मुकाबला में मलेशिया के पहलवान से हुआ। जिसमें उन्होंने (10-0) से एकतरफा जीत दर्ज कर सेमीफाइनल में प्रवेश किया। जहां उनका मुकाबला श्रीलंका के पहलवान के साथ हुआ और लाभांशु ने (6-0) से श्रीलंका के पहलवान को मात देते हुए फाइनल राउंड में जगह बनाई। लाभांशु शर्मा ऋषिकेश के चंद्रेश्वर नगर के रहने वाले हैं और वर्तमान में वह गुरुकुल कांगड़ी विवि में शारीरिक शिक्षा प्रथम वर्ष का छात्र है। इसी वर्ष लाभांशु ने नेशनल स्कूल गेम्स में भी उत्तराखंड के लिए स्वर्ण पदक हासिल किया था। लाभांशु ने बताया कि मुकाबले में स्वर्ण पदक जीतने के बाद भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली से भी उनकी मुलाकात हुई। लाभांशु की इस उपलब्धि पर तीर्थनगरी के कई संगठनों ने उन्हें बधाई दी। 

 

 यह भी पढ़ें: एकता और मानसी बोलीं, 'जो गलतियां की हैं, अब उनसे सीखेंगे'

 

यह भी पढ़ें: राष्ट्रीय तीरंदाजी में उत्तराखंड के हिम्मत ने जीता कांस्य पदक

यह भी पढ़ें: ध्रुव नेगी, धनवंत्री व हेमा बिष्ट की बैडमिंटन में खिताबी जीत

Posted By: Sunil Negi