ऋषिकेश, जेएनएन। संस्था में काम दिलवाने का लालच देकर कई लोगों के नाम पर फाइनेंस कंपनी से वाहन खरीदकर फरार हुए दो इनामी आरोपितों को मुनिकीरेती पुलिस व एसओजी की टीम ने गिरफ्तार किया है। 

इस संबंध में वर्ष 2017 में ढालवाला निवासी पदम ङ्क्षसह नेगी ने मुनिकीरेती थाने में मुकदमा दर्ज कराया था। उन्होंने अवगत कराया था कि संस्था में काम दिलाने का झांसा देकर उन्हें और करीब आधा दर्जन अन्य लोगों के साथ कुछ लोगों ने ठगी की है। आरोप था कि उक्त लोगों ने उनके नाम पर फाइनेंस कंपनी से छह स्कूटी, एक बाइक, दो स्विफ्ट कार और एक ट्रक लिया है। 

वाहन खरीदने के बाद उक्त लोग वाहनों को लेकर ही फरार हो गए। जिस पर पुलिस ने अमित शर्मा व अमन शर्मा  निवासी रुड़की हरिद्वार, कपिल निवासी खेडा जाट हरिद्वार व कुलदीप निवासी चांदपुर बिजनोर के खिलाफ संबंधित धाराओं में मुकदमा दर्ज किया था। इस मामले में आरोपितों के पते सही न मिलने पर वर्ष 2018 में तत्कालीन विवेचना अधिकारी ने फाइनल रिपोर्ट लगा दी थी। 

पुलिस महानिरीक्षक गढ़वाल परिक्षेत्र के आदेश से यह विवेचना पुन: प्रभारी निरीक्षक मुनिकीरेती आरके सकलानी को सौपी गई। प्रभारी निरीक्षक आरके सकलानी ने बताया कि आरोपितों के वर्तमान पते जानने के लिए एसओजी टिहरी की मदद ली गई और फरार चल रहे अमित शर्मा और अमन शर्मा पर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक टिहरी की ओर से इनाम घोषित किया गया था। 

यह भी पढ़ें: आरपी ईश्वरन के घर डकैती का एक और आरोपित गिरफ्तार Dehradun News

उन्होंने बताया कि एसओजी प्रभारी आशीष कुमार की मदद से पुलिस ने शनिवार को इन दोनों आरोपितों को दिल्ली से गिरफ्तार कर लिया है। उनसे संबंधित मामले से जुड़ी एक मोटरसाइकिल ओर एक स्कटी भी बरामद की गयी है। जबकि अन्य वाहनों के संबंध में पूछताछ की जा रही है। उन्होंने बताया कि आरोपित इन दोनों युवकों पर थाना सिडकुल, थाना कनखल व थाना ज्योतिनगर दिल्ली में भी धोखाधड़ी के मामले दर्ज हैं। 

यह भी पढ़ें: लाखों के जेवर-नगदी के साथ तीन शातिर चोर गिरफ्तार Haridwar News

 

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस