देहरादून, जेएनएन। आंबेडकर स्टेडियम में आयोजित 23वें विरासत समारोह के दसवें दिन वडाली ब्रदर्स ने अपनी सूफियाना आवाज से सबको मंत्रमुग्ध कर दिया। इस दौरान मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने बतौर मुख्य अतिथि शिरकत की। 

वडाली ब्रदर्स के मंच पर आते ही तालियों से स्टेडियम गूंज उठा। माहौल ऐसा था कि स्टेडियम में पैर रखने तक की जगह नहीं थी। जैसा ही उन्होंने तू माने या न माने दिलदारा..., दमा दम मस्त कलंदर... गाना गाया स्टेडियम सीटियों की आवाज से गूंज उठा। लोग अपनी जगह से उठकर तालियां बजाने लगे। इस दौरान कर्नाटिक संगीत के उभरते कलाकार अभिषेक रघुराम ने भी प्रस्तुति दी।

इस मौके पर सीएम ने कहा कि विरासत कार्यक्रम अपनी संस्कृति को सजोने का सराहनीय पहल है। उन्होंने कहा कि देश के शास्त्रीय एवं लोक संगीत की तमाम विधाओं को एक स्थान पर लाने का प्रयास भी सराहनीय है। उन्होंने इस अवसर पर पदमश्री पूरन चंद वडाली सहित अन्य कलाकारों को सम्मानित भी किया।

यह भी पढ़ें: एमटीवी के रियलटी शो मिस्टर एंड मिस-7 स्टेट में नजर आएंगे जौनसार के अभिनव

वॉक के माध्यम से जाना दून का इतिहास

सुबह द कोलोनियल एंड अफग़़ान लिंक्स हेरिटेज वॉक की गई। वॉक गांधी पार्क से शुरू हुई और क्लॉक टॉवर पर सुबह साढ़े आठ बजे समाप्त हुई। सभी प्रतिभागियों को एस्लेहॉल, सर्वे चौक, रेंजर्स कॉलेज और क्लॉक टॉवर जैसी जगहों पर ले जाया गया और इन स्थानों के इतिहास के बारे में अवगत कराया गया। इस दौरान क्लासिक कार और बाइक रैली भी निकाली गई। जिसकी शुरुआत आंबेडकर स्टेडियम से हुई। लगभग 100 से ज्याद विंटेज वाहनों ने इस रैली में भाग लिया।

यह भी पढ़ें: चेहरा ढककर मंदिर पहुंचे सुपरस्टार रजनीकांत, आम श्रद्धालु की तरह किए बदरी-विशाल के दर्शन

Posted By: Bhanu

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप