देहरादून, जेएनएन। वसंत विहार थाना क्षेत्र में सोशल नेटवर्किंग पर बिजनेस करने वाली व्यापारी ने खुदकुशी कर ली। बताया जा रहा है कि तनाव के चलते उसने यह कदम उठाया। सुसाइड नोट में व्यापारी ने आत्महत्या के लिए खुद को जिम्मेदार बताया। 

एसओ नत्थीलाल उनियाल ने बताया कि किसी ने फोन पर सूचना दी कि उसके पिता कमरे का दरवाजा बंद करके खुदकुशी का प्रयास कर रहे हैं। सूचना पर चीता कर्मचारी व चौकी प्रभारी इंदिरा नगर मौके पर पहुंचे जहां स्वजनों ने पंखे से लटके व्यक्ति को नीचे उतार दिया था। एंबुलेंस के माध्यम से व्यक्ति को अस्पताल भेजा गया, चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया है। 

मृतक की पहचान रंजन सिंह मूल निवासी चिराचास बोकारो झारखंड हाल निवासी कृष्णा विला साईं लोक फेस दो के रूप में हुई है। एसओ ने बताया कि कमरे पर तलाशी के दौरान एक सुसाइड नोट बरामद हुआ है जिसमें उनके द्वारा तनाव में होना तथा आत्महत्या का स्वयं जिम्मेदार होना अंकित किया गया है। 

घर में घुसकर छेड़छाड़ का आरोप

प्रेमनगर थाना क्षेत्र निवासी महिला ने एक व्यक्ति पर जबरन घर में घुसकर छेड़छाड़ करने का आरोप लगाया है। एसओ धर्मेंद्र रौतेला के अनुसार महिला ने बताया कि उसकी शादी 10 साल पहले हुई थी। वर्ष 2015 में उसका तलाक हो गया। इसके बाद रुबिन नाम के व्यक्ति से महिला की जान-पहचान हो गई। 

महिला का आरोप है कि रुबिन अक्सर घर में घुसकर उससे छेड़छाड़ करता है और विरोध करने पर जान से मारने व तेजाब डालने की धमकी देता है। आरोपित शादीशुदा है और उसके बच्चे भी हैं। महिला की तहरीर पर प्रेमनगर थाना पुलिस ने आरोपित के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है।

लॉकडाउन में कराया खेती का काम, पैसे मांगने पर की पिटाई

विकासनगर कोतवाली अंतर्गत आमवाला भूड़ में लॉकडाउन के दौरान गेहूं कटाई आदि कार्य कराने के बाद मजदूर ने जब पैसे मांगे तो उसके साथ काश्ताकार ने मारपीट कर दी। पीड़ित श्रमिक ने उप जिला चिकित्सालय में अपना उपचार कराने के बाद डाकपत्थर चौकी में तहरीर दी। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

आमवाला भूड़ निवासी अमर ङ्क्षसह ने डाकपत्थर चौकी में दी तहरीर में कहा कि लॉकडाउन के दौरान उसे गांव के ही एक व्यक्ति ने खेत में गेहूं काटने व अन्य कार्य के लिए चार सौ रुपये दिहाड़ी के हिसाब से मजदूरी पर रखा। 14 दिनों तक वह रोजाना गेहूं कटाई व खेतों से पत्थर चुगान आदि कार्य किया। 

पीड़ित ने तहरीर में कहा कि वह रोज सुबह खेत में काम करने के लिए जाता था, देर शाम तक वह काम लेता रहता था। 24 मई को जब उसने अपनी मजदूरी मांगी तो काश्तकार समेत दो अन्य लोगों ने उसके साथ मारपीट कर दी। और उसे जातिसूचक शब्द भी कहे। आरोप है कि लोहे की रॉड से काश्तकार व अन्य दोनों से उसे पीटा और फरार हो लिए।

यह भी पढ़ें: आत्महत्या के लिए उकसाने के आरोप में युवक के खिलाफ मुकदमा दर्ज Dehradun News

किसी तरह से वह ग्रामीणों की मदद से अस्पताल पहुंचा और उपचार कराया। पीड़ित ने गांव के ही दो लोगों के खिलाफ मजदूरी के रुपये न देने पर तहरीर दी। उधर, चौकी प्रभारी डाकपत्थर मुकेश कुमार के अनुसार गांव में जाकर मामले की जांच की जाएगी।

यह भी पढ़ें: युवती के मौत मामले में प्रभारी कोतवाल से मिले कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष

Posted By: Bhanu Prakash Sharma

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस