राज्य ब्यूरो, देहरादून: UKSSSC Paper Leak Case विभिन्न विभागों में स्नातक स्तर की भर्ती परीक्षा में अनियमितता को लेकर विवादों में आए उत्तराखंड अधीनस्थ सेवा चयन आयोग (UKSSSC) के सचिव संतोष बडोनी को सरकार ने हटा दिया।

सचिव सुरेंद्र रावत को सौंपी जिम्‍मेदारी

उनके स्थान पर सचिवालय में संयुक्त सचिव सुरेंद्र सिंह रावत को आयोग में सचिव पद की अतिरिक्त जिम्मेदारी सौंपी गई है। साथ में आयोग में लंबे समय से रिक्त चल रहे परीक्षा नियंत्रक के पद पर पीसीएस अधिकारी शालिनी नेगी को तैनात किया गया है।

  • उत्तराखंड अधीनस्थ चयन सेवा आयोग (UKSSSC) की स्नातक पदों पर भर्ती परीक्षा विवादों में घिर चुकी है।
  • इस परीक्षा का पेपर लीक होने की शिकायत के बाद इसकी जांच एसआइएफ (STF) को सौंपी गई।
  • इस मामले में आरोपितों की गिरफ्तारी का सिलसिला लगातार चल रहा है।

आयोग के अध्यक्ष दे चुके हैं इस्तीफा

एसटीएफ 18 व्यक्तियों को गिरफ्तार कर चुकी है। भर्ती परीक्षा में गड़बड़ी को लेकर आयोग के निशाने पर आने के बाद अध्यक्ष पद से सेवानिवृत्त आइएएस एस राजू ( Retired IAS S Raju) इस्तीफा दे चुके हैं। एस राजू सितंबर, 2016 से इस पद पर कार्यरत थे। उनका इस्तीफा अभी स्वीकृति की प्रक्रिया में है।

कार्यकाल समाप्‍त होने के 15 दिन पहले हटाया

अब शासन ने कड़ा रुख अपनाते हुए आयोग के सचिव ( UKSSSC Secretary ) संतोष बडोनी को भी पद मुक्त कर दिया है। सचिवालय सेवा के संयुक्त सचिव संतोष बड़ोनी सितंबर 2014 से इस पद पर कार्यरत थे। उनका कार्यकाल 31 अगस्त को समाप्त हो रहा था। 15 दिन पहले ही शासन ने उन्हें हटा दिया।

शालिनी नेगी को परीक्षा नियंत्रक के रूप में तैनाती

आयोग में पीसीएस शालिनी नेगी को परीक्षा नियंत्रक (Examination Controller) के रूप में तैनाती दी गई दी है। आयोग में परीक्षा नियंत्रक का पद नवंबर, 2021 को रिक्त हो गया था। इसके बाद से ही यह दायित्व भी आयोग के सचिव संतोष बडोनी के पास था।

UKSSSC Paper Leak Case: STF ने पेपर लीक मामले में मास्टरमाइंड भाजपा नेता को उत्‍तरकाशी से दबोचा

Edited By: Sunil Negi